टिकट दलालों के जाल को तोड़ेगे अधिकारी, बनाई रणनीति

व्यापक अभियान भी चलाया जाएगा

By: manish Dubesy

Published: 25 Apr 2018, 01:52 PM IST

सागर. शादी के सीजन और ग्रीष्मकालीन अवकाश के चलते ट्रेनों में होने वाली भीड़ का फायदा अब टिकट दलाल नहीं उठा पाएंगे। रेलवे अधिकारी टिकट काउंटर पर खड़े होकर इन दलालों पर नजर रखेंगे। इसके लिए रेलवे ने जोन के मुख्य वाणिज्य प्रबंधकों को आदेश जारी किए हैं। मई से सभी स्टेशनों के आरक्षण केंद्रों पर अधिकारी टिकट बनाने वालों की पर्चियां नाम पते चैक करके उसमें हस्ताक्षर करेंगे, जिसके बाद ही उनका रिजर्वेशन होगा। साथ ही टिकट जांच का व्यापक अभियान भी चलाया जाएगा।


बड़े स्टेशनों के आरक्षण केंद्रों के बाहर और टिकट खिड़कियों के पास सुबह साढ़े सात बजे से साढ़े ग्यारह बजे के बीच रेलवे कर्मचारी तैनात किए जाएंगे, जो तत्काल व सामान्य आरक्षण के लिए लाइन में लगे लोगों के आरक्षण के फार्म की जांच कर उसमें हस्ताक्षर करेंगे। अधिकारी के हस्ताक्षर को देखकर ही टिकट काउंटर पर बैठा क्लर्क रिजर्वेशन करेगा। अभियान में वाणिज्य विभाग, विजिलेंस, आरपीएफ के जवान शामिल होंगे।
ट्रेनों में वेटिंग
सागर से प्रतिदिन ३५ सवारी गाडि़यां बीना-कटनी की ओर जाती हैं। इनमें से कई लम्बी दूरी की भी हैं, जो इस समय फुल चल रही हैं। गोंडवाना, उत्कल, कामायनी, क्षिप्रा, संपर्क क्रांति, जम्मूतवी जैसी गाडि़यों में वेटिंग की लम्बी फेहरिश्त है। एेसे में लोग दलालों के माध्यम से अपने टिकट बनवाते हैं। शहर में कई दुकानें हैं, जहां बैठे दलाल कुछ रुपए अधिक लेकर लोगों को कन्फर्म टिकट उपलब्ध
करा देते हैं।
टिकट काउंटर पर दलालों की निगरानी के लिए बोर्ड ने गाइड लाइन जारी की है। अधिकारी आरक्षण फार्म का वेरिफिकेशन उपरांत ही रिजर्वेशन देंगे।
गुंजन गुप्ता, सीपीआरओ पमरे

रतौना स्टेशन के ट्रैक पर मिला अज्ञात महिला का शव
सागर. रतौना रेलवे स्टेशन पर ट्रेन से गिरने के कारण अज्ञात महिला की मौत हो गई। महिला का शव प्लेटफार्म के पास ट्रैक पर पड़ा होने की सूचना स्टेशन मास्टर द्वारा सागर भेजी गई, जिस पर जीआरपी ने शव को पंचनामा कार्रवाई के बाद जब्त कर मर्चुरी में रखवाया है। महिला की मंगलवार शाम तक पहचान न होने के कारण शव का पोस्टमार्टम नहीं किया जा सका। जीआरपी के अनुसार करीब ४५ वर्षीय महिला काली साड़ी पहने हुए थी। उसके पांव में पायल और हाथ में तांबे की चूडि़यां थी इससे उसके विधवा होने का अनुमान है। महिला के पास से सागर के एक ज्वलर्स शॉप से आभूषणों के साथ दिया जाने वाला पर्स मिला है लेकिन महिला और पर्स से पहचान संबंधी दस्तावेज नहीं मिला है।

manish Dubesy Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned