यहां लगातार बढ़ रही सर्दी, हृदय रोगियों को हार्ट अटैक का खतरा

यहां लगातार बढ़ रही सर्दी, हृदय रोगियों को हार्ट अटैक का खतरा

Reshu Jain | Publish: Jan, 05 2018 10:30:01 AM (IST) Sagar, Madhya Pradesh, India

वुलन मार्केट गर्म, अन्य बाजारों में नहीं उठाव - अगले 24 घंटे में शीतलहर के आसार

सागर. लोगों की सुबह देर से हो रही है तो शहर की ज्यादातर दुकानें भी देर से खुलकर जल्दी बंद हो रही हैं। कई दुकानदार तो टाइम पास करते देखे जा रहे हैं। शादी सीजन और फिलहाल कोई तीज त्योहार न होने से मार्केट लगभग ठंडा पड़ा है। बाजार अगर गर्म है भी तो वुलन कपड़ों, गीजर, रूम हीटर, चाय-पकौड़ों की दुकानों का। उधर, मॉर्निंग वॉक पर जाने वालों की संख्या में भी खासी कमी आई है। घर में बैठे-बैठे ही पैरों में गलन का अहसास हो रहा है। सुबह के समय वाहन स्टार्ट करने में और बिना हैंड ग्लव्स के दोपहिया वाहन चलाने में लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। छोटे बच्चे बीमार हो रहे हैं सो अलग। कुल मिलाकर सर्दी के सितम से जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया है।

ऐसा रहा मौसम
गुरुवार को तापमान में थोड़ा इजाफा हुआ। अधिकतम २४.१ और न्यूनतम तापमान ७.४ डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। इसके बावजूद लोगों को राहत नहीं मिली। बुधवार को तापमान क्रमश: २२.४ और ६.८ डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था।

आगे क्या
मौसम विभाग के अनुसार उत्तर भारत से सूबे में सर्दी का प्रकोप है। आने वाले २४ घंटों में सागर संभाग में शीतलहर चल सकती है। अधिकतम तापमान २४ और न्यूनतम तापमान ८ डि. से. रहेगा।

गर्म हुआ गर्म कपड़ों का बाजार

स्कूलों की छुट्टियां खत्म होने के बाद बच्चों की परेशानी बढ़ गई है। शहर में गर्म कपड़ों की दुकानों पर भीड़ उमड़ रही है। इस बार सड़क किनारों पर भी दुकानें सज गई हैं। विक्रेता नवीन केशरवानी के अनुसार सीजन खत्म होने तक शहरभर में लगभग ५ करोड़ रुपए के कारोबार का अनुमान है।

गीजर और रूम हीटर की बिक्री बढ़ी
इलेक्ट्रॉनिक्स आइटम्स विक्रेता अविनाश चौधरी ने बताया कि पानी गर्म करने के लिए रॉड, सादा हीटर, इलेक्ट्रॉनिक गीजर की डिमांड बढ़ी है। पानी गर्म करने की रॉड 150 से 300 रुपए, इलेक्ट्रॉनिक गीजर ३००० से 5500 और रूम हीटर 500 से 1500 रुपए में बिक रहे हैं।

बसों में नहीं मिल रही सवारी

सर्दी का असर बस संचालकों पर भी पड़ा है। लोकल बसों में भी अपेक्षित सवारी नहीं मिल रहीं। कोहरे की वजह से सफर करने वाले लोगों में कमी आई है। निजी ट्रेवल्स एजेंसी में बुकिंग कर रहे शेख इरशाद ने बताया सागर से लंबी दूरी वाली बसों में सवारी में कमी आ गई है। इंदौर और नागपुर जाने के लिए सवारी कम हैं।

बच्चों और बुजुर्गों को बड़ा खतरा
- सर्दी में रक्त वाहनियां सिकुड़ जाती हैं, जिसका असर हृदय को खून पहुंचाने वाली धमनियों पर पड़ता है।

- हृदय रोगियों को हार्ट अटैक का खतरा बढ़ जाता है।
- अस्पताल में मरीजों की संख्या में भी इजाफा हुआ है।

(हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ. अमिताभ जैन के अनुसार)
- इस मौसम में बैक्टीरिया और वायरस बहुत तेजी से बच्चों पर हमला करते हैं।

- इस वजह से उन्हें सर्दी, जुकाम, खांसी, नाक बंद, गले में इन्फेक्शन, वायरल डायरिया, बुखार, सांस लेने में तकलीफ जैसी समस्याएं हो जाती हैं।
- बच्चों को ऐसी कोई भी दिक्कत होने पर तुरंत डॉक्टर को दिखाएं।

(शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ. आशीष जैन के अनुसार)

बुजुर्ग, हार्ट पेशेंट क्या करें क्या नहीं
१- मॉर्निंग वॉक पर तभी जाएं, जब कोहरा खत्म हो जाए और धूप निकल आए।

२- बीपी और शुगर लेवल लगातार चैक करते रहें।
३- हीटर या ब्लोअर का प्रयोग करने से बचें। क्योंकि इससे रूम में ऑक्सीजन की कमी हो जाती है और सांस सम्बंधी परेशानी हो सकती है।

बच्चों के लिए यह करें
१- सुबह से देर रात तक बच्चे को पूरे कपड़े पहनाएं।

२- खाली पेट कभी नहीं रखें।
३- ब्लोअर का यूज बिल्कुल न करें, रूम हीटर से काफी दूर रखें।

खानपान में ध्यान रखें

१- विटामिन सी भरपूर मात्रा में लें जैसे आंवला, नींबू, नारंगी और अमरूद खाएं।
२- गरम तासीर वाले भोजन का प्रयोग करें- जैसे गुड़, चना, तिल, ज्वार, बाजरा आदि। भोजन में सरसों, बथुआ, मेथी, सोया और पालक को शामिल करें।

३- चाय-कॉफी का प्रयोग कम करें। प्यास न लगने पर भी पानी पीयें।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned