सड़क निर्माण में लीपापोती का आरोप,लोगों ने की घटिया निर्माण सामग्री लगाने की शिकायत

सड़क निर्माण में लीपापोती का आरोप,लोगों ने की घटिया निर्माण सामग्री लगाने की शिकायत

Subhash Pal Mishra | Publish: Mar, 14 2018 11:39:27 AM (IST) Sawai Madhopur, Rajasthan, India

सड़क निर्माण में लीपापोती का आरोप,लोगों ने की घटिया निर्माण सामग्री लगाने की शिकायत


सवाईमाधोपुर . शहर स्थित लटिया नाले के ऊपर राठी की मिल के पास बनी पुलिया अपनी दुर्दशा पर आंसू बहा रही है। यह पुलिया पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई है। यहां सड़क पर घटिया निर्माण सामग्री लगाकर कार्य में लीपापोती की जा रही है। इसके बावजूद पीडब्ल्यूडी कोई ध्यान नहीं दे रहा है।
जानकारी के अनुसार यहां रास्ते में सार्वजनिक निर्माण विभाग की ओर से डामरीकरण कराया जा रहा था, लेकिन ठेकेदार की ओर से मिट््टी डालकर डामरीकरण किया जा रहा था। इस पर लोगों ने सड़क निर्माण कार्य को रुकवा दिया। इस दौरान घटिया निर्माण सामग्री लगाने का आरोप लगाया। वहीं निर्माण कार्य को गुणवत्तापूर्वक करने के लिए उच्चाधिकारियों को अवगत कराया। इस संबंध में अधिशासी अभियंता आरसी गुप्ता से सम्पर्क किया। इस पर उन्होंने निर्माण तिथि समाप्त होना बताया। इस पुलिया पर अधिक वजन नहीं दिया जा सकता है। इसके अलावा दूसरी पुलिया बनाने के लिए कहा है। लेकिन अभी तो डामरीकरण ही कराया जाएगा। सड़क निर्माण कार्य को लोगों ने रविवार को भी रुकवा दिया। इसके बाद भी ठेकेदार ने मनमर्जी से डामरीकरण कर दिया। इससे लोगों में रोष है। कार्य रुकवाने वालों में पूर्व पार्षद मनजीतङ्क्षसह, चन्द्रमोहन चौधरी, व्यापारी आदि मौजूद थे।
प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र के सामने गन्दगी

मच्छरों का बढ़ रहा प्रकोप
पिपलाई. ग्राम पंचायत नारौली चौड़ में प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र के सामने नियमित सफाई नहीं होने से गन्दगी जमा है। ऐसे में मच्छरों का प्रकोप बढ़ता जा रहा है। लोगों ने बताया कि गौरव पथ योजना में यहां सड़क तो बना दी, लेकिन इसके दोनों ओर नालियों का निर्माण नहीं कराया। केवल सड़क किनारे गहरी नाली की खुदाई कर छोड़ दिया। जिसे दो माह से अधिक का समय चुका है। खोदी गई नाली में पानी भरा रहने से बदबू उठने लगी है। इसमें मच्छर भी पनप रहे हैं। जिससे मलेरिया, डेंगू जैसी बीमारियां फैलने की आशंका बनी हुई है। लोगों ने कलक्टर को ज्ञापन भेजकर समस्या निराकरण की मांग की है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned