मैहर कॉलेज: भूख हड़ताल पर बैठीं छात्राओं की बिगड़ी तबीयत, एनएसयूआई के बैनर तले चल रहा आंदोलन

मैहर के शासकीय विवेकानंद कॉलेज का मामला: लाइब्रेरी, नियमित कक्षाएं व सीसीटीवी कैमरे सही कराने सहित सात सूत्रीय मांगों को लेकर एनएसयूआई के बैनर तले चल रहा आंदोलन

सतना/ शासकीय विवेकानंद कॉलेज मैहर में जरूरी मांगों को लेकर चार दिन से भूख हड़ताल पर बैठी छात्राएं सोमवार को अचेत हो गईं। आनन-फानन उन्हें सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया। चिकित्सकों ने उपचार के बाद देर शाम डिस्चार्ज कर दिया है। बताया गया कि धूप में लगातार बैठने से यह स्थिति बनी थी। कॉलेज में नियमित रूप से कक्षाएं, सर्व-सुविधायुक्त लाइब्रेरी, बांउड्रीवॉल निर्माण सहित सात सूत्रीय मांगों को लेकर विद्यार्थियों ने शुक्रवार सुबह 10.30 बजे भूख हड़ताल शुरू की थी।

इससे पहले उन्होंने कॉलेज व स्थानीय प्रशासन को कई बार ज्ञापन देकर समस्याओं से अवगत कराया पर समाधान नहीं हुआ। इसके बाद अन्न-जल त्यागकर कॉलेज परिसर में सत्याग्रह शुरू कर दिया। इस बीच प्राचार्य सहित प्राध्यापकों ने उन्हें समझाने की कोशिश भी की, लेकिन कलेक्टर को बुलाने व सभी मांग तत्काल पूरी कराने की बात पर अड़ गए। कॉलेज की ओर से प्रशासन को जानकारी दी गई, जिसके बाद एसडीएम सुरेश अग्रवाल अन्य अधिकारियों के साथ मौके पर पहुंचे।

उन्होंने भी प्रदर्शन कर रहे विद्यार्थियों से बात कर समस्याएं समझी और जल्द ही उनकी मांगें पूरी कराने का आश्वासन दिया, लेकिन बात नहीं बनी। इधर, लगातार चार दिन से भूख हड़ताल पर बैठे विद्यार्थियों में से बबिता चौरसिया, अंजना पटेल और अनिरुद्ध त्रिपाठी की सोमवार की दोपहर अचानक हालत बिगड़ गई। प्रभारी प्राचार्य उपेंद्र पांडेय को जानकारी लगी तो उन्होंने एसडीएम व स्वास्थ्य विभाग को सूचना देकर, उपचार के लिए सिविल अस्पताल भिजवाया। वहां उपचार के बाद स्थिति में सुधार बताया गया।

चक्काजाम की चेतावनी
सोमवार को आंदोलन स्थल पर एनएसयूआई के विधानसभा उपाध्यक्ष विजय तिवारी, छात्रसंघ अध्यक्ष अंशु चौरसिया, आईटीसेल से जिला सचिव शुभम सोनी, सक्रिय सदस्य धर्मेंद्र सिंह, सागर चौरसिया, ऋषि चौरसिया, अनुरुद्र त्रिपाठी, नागेश विश्वकर्मा, शुदारस सिंह, अभिलाशा, द्विवेदी, सपना शर्मा, सुनैना चौरसिया, सुनाली चौरसिया, मंजू साहू, प्रियंका, अजोज, सहित अन्य छात्र-छात्राएं उपस्थित रहे। चेतावनी दी कि मांग पूरी नहीं की गई तो सड़क जाम करेंगे।

ये हैं प्रमुख मांगें
- छात्र-छात्राओं की सुरक्षा को ध्यान रख सीसीटीवी कैमरे लगवाए जाएं।
- छात्रों के लिए नियमित रूप से यूनिफार्म अनिवार्य किया जाए।
- प्राध्यापकों के आने-जाने का समय सुनिश्चित कर कक्षाएं नियमित की जाएं।
- महाविद्यालय में पुस्तकालय की व्यवस्था की जाए।
- क्लास में लगे सीसीटीवी कैमरे सही कराए जाएं।
- जमीनदाता की मूर्ति स्थापना व बाउंड्रीवाल बने।

समझाइश दी थी
बाउंड्रीवाल व भूमिदाता की प्रतिमा स्थापित करने संबंधी कुछ मांगें हैं, जिनके लिए पहले ही पत्राचार किया जा चुका है। सीसीटीवी व साफ-सफाई के लिए भी निर्देशित कर दिया है। कल समझाइश भी दी। स्वास्थ्य खराब होने पर आज नहीं गई थी।
प्रभा पाण्डेय, प्राचार्य विवेकानंद कॉलेज

प्रदर्शन कर रहे छात्रों को समझाने खुद मौके पर गया था। उनकी मांग पूरी करने का आश्वासन भी दिया। आज दो बच्चों के बेहोश होने की जानकारी मिलते ही राजस्व अमले को मौके पर भेजा और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। कल इस मामले को दिखवाता हूं।
सुरेश अग्रवाल, एसडीएम, मैहर

suresh mishra
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned