scriptRTPCR report positive of employee who came from Orissa | उड़ीसा से आए कर्मचारी की आरटीपीसीआर रिपोर्ट पॉजिटिव | Patrika News

उड़ीसा से आए कर्मचारी की आरटीपीसीआर रिपोर्ट पॉजिटिव

तीसरी लहर की आशंका, स्वास्थ्य महकमे ने जारी किया अलर्ट

सतना

Published: December 01, 2021 07:54:54 pm

सतना. कोरोना की तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए स्वास्थ्य महकमे ने अलर्ट जारी किया है। संचालनालय स्वास्थ्य सेवा के अधिकारियों ने सीएमएचओ, सीएस, बीएमओ को निर्देश दिए कि अस्पताल में दवाइयां ऑक्सीजन सिलेंडर. कंसंट्रेटरः सहित अन्य की उपलब्धता सुनिश्चित की जाए। उधर, कंस्ट्रक्शन कंपनी के कर्मचारी की रैपिड एंटीजन जांच के बाद वायरोलॉजी लैब मेडिकल कॉलेज रीवा से आई आरटीपीसीआर जांच रिपोर्ट ने स्वास्थ्य महकमे की नींद उड़ा दी है।

सतना. आरपीसीआर जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आते ही जिला अस्पताल में दाखिल पीड़ित का अब फिर से सैंपल लेकर जीनोम सेक्रेंसिंग के लिए नेशनल सेंटर फॉर डिसीज कंट्रोल दिल्‍ली भेजा जाएगा। वहां सैंपल की जांच कर यह पता लगाया जाएगा कि पीड़ित कोरोना के किस वेरिएंट से संक्रमित है। बता दें कि मैहर की कंस्ट्रक्शन कंपनी का उड़ीसा से लौटा कर्मचारी 29 नवंबर को सिविल अस्पताल मैहर में रैपिड एंटीजन जांच में कोरोना संक्रमित पाया गया था। कंस्ट्रक्शन कंपनी के निर्देश पर कर्मचारी ने रिज्वाइनिंग के पहले एहितयातन जांच कराई थी। पीड़ित का आरटीपीसीआर जांच के लिए सैंपल लेकर वायरोलॉजी लैब मेडिकल कॉलेज रीवा भेजा गया था। पीड़ित की हालत स्थिर: पीड़ित को एसपीओदटू-84 होने के कारण जिला अस्पताल कोबिद-19 आइसीयू में दाखिल कराया गया है विशेषज्ञ चिकित्सकों की निगरानी में उसका इलाज चल रहा है।

third_wave_of_corona.png

न दो गज दूरी, न मास्क जरूरी इधर, अलर्ट जारी होने के बाद भी सभी चिकित्सक और स्टाफ गंभीर नहीं हैं। ओपीडी में चिकित्सक बिना मास्क लगाए मरीजों को इलाज और परामर्श दे रहे हैं। ओपीडी में लगने वाली मरीजों की कतार में भी न तो
दो गज दूरी का पालन किया जा रहा और न ही लोग मास्क लगा रहे हैं।

अस्पताल में व्यवस्था बनाने को कहा
स्वास्थ्य महकमे ने कोरोना को लेकर अलर्ट जारी किया है। संचालनालय स्वास्थ्य सेवा के अधिकारियों ने वीसी में सीएमएचओ, सीएस, बीएमओ को निर्देश दिए कि रैपिड एंटीजन टेस्ट आकस्मिक स्थिति में ही किया जाए। लक्ष्य के अनुसार आरटीपीसीआर जांच कराई जाए, भर्ती होने वाले सभी मरीजों का आरटीपीसीआर जांच के लिए सैंपल लिया जाए, तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए आक्सीजन सिलेंडर, दवाइयों की उपलब्धता- अनुपलब्धता जिला स्टोर को भेजी जाए, पॉजिटिव रोगी सामने आने पर कांटेक्ट ट्रेसिंग की जाए।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.