मुंगेरीलाल के सपने देखना बंद करो, अधिसूचित मंडी में करो व्यापार, वरना भयंकर होंगे परिणाम

बैठक: सब्जी व्यापारियों को मंडी सचिव की दो टूक

सतना/ राजनीतिक रसूख के दम पर एक साल से डिलौरा में अवैध फल-सब्जी मंडी का संचालन कर रहे थोक सब्जी व्यापारियों की बैठक लेते हुए मंडी सचिव राजेश गोयल ने शुक्रवार को उन्हें मंडी परिसर में आकर कारोबार करने की समझाइश दी। सचिव ने मंडी अधिनियम का हवाला देते हुए कहा कि अधिसूचित सब्जी मंडी क्षेत्र में दूसरी निजी मंडी या उपमंडी खोलने का कोई प्रावधान नहीं है। जो अधिकारी आप लोगों को निजी मंडी को मान्यता दिलाने की बात कर रहे हैं वे सिर्फ लॉलीपॉप दे रहे हैं।

इसलिए आप लोग मुंगेरीलाल के सपने देखना बंद करें और अधिसूचित मंडी में आकर अपना व्यापार शुरू करें। व्यापारियों को समझाइश देते हुए कहा कि आप लोगों को लाइसेंस अधिसूचित मंडी में कारोबार करने के लिए दिया गया है। आप समय रहते मंडी में शिफ्ट होकर अपना कारोबार शुरू करें। इसी में सब्जी व्यापारियों का भविष्य है। मंडी में व्यापारियों को जो सुविधाएं चाहिए, मैं उपलब्ध कराऊंगा। बैठक में डिलौरा मंडी एवं नई सब्जी मंडी के सभी थोक फल-सब्जी व्यापारी उपस्थित रहे।

शिफ्टिंग को राजी नहीं निजी मंडी के व्यापारी
गांधी सब्जी बाजार डिलौरा के व्यापारी मंडी सचिव की समझाइश के बाद भी मंडी में कारोबार के लिए राजी नहीं हुए। अध्यक्ष रामप्रताप कुशवाहा उर्फ लाला ने रसूख दिखाते हुए कहा कि मेरी मुख्यमंत्री तक पहुंच है। उन्होंने निजी मंडी को मान्यता दिलाने का आश्वासन दिया है। एसडीएम व कलेक्टर भी हमारा सहयोग कर रहे हैं। हम डिलौरा में ही सब्जी मंडी चलाएंगे। नई मंडी में नो इंट्री सबसे बड़ी समस्या है। इस पर सचिव ने कहा कि नो इंट्री का समाधान कराना मेरी समस्या है। मंडी के बाहर व्यापार करना मंडी एक्ट के खिलाफ है। इसलिए सभी व्यापारी वैध मंडी में व्यापार करें।

मैंने निजी मंडी के व्यापारियों की बैठक लेकर समझाइश दी है लेकिन वे शिफ्ट होने को तैयार नहीं हुए। मंडी के बाहर सामूहिक रूप से व्यापार करना मंडी कानून का खुला उल्लंघन है। इस संबंध में कलेक्टर से चर्चा करूंगा। जैसा निर्देश होगा, कार्रवाई करेंगे।
राजेश गोयल, सचिव, कृषि उपज मंडी सतना

suresh mishra Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned