जो गलती पहले हुई उन्हें ही दोहरा रहे फिर से, बाहर से आने वालों को क्वॉरंटीन किया जाना जरूरी

अब बरती जा लापरवाही तो फिर से देखने पड़ सकते हैं लॉकडाउन जैसे दिन

By: anuj hazari

Published: 28 Feb 2021, 07:07 PM IST

बीना. कई शहरों में तेजी से कोरोना के मरीज बढ़ रहे हंै, जिसके बाद सरकार ने भी कई जिलों में क्राइसिस कमेटी की बैठक करके उचित निर्णय लेने के निर्देश दिए हैं, लेकिन ठीक इसके दूसरी ओर लोग भी इस तरह से लापरवाही कर रहे हैं मानों की कोरोना संक्रमण पूरी तरह से खत्म हो गया हो, लेकिन अभी जो भी स्थिति यहां बनी हुई है उससे यह साफ जाहिर हो रहा है कि लोगों की लापरवाही आने वाले दिनों में सभी के लिए परेशानी खड़ी करने वाली है। दरअसल सरकार ने कोरोना संक्रमण के खतरे से निपटने और अन्य लोगों को संक्रमित होने से बचाने के लिए बाहर से आने वालों के लिए १४ दिन क्वारंटीन रहने के आदेश दिए थे, लेकिन जैसे-जैसे कोरोना के मरीज कम होते गए सरकार ने भी ढील देनी शुरू कर दी है, लेकिन अब जब हालत फिर से बिगडऩे लगे हंै इसलिए फिर से बाहर से आने वाले लोगों को क्वारंटीन किया जाना चाहिए। ताकि कोई व्यक्ति यदि कोरोना संक्रमित हो भी तो वह दूसरे को संक्रमित न करे।
स्टेशन, बस स्टैंड या फिर बैंक हर जगह लापरवाही
सबसे ज्यादा खतरा ऐसी जगहों पर रहता है जहां पर एक बार में कई लोगों की भीड़ एकत्रित हो। इस स्थिति में स्टेशन, बस स्टैंड और बैंक प्रमुख हैं। यहां पर यह साफ देखने के लिए मिलता है कि लोग न तो मास्क पहनकर जाते हैं न ही फिजीकल डिस्टेंस का पालन करते हैं, जिसके कारण भी पहले संक्रमण बढ़ा था। अभी भी लोगों को सतर्क रहने की जरूरत है, क्योंकि अभी करीब एक लाख जनसंख्या वाले शहर में दो हजार लोगों को भी कोरोना वैक्सीन नहीं लगी है।
रोको टोको अभियान शुरू करने कलेक्टर ने दिए निर्देश
कलेक्टर दीपकसिंह ने जिले की सभी तहसीलों के एसडीएम की बैठक लेकर उन्हें निर्देश दिए हैं कि वह अपने अधिकार क्षेत्र में रोको टोको अभियान शुरू कर दे। लेकिन फिर भी अभी तक नपा ने मास्क नहीं लगाने वालों पर कार्रवाई करनी शुरू नहीं की है। यदि इसी तरह की लापरवाही बरती गई तो वह दिन भी दूर नहीं रहेगा जब फिर से लॉकडाउन जैसे हालत देखने पड़ सकते हैं।

anuj hazari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned