यूपीः जिलाधिकारी कार्यालय पहुंची महिलाआें ने एेसे खाेली पुलिस की पाेल, जानकर आप भी रह जाएंगे हैरान

shivmani tyagi | Publish: Sep, 12 2018 06:25:09 PM (IST) Saharanpur, Uttar Pradesh, India

महिलाएं बोली, नहीं हुई कार्रवाई तो चूल्हा-चौका छोड़कर खुद करेंगी पुलिस का काम

सहारनपुर।

शराब की कसीदगी की के खिलाफ बुधवार को सहारनपुर के गांव कॉल गढ़ की महिलाओं ने मोर्चा खोल दिया। बड़ी संख्या में महिलाएं पहले पुलिस थाने और फिर जिलाधिकारी कार्यालय जा पहुंची। जिलाधिकारी कार्यालय पर पहुंची इन महिलाओं ने साफ कह दिया कि पुलिस शराब की कसीदगी करने वालों से मिली हुई है। गांव में हालात बेहद खराब हैं छोटे छोटे बच्चे भी शराब पीने लगे हैं। पति शराब पीकर घर आते हैं और मारपीट करते हैं। इन महिलाओं ने कहा कि अगर गांव में शराब की कसीदगी बंद नहीं हुई तो महिलाओं को सड़कों पर उतरना होगा। वह खुद उस काम को करेंगे जो पुलिस नहीं कर पा रही है। महिलाओं ने साफ कह दिया कि अगर वह खुद शराब की कसीदगी करने वालों को दौड़ा-दौड़ाकर भगाएँगी। दरअसल इन महिलाओं में बेहद गुस्सा था और गुस्सा इस बात को लेकर था कि पहले तो पति ही शराब पीते थे लेकिन अब बच्चों ने भी शराब पीना शुरू कर दिया है। महिलाओं का कहना है कि जो लोग इस धंधे में लिप्त हैं वह खुलेआम गांव में पहले शराब निकालते हैं और फिर उस शराब को खुलेआम बेचा जाता है। बावजूद इसके पुलिस की ओर से कोई कार्रवाई नहीं की जाती। आरोप यह भी है कि इन्होंने कई बार पुलिस थाने में शिकायत की लेकिन पुलिस ने मामले को गंभीरता से नहीं लिया। महिलाओं ने बताया कि उन्होंने कुतुबशेर थाने में लिखित तहरीर दी लेकिन उसके बाद भी पुलिस की ओर से कोई प्रयास नहीं किए जा रहे हैं। लगातार गांव में शराब की कसीदगी की चल रही है। शिकायत करने पहुंची महिला प्रवेश, रोशनी, सुशीला, राजकली, ममता, अंगूरी, कविता, रामकली, शकुंतला पवित्रा, अनीता, श्यामवती, आशा, शांति, मोना और कमला ने कहा कि एक दो नहीं बार-बार शिकायत करने के बावजूद पुलिस कोई कार्यवाही नहीं कर रही है और गांव में बच्चों का भविष्य लगातार बिगड़ता जा रहा है नशे की गर्त में बच्चे जा रहे हैं लेकिन पुलिस इस ओर कोई ध्यान नहीं दे रही।


जिलाधिकारी कार्यालय पहुंचकर भी पुलिस को ही दिया ज्ञापन
जिलाधिकारी कार्यालय पहुंची महिलाओं ने यहां भी पुलिस को ही ज्ञापन दिया। दरसल जिलाधिकारी अपने कार्यालय पर नहीं थे और ऐसे में महिलाओं से ज्ञापन लेने के लिए संबंधित पुलिस थाने से ही टीम पहुंच। महिलाओं ने अपना ज्ञापन देते हुए कहा कि अगर बाहर भी कोई कार्यवाही नहीं हुई तो वह सड़कों पर उतर कर आंदोलन करेंगी।

Ad Block is Banned