video: यहां पुलिस ने नाबालिग से की मारपीट, लड़की को अश्लील मैसेज भेजने का था संदेह, बिगड़ी हालत, पढ़ें खबर

Anuj Hazari | Publish: Jul, 23 2019 10:15:29 PM (IST) Sagar, Sagar, Madhya Pradesh, India

हालत गंभीर, सागर रेफर

बीना. युवती को अश्लील मैसेज भेजने के संदेह पर एक सोलह वर्षीय नाबालिग किशोर को पुलिस ने थाने बुलाकर जमकर पिटाई कर दी, जिससे उसकी हालत गंभीर बनी हुई है। उसे सिविल अस्पताल में भर्ती किया गया था, जहां से सागर रेफर कर दिया गया है। अस्पताल में भर्ती खिरिया वार्ड निवासी किशोर के पिता बलराम सिंह ने बताया कि ने बताया कि उसके बेटे के नाम की सिम उसका कोई दोस्त चलाता है और वह बाहर रहता है। उसी सिम से वह एक लड़की को अश्लील मैसेज भेजता है, जिसकी शिकायत लड़की के परिजनों से पुलिस में की थी। मंगलवार को पुलिस घर पहुंची और बड़े बेटे को उठाकर थाने ले आई थी। साथ ही परिजनों से कहा था कि जब छोटा भाई आ जाए तो उसे थाने भेज देना। इसके बाद शाम 6.30 बजे छोटा बेटा थाने पहुंचा तो पुलिस उसके साथ बेरहमी से मारपीट शुरू कर दी। छोटे बेटे के साथ-साथ बड़े बेटे से भी मारपीटकर दी। बड़े बेटे ने पुलिस से गुहार लगाई कि छोटा भाई बीमार है और मुझे मार लो, लेकिन उसके साथ मारपीट नहीं करो। उसके दिल में छेद है और इलाज भोपाल में चल रहा है। इसके बाद भी पुलिस ने एक न सुनी और डंडे मारते रहे। मारपीट के बाद किशोर की कमर के नीचे और पीठ पर डंडों के निशान दिख रहे हैं। मारपीट के बाद जब किशोर की हालत बिगड़ी तो पुलिस ने उसे अस्पताल में भर्ती कराने की जगह थाने से धक्का देकर बाहर कर दिया और बड़े भाई से कहा कि इसे अस्पताल लेकर जाओ। किशोर की हालत गंभीर होने पर ऑक्सीजन लगाई गई और प्राथमिक इलाज के बाद उसे सागर रेफर कर दिया गया है। घटना की सूचना मिलते ही बड़ी संख्या में लोग अस्पताल पहुंच गए थे और मारपीट करने वाले पुलिसकर्मियों पर सख्त कार्रवाई करने की मांग की है। यदि कार्रवाई नहीं हुई तो थाने घेराव करने की चेतावनी दी है।
मामला बिगड़ता देख अस्पताल पहुंचे एसडीओपी
किशोर के भर्ती होने के बाद एक घंटे तक कोई भी पुलिसकर्मी अस्पताल नहीं पहुंचा, लेकिन जब मामला तूल पकडऩे लगा तो एसडीओपी अस्पताल पहुंचे थे और किशोर के पिता से घटना की जानकारी ली। इसके बाद उसे रेफर कर दिया गया।
कर रहे हैं जांच
युवती ने अश्लील मैसेज करने का आवेदन युवती ने थाने में दिया था और वह मैसेज जिस मोबाइल से आ रहे थे वह किशोर के नाम पर ही है, लेकिन वह कोई दोस्त चला रहा है। इसी पूछताछ के लिए थाने बुलाया था। अब मारपीट का मामला सामने आया है, जिसकी जांच की जा रही है। जांच के बाद कार्रवाई करेंगे।
धु्रवराजसिंह चौहान, एसडीओपी, बीना

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned