आपसी समझाइश से रिश्तों में आई मिठास

आपसी समझाइश से रिश्तों में आई मिठास

By: Subhash

Published: 11 Sep 2021, 08:24 PM IST

सवाईमाधोपुर. जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के तत्वाधान में जिला मुख्यालय एवं अधीनस्थ तालुकाओं पर शनिवार को राष्ट्रीय लोक अदालत हुई। राष्ट्रीय लोक अदालत में प्रकरणों की आपसी सहमति से निस्तारण के लिए जिले में कुल 16 बैंचों का गठन किया। जिले में 16 बैंचो का गठन कर राष्ट्रीय लोक अदालत में 1439 प्रकरणों का निस्तारण कर पांच करोड़ उन्नीस लाख छप्पन हजार छ: सौ छियानवें रुपए के अवार्ड पारित किए।
राष्ट्रीय लोक अदालत का शुभारंभ जिला मुख्यालय पर अश्वनी विज अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण ने मां सरस्वती के समक्ष दीप प्रज्वलित कर किया। उन्होंने बताया कि लोक अदालत विवादों को निपटाने का वैकल्पिक साधन है, जहां विवादों का आपसी सहमति से निपटारा किया जाता है। वहीं नि:शुल्क विधिक सहायता,मध्यस्थता केन्द, सचल लोक अदालत आदि की जानकारी दी। इस दौरान जिला सचिव श्वेता गुप्ता ने बताया कि जिले मे लोक अदालत की भावना से आपसी समझाईश व राजीनामा के माध्यम से 58 साल बाद प्रॉपर्टी के मुकदमें का राजीनामा के माध्यम से निस्तारण किया गया। सम्पति से संबंधित मूल वाद उनवानी रामस्वरूप बनाम महता व 4 फरवरी 1963 को न्यायालय में प्रस्तुत किया गया था जो न्यायालय ने समझाइश के बाद पक्षकारान के सहयोग से प्रकरण को राष्ट्रीय लोक अदालत में राजीनामा के माध्यम से निस्तारित किया। इसी प्रकार 65 वर्ष के पति-पत्नी के बीच चल रहे घरेलू हिंसा के मुकदमें को पक्षकारान की आपसी सहमति एवं समझाइश के पश्चात राजीनामा के माध्यम से निस्तारित किया गया। इस अवसर पर सुशील कुमार पाराशर न्यायाधीश पारिवारिक न्यायालय, सचिव श्वेता गुप्ता, महेन्द्र कुमार ढाबी अपर जिला एवं सेशन न्यायाधीश्, पल्लवी शर्मा न्यायाधीश विशिष्ट न्यायाल, सानुज कुलश्रेष्ठ मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट, कृष्णा राकेश कांवत अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट, अंजना अग्रवाल सिविल न्यायाधीश एवं न्यायिक मजिस्ट्रेट, हिमांश गर्ग अतिरिक्त सिविल न्यायाधीश एवं न्यायिक मजिस्ट्रेट एवं अभिभाषक संघ के पदाधिकारी मौजूद थे।

Subhash Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned