दीनदयाल चलित अस्पताल में खाली मिला आक्सीजन सिलेण्डर

निरीक्षण में सामने आई हकीकत


By: Vikrant Dubey

Published: 07 Jul 2019, 12:57 AM IST

सतना. दीनदयाल चलित अस्पताल के संचालन में जमकर मनमानी की जा रही है। इनमें तैनात चिकित्सक सहित पैरामेडिकल स्टाफ पीडि़तों को चिकित्सा प्रदान करने की बजाए कागजी खानापूर्ति कर रहा है। नोडल अधिकारी द्वारा किए गए निरीक्षण में भी बुधवार को यह हकीकत सामने आई। एक चलित अस्पताल में खाली आक्सीजन सिलेण्डर रखा हुआ था। पूछने पर चलित अस्पताल में तैनात टीम जवाब नहीं दे पाई। तीन में से किसी भी चलित अस्पताल का ग्रामीण अंचल का विजिट प्लान भी नहीं मिला।

बता दें, जिले में पहुंचविहीन क्षेत्रों में ग्रामीणों को चिकित्सा मुहैया कराने तीन दीनदयाल चलित अस्पताल संचालित किए जा रहे हैं। तीनों चलित अस्पताल में एक आयुष चिकित्सक, एएनएम सहित दो अन्य सहायक तैनात किए गए हैं। लेकिन इन चलित अस्पताल का लाभ पीडि़तों को नहीं मिल पा रहा है। ग्रामीणो को बीमार होने पर पीएचसी, सीएचसी और जिला अस्पताल इलाज कराने आना पड़ रहा है।

कहां लगा रहे शिविर किसी को जानकारी नहीं
एक चलित अस्पताल मझगवां, दूसरा मैहर देवराजनगर और तीसरा उचेहरा, नागौद क्षेत्र में तैनात किया गया है। चलित अस्पताल को बीएमओ, सीईओ जपं, ग्राम पंचायत सरपंच को सूचना देकर ग्रामीण अंचल में स्वास्थ्य परीक्षण शिविर का आयोजन करना है। लेकिन कब और कहां पर शिविर आयोजित किए गए। यह टीम को ही नहीं मालूम था। अमला महज कागजी खानापूर्ति करने में जुटा हुआ है।

Vikrant Dubey
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned