Bharat Bandh Live Upadates: SC/ST Act के खिलाफ भारत बंद करवाने BTI मैदान में जुटे सवर्ण

Bharat Bandh Live Upadates: SC/ST Act के खिलाफ भारत बंद करवाने BTI मैदान में जुटे सवर्ण

Suresh Kumar Mishra | Publish: Sep, 06 2018 12:51:23 PM (IST) Satna, Madhya Pradesh, India

Bharat Bandh Live Upadates: SC/ST Act के खिलाफ भारत बंद करवाने BTI मैदान में जुटे सवर्ण

सतना। मध्यप्रदेश के सतना जिले में भारत बंद का पूर्ण रूपेण असर दिख रहा है। एससी-एसटी एक्ट के विरोध में पहले सवर्ण समाज ने बीटीआई ग्राउंड में एकत्र होकर पूरे कार्यक्रम की रूप रेखा तैयार की। फिर सवर्ण समाज के कार्यकर्ताओं ने एक सभा आयोजित की। सपाक्स ने पदाधिकारियों ने समाज के लोगों को संबोधित करते हुए एससी-एसटी एक्ट का विरोध जताया। बोले किसी भी हाल में संसद में विधेयक पारित नहीं होना चाहिए। अगर इस तरह का काला कानून लागू हुआ तो सवर्ण समाज का जीना मुश्किल हो जाएगा। जिला प्रशासन ने सुरक्षा की दृष्टि से पूरे जिले में धारा 144 लागू कर दी गई। पुलिस व प्रशासन भी हर स्थिति पर नजर रखे हुए है। पुलिस मुख्यालय भोपाल ने भी अलर्ट जारी किया है। लिहाजा, चप्पे-चप्पे पर पुलिस बल तैनात है।

इन संगठनों ने किया बंद का समर्थन
विंध्य चेंबर ऑफ कॉमर्स, सतना बस एसोसिएशन, ऑटो चालक संघ, सपाक्स समाज, अखिल भारतीय ब्र्राह्मण महासभा, जिला इ-पंजीयन सेवा प्रदाता समिति, पेट्रोल पंप एसोसिएशन, सतना मोटर ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन, प्रिंटर्स एसो., भारतीय सिंधु सभा, क्लाथ मर्चेंट एसो, जिला उद्योग संघ, रेडीमेड वस्त्र व्यापारी संघ, इलेक्ट्रिकल मर्चेंट एसो., एग्रीकल्चर मर्चेंट एसो, डिस्ट्रिक डिस्ट्रीब्यूटर्स एसो., हार्डवेयर पेंटस एंड मशीनरी व्यापारी एसो., रीवा रोड एसो, कैट, कृषि उपज व्यापारी संघ, जनरल मर्चेंट एसो. व सतना दवा विक्रेता संघ, सर्व समाज, आरक्षण विरोधी पार्टी सहित अन्य।

स्कूलों में अवकाश
बंद की स्थिति को देखते हुए कई निजी स्कूलों ने अवकाश घोषित कर दिया है। इस संबंध में अभिभावकों को नोटिस देकर सूचना तक दे दी गई है ताकि विद्यार्थी किसी कारण से मुश्किल में न पडं़े। हालांकि शासन स्तर से इस संबंध में कोई दिशा-निर्देश जारी नहीं हुए हैं।

आपातकालीन सेवाएं रहेंगी चालू
बंद के दौरान आपातकालीन सेवाएं चालू रहेंगी। अस्पताल, दवा दुकानें, होटल सहित कई सेवाएं चालू रहेंगी।

सोशल मीडिया पर नजर
पुलिस सोशल मीडिया पर कड़ी नजर रखेगी। भड़काऊ मैसेज भेजने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। इसलिए चेतावनी दी गई कि कोई भी व्यक्ति जाति, धर्म समुदाय के प्रति सोशल मीडिया एवं अन्य माध्यम से किसी प्रकार की आपत्तिजनक या भावनाओं को ठेस पहुंचाने वाली टिप्पणी नहीं करे।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned