एपीएसयू में परीक्षा के लिए आवेदन जमा करने का समय 20 जून तक

विलंब शुल्क के साथ 27 जून तक जमा किए जा सकेंगे आवेदन

 

By: Balmukund Dwivedi

Updated: 07 Jun 2020, 01:14 AM IST

रीवा. लॉकडाउन की वजह से अवधेश प्रताप सिंह विश्वविद्यालय की परीक्षाएं स्थगित की गई थी, जिन्हें अब फिर से कराने की तैयारी की जा रही है। कुछ दिन पहले ही सरकार ने कहा है कि 29 जून से 31 जुलाई तक परीक्षाएं आयोजित की जा सकेंगी। विश्वविद्यालय ने परीक्षाओं का कार्यक्रम अभी घोषित नहीं किया है लेकिन परीक्षा के लिए आवेदन फार्म जमा किए जाने की प्रक्रिया प्रारंभ की गई है। यह आगामी 20 जून तक जमा किए जा सकेंगे। इसके बाद विलंब शुल्क के साथ आवेदन स्वीकार किए जाएंगे, इसके लिए परीक्षा प्रारंभ होने से दो दिन पहले 27 जून तक आवेदन लिए जाएंगे। एमपी ऑनलाइन के माध्यम से परीक्षा का आवेदन शुल्क जमा किया जा सकेगा। कुलसचिव द्वारा जारी किए गए आदेश में कहा गया है कि बीएससी, बीए, बीकाम पाठ्यक्रमों के द्वितीय, चतुर्थ एवं षष्टम सेमेस्टर के साथ ही विधि के द्वितीय, चतुर्थ एवं षष्टम सेमेस्टर के साथ ही स्नातकोत्तर, एमबीए, एमएसडब्ल्यू के द्वितीय एवं चतुर्थ सेमेस्टर, पीजीडीसीए के द्वितीय सेमेस्टर आदि के साथ ही नियमित, भूतपूर्व एवं एटीकेटी के छात्र परीक्षा आवेदन जमा कर सकेंगे।

अंतिम विलंब शुल्क 1500 रुपए लगेगा
विश्वविद्यालय ने आगामी 20 जून तक सभी परीक्षार्थियों को आवेदन जमा करने का अवसर दिया है। इसके बाद विलंब शुल्क के साथ आवेदन जमा किए जाएंगे। २१ से २६ जून के बीच 350 रुपए विलंब शुल्क के साथ आवेदन जमा होंगे। वहीं 27 जून से परीक्षा प्र्रारंभ होने के तीन दिन पहले तक 1500 रुपए विलंब शुल्क के साथ आवेदन जमा किया जा सकेगा।

बीएड की भी होंगी परीक्षाएं
अभी तक सरकार ने स्नातक और स्नातकोत्तर कक्षाओं की परीक्षा आयोजित करने का निर्देश दिया था। इस पर बीएड एवं अन्य परीक्षाओं से जुड़े अभ्यर्थी लगातार संपर्क में थे कि इनकी परीक्षाएं कब होंगी। विश्वविद्यालय ने जारी आदेश में कहा है कि बीएड, बीएससी बीएड, बीएलएड आदि की परीक्षाओं के लिए भी पांच जून से परीक्षा का आवेदन फार्म जमा किया जा रहा है। इसे 20 जून तक जमा किया जा सकेगा। इसमें भी विलंब शुल्क अन्य कक्षाओं की तरह जमा कर आवेदन स्वीकार किया जाएगा।

Balmukund Dwivedi Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned