अकेले यात्रा करने वाली महिलाओं की मददगार बन रही मेरी सहेली

सभी स्टेशन पर अभियान की हुई शुरुआत

By: anuj hazari

Published: 28 Oct 2020, 09:12 AM IST

बीना. ट्रेनों में सफर करने वाली अकेली महिला यात्रियों की सुरक्षा को लेकर रेलवे ने मेरी सहेली अभियान की शुरुआत कर दी है। अब कोई भी महिला अकेले सफर कर रही हो तो उसे डरने की जरूरत नहीं है, क्योंकि उनकी सुरक्षा मेरी सहेली करेगी। इसके लिए डीआरएम उदय बोरवणकर के निर्देश पर स्टेशनों पर आरपीएफ की महिला सिपाहियों की टीमें मुस्तैद की गई हैं। इस मुहिम में महिला सब इंस्पेक्टर के नेतृत्व में आरपीएफ द्वारा ट्रेनों में अकेली यात्रा कर रहीं महिला यात्रियों को किसी भी संभावित संकट के प्रति सतर्क रहने व ऐसे समय में अपनी सुरक्षा करने के टिप्स देने के साथ ही रेलवे की तरफ से दी जा रही सुविधाओं की जानकारी भी दी जा रही है। महिला यात्रियों की सुरक्षा के लिए रेलवे ने तीन दिन पहले देशभर में मेरी सहेली अभियान की शुरुआत की है। इस अभियान में सभी छोटी-बड़ी स्टेशनों पर महिला सिपाहियों की टीमें तैनात की गई है। यह टीमें 24 घंटे सुरक्षा और जागरूकता के इस अभियान में लगी हैं। वहीं हाल ही में भोपाल डिवीजन ने महिला यात्रियों के लिए आरपीएफ की दो महिला वाहिनी अवंती बाई व अहिल्या बाई का गठन भी किया है, जो स्टेशन और चलती ट्रेनों में महिला यात्रियों से मिलकर उन्हें यात्रा के दौरान किसी भी संभावित संकट के प्रति सतर्क रहने के लिए जागरूक कर रही हैं।

सफर में नहीं होगी महिला यात्रियों को परेशानी
आरपीएफ कमांडेंट बी. रामाकृष्णा ने बताया कि मेरी सहेली के नाम से अभियान की शुरुआत की गई है। त्योहारी सीजन में ट्रेनों में भीड़ बढ़ी है और ऐसे में सफर के दौरान महिला यात्री को परेशान न हो इसके लिए सभी स्टेशनों पर महिलाकर्मियों की ड्यूटी लगाई जा रही है। अकेली सफर करने वाली महिला यात्री के कोच व सीट नंबर की जानकारी ट्रेन में तैनात सुरक्षा बल और टीटीइ को दी जाएगी। आरपीएफ अपनी सीमा तक ऐसी महिला यात्रियों की निगरानी करेगी।

182 पर कर दें सूचना
मेरी सहेली अभियान की शुरुआत के पीछे उद्देश्य है कि महिला यात्री अपनी परेशानी बता सकें। उनके सुरक्षित सफर के लिए यह व्यवस्था की है। कोई भी समस्या आने पर महिलाएं टोल फ्री नंबर 182 पर सूचना दे सकती हैं।

anuj hazari Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned