GOOD NEWS : अब इन विषयों में भी डिग्री कॉलेज में शुरू होगी पीजी

उच्च शिक्षा विभाग ने इसकी मंजूरी दे दी है। जल्द ही अधिकृत रूप से पत्र भी शासन की ओर से मिल जाएगा।

By: आकाश तिवारी

Published: 10 Feb 2018, 04:44 PM IST

सागर. शहर के गर्ल्स डिग्री कॉलेज में नए सत्र से एमएससी मैथ्स व लाइब्रेरी साइंस में पीजी शुरू होगी। उच्च शिक्षा विभाग ने इसकी मंजूरी दे दी है। जल्द ही अधिकृत रूप से पत्र भी शासन की ओर से मिल जाएगा। नए कोर्स शुरू होने से छात्राओं को इन कोर्स में पढ़ाई करने के लिए निजी कॉलेजों का सहारा नहीं लेना पड़ेगा।
मैथ्स की ६०, लाइब्रेरी साइंस की ३० सीट होंगी
जानकारी के अनुसार एमएससी मैथ्स में ६० सीटें निर्धारित की गई हंै। वर्तमान में पीसीएम से बीएससी करने वाली छात्राएं इन सीटों के लिए दावेदारी कर सकती हैं। सीटों का आवंटन मेरिट लिस्ट के आधार पर होगा। वहीं, लाइब्रेरी साइंस में पीजी करने वालों के लिए कॉलेज में ३० सीटें हैं।
शासन ने दी अनुमति
शासन ने इन दोनों विषयों को शुरू करने की अनुमति दे दी है। हालांकि स्थाई शिक्षकों की नियुक्तियां नहीं की है। इस प्रक्रिया को पूरा होने में वक्त लग सकता है। मैथ्स और लाइब्रेरी साइंस के लिए प्रबंधन गेस्ट फैकल्टी की नियुक्ति करेगा। प्रबंधन की माने तो यह नियुक्तियां जनभागीदारी से की जाएंगी। कॉलेज में नए भवनों का निर्माण हुआ है। इनमें से दो कमरे इन दोनों विषयों के लिए सुरक्षित रख लिए गए हैं।

शासन से मंजूरी मिला जाने के बाद अब गर्ल्स डिग्री कॉलेज में मैथ्स और साइंस की 90 छात्राओं को सीधा फायदा मिला सकेगा। कई वर्ष से इस कॉलेज में इन दोनों विषयों में पीजी शुरू किए जाने की मांग की जाती रही है। दरअसल सागर सहित आसपास के क्षेत्रों से भी छात्राएं यहां पढ़ने के लिए आती हैं। सागर में यह एक मात्रा गर्ल्स कॉलेज है। जिसमें एडमिशन के लिए हर वर्ष कतार छात्राओं की कतार लगी रहती है। इन दो विषयों को बढ़ जाने से अब पीजी करने के लिए भी छात्राओं को दूसरे कॉलेजों का रुख नहीं करना पड़ेगा।

- उच्च शिक्षा विभाग को दोनों कोर्स शुरू करने के लिए प्रपोजल भेजा था। अनुमति मिल चुकी है। एक दो दिन में पत्र भी मिल जाएगा। - डॉ. एके पटेरिया, प्राचार्य गल्र्स डिग्री कॉलेज

Show More
आकाश तिवारी Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned