शराब बेचने की सूचना पर GRP गई आरोपी को पकड़ने, लेकिन वो तो निकला इस चोरी का सरगना

शराब बेचने की सूचना पर GRP गई आरोपी को पकड़ने, लेकिन वो तो निकला इस चोरी का सरगना

Suresh Kumar Mishra | Publish: Sep, 11 2018 12:28:19 PM (IST) Satna, Madhya Pradesh, India

कार्रवाई: चोरी के तीन वाहन जब्त, सरगना की तलाश जारी, जीआरपी ने शराब तस्कर को पकड़ा, चोरी की बाइक बरामद

सतना। रेल परिसर में शराब की अवैध बिक्री करने पहुंचे एक बदमाश को जीआरपी ने दबोचा तो पता चला कि वह बाइक चोरी में माहिर है। आरोपी को पकड़ कर जहरीली शराब जब्त करने के बाद जब सघन पूछताछ की गई तो उसने चोरी के तीन वाहन बरामद करा दिए। उसने गिरोह सरगना के बारे में भी बताया है जिसकी तलाश शुरू कर दी गई है। सोमवार को आरोपी को अदालत में पेश करते हुए जेल भेज दिया गया।

ये है मामला
जीआरपी के अनुसार, पुलिस अधीक्षक रेल विनीत जैन के निर्देश पर निगरानीशुदा बदमाशों और रेल अपराध से जुड़े अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए जीआरपी चौकी प्रभारी संतोष तिवारी मय स्टॉफ के गस्त कर रहे थे। रविवार को मुखबिर से खबर मिली कि रेल परिसर में कंस्ट्रक्शन बिल्डिंग के पीछे एक लड़का शराब बेच रहा है। सूचना पर पुलिस रवाना हुई और मौके से थैला लिए एक युवक को पकड़ा गया। जांच करने पर थैले में जहरीली शराब मिली।

पांच लीटर देशी शराब जब्त
पूछताछ में आरोपी ने अपना नाम विशाल सिंह उर्फ छोटू पुत्र अशोक सिंह तिवारी निवासी पतेरी सतना का रहने वाला बताया। उसके पास से पांच लीटर देशी शराब जब्त की गई। आरोपी के खिलाफ आबकारी एक्ट की धारा 49ए की कार्यवाही की गई है। जीआरपी चौकी प्रभारी ने बताया कि आरोपी से पूछताछ की गई तो उसने तीन मोटर साइकिल चोरी करना स्वीकार किया। आरोपी की निशादेही पर पुलिस ने दो मोटर साइकिल व एक स्कूटर जब्त किया है। बरामद की गई बाइक में एक रेल परिसर से ही चोरी हुई थी जिसका अपराध जीआरपी में दर्ज है।

सरगना तक पहुंचने की कोशिश
आरोपी से पूछताछ पर शराब के अवैध कारोबार और चोरी के वाहनों का उपयोग करने वाले कुछ नामचीन लोगों के नाम सामने आए हैं। पतेरी इलाके में रहने वाले एक व्यक्ति का नाम सामन आने पर उस पर शिकंजा कसने की तैयारी की जा रही है। चोरी के वाहन बरामद करने में चौकी प्रभारी संतोष तिवारी, एएसआइ प्रदीप सिंह, आरक्षक दयाचंद तिवारी, संजय मांझी, संजीत कुमार, अशोक कुमार, दीपक द्विवेदी की अहम भूमिका रही।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned