मुख्यमंत्री ऋण फसल योजना : उद्यान अधिकारी ने कहा-डीडीए साहब आप को पांच लाख खर्च करने का बजट मिला है हमारे पास तो वाहन तक नहीं

जिला पंचायत कृषि स्थायी समिति की बैठक कोरम के अभाव में स्थगित, अगली बैठक समिति अध्यक्ष ने 6 मार्च को बुलाई

By: Rajesh Patel

Updated: 02 Mar 2019, 12:02 PM IST

रीवा. जिला पंचायत कृषि स्थायी समिति की बैठक कोरम के अभाव में स्थगित कर दी गई। बैठक की अगली संभावित तिथि 6 मार्च को रखी गई है। बैठक में मुख्यमंत्री ऋण फसल योजना के साथ ही गर्मी के सीजन में बोयी जाने वाली फसलों और सिंचाई योजना पर चर्चा की जानी थी।

डीडीए बोले, शासन की गाइड लाइन से करें काम
सहायक संचालक उद्यानकी योगेश कुमार पाठक ने डीडीए साहब ऋणमाफी योजना के लिए हमारी ड्यूटी हनुमना लगा दी गई है। ऋणमाफी शिविर के लिए आप के विभाग को पांच लाख रुपए खर्च करने का बजट मिला है। हमारे पास तो वाहन तक नहीं हैं। आप ही बताएं कैसे काम करेंगे। जवाब में डीडीए ने कहा, शासन की गाइड लाइन के तहत ही फील्ड में काम करना पड़ेगा।

एजेंडे पर औपचारिक चर्चा
बैठक में कृषि विभाग सहित विभिन्न विभागों से पहुंचे अधिकारियों को समिति के अध्यक्ष लल्लू कुशवाहा ने बताया कि समिति के दो सदस्य आए हैं। इस लिए कोरम के आभाव में बैठक स्थतगित कर सर्वसम्मत से 6 मार्च को बैठक की तिथि निर्धारित की गई है। इस दौरान एजेंडे से हटकर योजनों को लेकर औपचारिक चर्चा की गई।

सरकारी संस्थाओं को क्रेडिट पर खाद दे दीजिए
इस दौरान उद्यान अधिकारी ने विपणन विभाग के प्रबंधक से कहा, क्रेडिट पर खाद दे दीजिए, नर्सरी प्रोडक्शन प्रभावित हो रहा है। जवाब में प्रबंधक बोले, नगद जमा करने पर ही खाद मिलेगा। दोबारा उद्यान अधिकारी ने कहा, ट्रेजरी में बगैर बिल लगाए भुगतान हीं किया जा रहा है। सरकारी विभाग को तो खाद दे दीजिए। जिला विपणन अधिकारी पीके परौहा ने कहा शासन से गाइड लाइन मांगी है। इस दौरान समिति के अध्यक्ष ने प्याज की बुआई को लेकर यूरिया, डीएपी खाद समितियों पर उपलब्ध कराने के लिए कहा है।

ये रहे मौजूद
बैठक में डीडीए जिपं सदस्य शिवकली नट, कृषि वैज्ञानिक डॉ. अखिलेश कुमार, केएन सिंह, एग्रो प्रबंधक यूआर सिंह, शिवेन्द्र ङ्क्षसह, सीसीवी सीइओ व्हीएम गौतम सीसीवी ममता पटेल, सीसीवी एएफओ संजय श्रीवास्त, वेटनरी से राजेन्द्र ङ्क्षसह, डीपी सिंह आदि अधिकारी मौजूद रहे।

 

 

Rajesh Patel Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned