डिजिटल होगे स्मार्ट सिटी के पुस्तकालय

स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत हो रहा कायाकल्प

By: Sukhendra Mishra

Published: 07 Mar 2020, 12:47 AM IST

सतना. बीरान पड़े निगम के चार पुस्तकालयों के दिन जल्द ही बहुरने वाले हैं। शहर की जिन लाइब्रेरियों में अभी तक पडऩे के लिए पुस्तके उपलब्ध नहीं थी। अब वह अत्याधुनिक सुविधाओं से सुसज्जित होने जा रही है। निगम प्रशासन ने स्मार्ट सिटी के तहत शहर में स्थित पुस्तकालयों के कायाकल्प का कार्य शुरु कर दिया है। लाइब्रेरी को डिजिटल करने के साथ थी युवाओं एवं बच्चों के मनोरंजन के लिए उन्हें परापरिक पुस्तकों के साथ नई डिलिटल पुस्तकों से लेंस किया जाएगा। इतना ही नहीं डिजिटल हो रही लाइब्रेरियों में पढऩे के लिए आडियो वीडियो, होस्टिंग, भाषा एवं मल्टीमीडियां लर्निग सिस्टम भी लगाए जाएगे। स्मार्ट सिटी के तहत बदहाल लाइवेरियों को स्मार्ट बनाने का कार्य शुरु कर दिया गया है।

लाइब्रेरी में कर सकेगे प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी
स्मार्ट हो रहे पुस्तकालयों में कक्षा ६ से १२ तक की सभी पुस्तके एवं सिलेवस किताब एवं डिजिटल लाइब्रेरी के रूप में उपलब्ध होगा। पुस्तकालय में एनटीएससी, नेट, जी, पीएससी सहित सभी प्रतियोगी परीक्षाओं की पुस्तके एवं सिलेवस भी उपलब्ध होगा। इससे शहर के छात्र लाइब्रेरी में बैठ कर प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर सकेगे।

यह पुस्तकालय होगे डिजिटल
निगम प्रशासन द्वारा शहर के जिन चार पुस्तकालयों का स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत कायाकल्प कराया जा रहा है। उसमें शहर के चार पुस्तकाल शामिल है। इनमें धवारी पुस्तकाल, पुष्करणी पार्क स्थित वाचनाल, टाउन हाल परिसर स्थित पुस्तकाल तथा कृपालपुर स्थित निगम का पुस्तकाल शामिल हैं।

कंट्रोल रूम से होगी निगरानी
डिजिटल हो रही लाइब्रेरियों की निगरानी कलेक्टर परिसर स्थित कंट्रोल एवं कमांड सेंटर से होगी। लाइब्रेरी को इ लाइब्रेरी से जोड़ा जाएगा। इसलिए लोग घर बैठे ही लाइब्रेरी में कौन से पुस्तक है और कौन सी नहीं हैं। इसकी जानकारी ले सकेगे।

Sukhendra Mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned