नेचर गाइड व ईडीसी गाइड की होंगी नई भर्तियां

नेचर गाइड व ईडीसी गाइड की होंगी नई भर्तियां
जिला कलक्ट्रेट सभागार में बैठक में उपस्थित संभागीय आयुक्त, कलक्टर, विधायक व अन्य।

Rakesh Verma | Publish: Mar, 07 2019 02:58:06 PM (IST) Sawai Madhopur, Sawai Madhopur, Rajasthan, India

नेचर गाइड व ईडीसी गाइड की होंगी नई भर्तियां

सवाईमाधोपुर. जिला कलक्ट्रेट सभागार में बुधवार को संभागीय आयुक्त चन्द्र शेखर मूथा की अध्यक्षता में सवाई माधोपुर जिला कलक्टर डॉ. एसपीसिंह, करौली कलक्टर एनएम पहाडिय़ा, मुख्य वन संरक्षक मनोज पाराशर, सवाई माधोपुर विधायक दानिश अबरार, डीएफओ मुकेश सैनी की उपस्थिति में रणथम्भौर वन क्षेत्र के लिए लोकल एडवाईजरी कमेटी की प्रथम बैठक हुई। बैठक में संभागीय आयुक्त ने बैठक में नेचर गाइड तथा ईडीसी गाइड की नई भर्तियों के संबंध में आवश्यक बिन्दुओं पर चर्चा की। इस संबंध में पूर्ण पारदर्शिता के साथ भर्ती प्रक्रिया पूरी करने के निर्देश दिए।


बैठक में सवाई माधोपुर विधायक दानिश अबरार ने कई महत्वपूर्ण सुझाव दिए। इसमें नेचर गाइड एवं ईडीसी गाइड की जल्दी भर्ती होने पर विशेष जोर दिया। इस भर्ती से रणथम्भौर वन क्षेत्र में भ्रमण पर आने वाले पर्यटकों को ज्यादा दक्ष गाइड उपलब्ध कराने पर चर्चा की। वहीं पूर्ण पारदर्शिता के साथ तथा समाचार पत्रों में विज्ञप्ति से ही भर्ती प्रक्रिया पूर्ण करने को कहा। इसी प्रकार विधायक ने गाइडों का मानदेय 600 रुपए से बढ़ाकर 800 रुपए करने का सुझाव दिया। उन्होंने सवाई माधोपुर में पर्यटन से अर्जित राजस्व का एक अंश सवाई माधोपुर के विकास में ही खर्च करने के प्रस्ताव पर चर्चा करने का सुझाव दिया।


बोर्डिंग पोइंट विकसित हो
विधायक ने गणेशधाम पर पार्किंग सुविधा विकसित करने तथा वहां से गणेश मन्दिर के लिए नि:शुल्क गणेश मन्दिर शटल कैंटर चलाने का सुझाव दिया। उन्होंने कहा कि यदि फिर भी कोई निजी चौपहिया वाहन ले जाना चाहते है, तो उनका शुल्क निर्धारित हो। लोकल्स के वाहनों एवं नए वाहनों को जो गणेश मन्दिर ढोक देना चाहते हैं, उन्हें नि:शुल्क जाने दिया जाए। उन्होंने कहा कि जंगल में सफारी के लिए जाने वाले जिप्सी कैंटर का बोर्डिंग पोइंट डीएफओ ऑफिस व शिल्पग्राम हो। वहीं शहर में पुराने ट्रक न्यूनियन पर बोर्डिंग पोइंट विकसित हो।


ये भी दिए सुझाव
बैठक में टाइगर के हमले से किसी व्यक्ति की मौत होने पर 4 लाख रुपए की राशि देने के साथ ही 10 लाख रुपए की अतिरिक्त राशि दी जाए। इस पर डीएफओ मुकेश सैनी ने बताया कि वन विभाग की ओर से ऐसे मामलों में बीमा के माध्यम से विभाग की ओर से प्रीमियम जमा कराकर पीडि़त परिवार को 10 लाख रुपए की बीमा राशि दिलवाने की योजना पर कार्य किया जा रहा है। विधायक ने सुझाव दिया कि उनके विधानसभा क्षेत्र के सूरवाल बांध को पर्यटक स्थल के रूप में विकसित किया जाए, ताकि स्थानीय लोगों को रोजगार का अवसर मिल सकें।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned