दिवाली से पहले चाइनीज प्रोडक्ट के विरोध में सड़कों पर उतरे स्कूली छात्र-छात्राएं

दिवाली से पहले चाइनीज प्रोडक्ट के विरोध में सड़कों पर उतरे स्कूली छात्र-छात्राएं

Iftekhar Ahmed | Publish: Oct, 18 2017 10:19:55 PM (IST) Saharanpur, Uttar Pradesh, India

नुक्कड़ नाटक करके दिया पटाखों से दूर हने का संदेश

 

सहारनपुर. दिवाली पर चाइनीज प्रोडक्ट हमारी आर्थिक व्यवस्था पर और पटाखे हमारे स्वास्थ्य पर किस तरह से नुकसान पहुंचाते हैं यह बताने के लिए सहारनपुर के स्कूली छात्र छात्राओं ने रैली निकालकर लोगों को जागरुक किया है। गांव और शहर में नुक्कड़ नाटक के माध्यम से इन छात्र-छात्राओं ने लोगों को यह बताने का प्रयास किया कि किस तरह से पटाखे पर्यावरण को प्रदूषित करते हैं और पटाखों के धुएं से किस तरह सांस के रोगियों की जान तक जा सकती है।

मैक्सफोर्ट वर्ल्ड स्कूल के बच्चों ने निकाली रैली
रैली में मैक्सफोर्ट वर्ल्ड स्कूल के बच्चों ने हिस्सा लिया। इन छात्र-छात्राओं ने गांव समेत शहर से सटे मोहल्लों में जा कर नुक्कड़ नाटक और सभाएं आयोजित की और इस दौरान बताया कि किस तरह से पटाखों से निकलने वाला धुआं आंखों और फेफड़ों को नुकसान पहुंचाता है। इन बच्चों ने लोगों से दिवाली पर कम से कम पटाखे चलाने की अपील करते हुए कहा कि बाजार में चाइनीज सामान अटा पड़ा है और चाइना का सामान खरीदने से हमारे देश की आर्थिक व्यवस्था प्रभावित होती है। इस तरह इन बच्चों ने अपील करते हुए कहा कि चाइना के प्रोडक्ट का बहिष्कार करें। चाइना का कोई भी सामान न खरीदें और इस दिवाली को शुभ दीवाली बनाने के लिए पटाखे भी ना चलाएं।

सहारनपुर में करोड़ों रुपए के पटाखे चलते हैं हर साल
सहारनपुर वेस्ट यूपी में पटाखों का हब है। यहां से दिल्ली हरियाणा और उत्तराखंड तक पटाखों की सप्लाई होती है। एक अनुमान के मुताबिक सहारनपुर से पटाखों का करीब 20 करोड रुपए से अधिक का कारोबार है। इतना ही नहीं दिवाली पर करोड़ो रूपये कीमत कब पटाखे अकेला सहारनपुर ही जला देता है। पिछले वर्ष दिवाली के 3 दिन बाद तक सहारनपुर के वातावरण में जहरीली गैस घुली रही थी। इससे सास के रोगियों को भारी परेशानी उठानी पड़ी थी और जिला अस्पताल के टीबी सेनेटोरियम वार्ड में बेड खत्म हो गए थे। इस जागरुकता रैली में छात्र-छात्राओं के अलावा मुख्य रूप से अध्यापिका मनीषा, मीना, नेहा डिंपल आदि का सहयोग रहा।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned