Video किसानों को इस तरह भी किया जा रहा है प्रशिक्षित, ताकि बेहतर हो पैदावार

Manish Kumar Dubey | Updated: 11 Jul 2019, 03:24:01 PM (IST) Sagar, Sagar, Madhya Pradesh, India

किसानों को इस तरह भी किया जा रहा है प्रशिक्षित, ताकि बेहतर हो पैदावार

सीजन के अनुसार दी जाती है सलाह, कृषि के अलावा पशुपालन, मौसम, बीज की उपलब्धता की भी जानकारी
सागर. कृषि विज्ञान केंद्र (केवीके) ने इस साल खेती-किसानी को लेकर जानकारी, सुझाव और फसलों को सुरक्षित रखने के उपाय संबंधी २.९० करोड़ से ज्यादा मैसेज किसानों को भेजे हैं। कृषि वैज्ञानिकों की राय पर भेजे गए इन मैसेज से लाखों किसान इसका लाभ रहे हैं और इसका लाभ उन्हें फसलों में होने वाले फायदे के रूप में मिल रहा है। यदि जिले की बात करें तो यहां पर केवीके से करीब ७८ हजार किसानों को मैसेज भेजे गए हैं, इनमें से कृषि संबंधी मैसेज की संख्या ७४ हजार से ज्यादा है।
केवीके सागर से मिली जानकारी के अनुसार यहां पर जिले के करीब ७४९३१ एेसे किसान हैं, जिन्हें सीजन के अनुसार मैसेज भेजे जाते हैं। इसमें सीजन के समय किसानों को सप्ताह में दो बार मैसेज भेजते हैं, जिसमें तकनीकि मैसेज होते हैं। इसके अलावा बीज उपचार, मैन क्रॉप, पशुपालन, मौसम, कीटों से बचाव के उपाय, उद्यानिकी आदि से जुड़े मैसेज शामिल होते हैं। उदाहरण के लिए वर्तमान में फॉल आर्मीवार्म नाम का कीट मक्का की फसल को बर्बाद कर रहा है, फसल को बचाने के लिए केवीके उपाय संबंधी मैसेज किसानों तक पहुंचा रहा है।
सबसे ज्यादा बालाघाट में भेजे गए मैसेज
शासन के एम किसान डेसबोर्ड के अनुसार प्रदेश में केवीके के माध्यम से २.९० करोड़ से ज्यादा मैसेज किसानों को भेजे गए हैं। जिसमें सबसे ज्यादा १ लाख ६८ हजार ३३६ किसानों को मैसेज भेजने वाला जिला बालाघाट है। इस डेसबोर्ड के अनुसार सागर प्रदेश में आठवें नंबर पर है तो ११३६६ मैसेज भेजकर अलीराजपुरा जिला सबसे पीछे है।
उन्नत किसानों का वाट्सऐप ग्रुप
केवीके वैज्ञानिकों ने बताया कि वैसे तो हजारों किसान हमसे जुड़े हुए हैं, लेकिन जिले के हर ब्लॉक के उन्नत किसानों का एक वाट्सएप ग्रुप भी संचालित किया जा रहा है। हालांकि इस ग्रुप में जुड़े २५० लोगों तक ही यह मैसेज पहुंचते हैं, लेकिन वही किसान कृषि विभाग के किसान मित्र के माध्यम से और किसानों को भी यह मैसेज भेजकर संख्या बढ़ा देते हैं। इसके अलावा समय-समय पर आयोजन कर भी किसानों को जागरूक और उन्नत खेती के लिए प्रोत्साहित किया जाता है।
यह है टॉप-10 जिले
जिला भेजे गए मैसेज
बालाघाट, 168336
उज्जैन 109902
देवास 92455
राजगढ़ 90524
मंदसौर 90429
विदिशा 87796
धार 86292
सागर 74931
छिंदवाड़ा 67584
निमाड़ 64639


&हमारा उद्देश्य ज्यादा से ज्यादा किसानों तक सही सूचना और सलाह पहुंचाना है। इसके लिए हम अभी तक अलग-अलग सलाहों को लेकर ७८ हजार से ज्यादा किसानों को मैसेज कर चुके हैं। इसका लाभ भी किसानों को मिल रहा है।
केएस यादव, वरिष्ठ कृषि वैज्ञानिक व प्रमुख, केवीके

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned