ये एक दिन में क्या हो गया नगर निगम के खजाने को, जो अधिकारी वर्षों में नहीं कर पाए वह हो गया ऐसे

लोक अदालत: एक दिन में निगम के खजाने में आए 154 लाख, उपभोक्ताओं ने जमा किया टैक्स, 742 प्रकरणों का हुआ निराकरण

By: suresh mishra

Published: 10 Mar 2019, 06:33 PM IST

सतना। वित्तीय संकट से जूझ रहे नगर निगम के लिए शनिवार का दिन राहत भरा रहा। निगम कार्यालय में आयोजित नेशनल लोक अदालत में टैक्स जमा करने उमड़ी हितग्राहियों की भीड़ ने एक दिन में 154 लाख 13 हजार 414 रुपए का टैक्स जमा कराया। लोक अदालत शिविर में सुबह से ही उपभोक्ताओं की भीड़ रही।

शाम तक कुल 742 हितग्राहियों ने सामझौता राशि जमाकर अपने प्रकरणों का निराकरण कराया। लोक अदालत में सबसे अधिक उपभोक्ताओं को सरचार्ज में 100 फीसदी तक की छूट प्रदान की गई थी। इसका लाभ उठाते हुए संपत्तिकरदाताओं ने एक दिन में 1.40 करोड़ रुपए की राशि जमा की।

जलकर से आए मात्र 7.68 लाख
शहर के जल उपभोक्ताओं पर तीन करोड़ से अधिक का पुराना जलकर बकाया है। लेकिन, जलकार्य विभाग की उदासीनता के चलते उपभोक्ता जलकर जमा करने में रुचि नहीं ले रहे। जलकर की वसूली न होने से बकाया राशि का ग्राफ साल दर साल बढ़ता जा रहा है। चालू वित्तीय वर्ष एवं विगत वर्षों को मिलाकर शहर की जनता पर 10 करोड़ से अधिक का जलकर बकाया है। इसके बावजूद शनिवार को आयोजित लोक अदालत में लोग जलकर के प्रकरणों का निराकरण कराने नहीं पहुंची। लोक अदालत में जलकर के रूप में मात्र 7.68 लाख रुपए जमा हुए। जो निगम निगम के लिए निराशाजनक हैं। इसकी प्रकार राजस्व प्रकरणों के निराकरण से 6.43 लाख रुपए की आय हुई।

suresh mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned