अब तीन शिफ्ट में रखने होंगे स्टॉल पर वेंडर

अब तीन शिफ्ट में रखने होंगे स्टॉल पर वेंडर
अब तीन शिफ्ट में रखने होंगे स्टॉल पर वेंडर

Rajeev Pachauri | Publish: Oct, 09 2019 08:11:34 PM (IST) Sawai Madhopur, Sawai Madhopur, Rajasthan, India

गंगापुरसिटी . रेलवे स्टेशनों पर लाइसेंस लेकर स्टॉल चलाने वाले स्टॉल संचालकों को अब पर्याप्त मात्रा में वेंडर रखने होंगे। यह वेंडर स्टेशनों पर तीन शिफ्ट में काम करेंगे। यात्रियों को सुविधा देने के लिहाज से रेलवे ने यह कदम उठाते हुए आदेश जारी किए हैं। अब तक स्टॉल संचालक कम वेंडरों से काम चला रहे थे। इसमें यात्रियों की सुविधा में खलल पड़ रहा था। पर्याप्त वेंडर लगने से ट्रेन में सफर करने वाले सभी यात्रियों को जरूरत के मुताबिक सामान मिल सकेगा।

गंगापुरसिटी . रेलवे स्टेशनों पर लाइसेंस लेकर स्टॉल चलाने वाले स्टॉल संचालकों को अब पर्याप्त मात्रा में वेंडर रखने होंगे। यह वेंडर स्टेशनों पर तीन शिफ्ट में काम करेंगे। यात्रियों को सुविधा देने के लिहाज से रेलवे ने यह कदम उठाते हुए आदेश जारी किए हैं। अब तक स्टॉल संचालक कम वेंडरों से काम चला रहे थे। इसमें यात्रियों की सुविधा में खलल पड़ रहा था। पर्याप्त वेंडर लगने से ट्रेन में सफर करने वाले सभी यात्रियों को जरूरत के मुताबिक सामान मिल सकेगा।


रेलवे ने सभी स्टेशन अधीक्षकों को भी इस संबंध में हाल ही आदेश जारी किए हैं। रेलवे के संज्ञान में आया है कि अब तक स्टॉल संचालक बेहद कम संख्या में वेंडरों से काम करा रहे थे। साथ ही रेलवे यात्रियों की सहूलियत का भी खास ख्याल नहीं रखा जा रहा था। पहले एक स्टॉल पर चार वेंडर काम कर रहे थे, जो सामान यात्रियों तक पहुंचा रहे थे। रेलवे ने इन्हें कम मानते हुए इनकी संख्या में इजाफा करने को कहा है। ताकि ट्रेन में सफर करने वाले हर यात्री तक सामान पहुंच सके। कम वेंडर होने से रात-दिन काम लेने से यात्रियों को पूरी सुविधा नहीं मिल पा रही थी। रेलवे ने तत्काल प्रभाव से व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं।


तीन शिफ्टों का रंग होगा अलग-अलग


कोटा मंडल के रेलवे स्टेशनों पर स्टॉल संचालकों के यहां कार्यरत वेंडर तीन शिफ्टों में काम करेंगे। इसमें सुबह 6 से दोपहर 2, दोपहर 2 से रात्रि 10 बजे एवं रात्रि 10 से सुबह 6 बजे तक काम करेंगे। खास बात यह है कि सुबह की शिफ्ट में काम करने वाले वेंडरों की ड्रेस लाल रंग की होगी। वहीं दोपहर को करने वालों की हरी एवं रात्रि को काम करने वाले वेंडरों की ड्रेस का रंग नीले कलर का होगा। स्टॉल संचालकों को रेलवे की ओर से वार्षिक लाइसेंस भी दिया जाएगा।


इन स्टेशनों पर होगा बदलाव


कोटा मंडल के कोटा, भरतपुर, हिण्डौनसिटी, गंगापुरसिटी, सवाईमाधोपुर, रामगंज मंडी, भवानी मंडी, बूंदी, बयाना, इन्द्रगढ़, श्यामगढ़, सुवासरा, चौमहला, अटरू, सालपुरा, बारां एवं केशोराय पाटन के स्टेशनों पर वेंडरों की संख्या में इजाफा होगा। इन सभी स्टेशन अधीक्षकों को रेलवे मंडल ने आदेश जारी कर दिएए हैं। इन सभी स्टेशनों पर स्टॉल संचालकों को वेंडर रेलवे के कायदे के अनुसार रखने होंगे।


अब हो जाएंगे 40 वेंडर


गंगापुरसिटी रेलवे स्टेशन पर फिलहाल पांच स्टॉल संचालित हैं। अब तक एक स्टॉल पर 4 वेंडर काम कर रहे थे। ऐसे में इनकी संख्या 20 थी। अब एक स्टॉल पर 8 वेंडर तीन शिफ्ट में काम करेंगे। इससे अब इनकी संख्या बढक़र 40 हो जाएगी। वेंडरों की संख्या में इजाफा होने से ट्रेन में सफर करने वाले यात्रियों को खासी सहूलियत मिलेगी। यात्री सुविधा अनुसार ट्रेन की विंडो से आसानी से वेंडरों से सामान ले सकेंगे। हालांकि वेंडरों को ट्रेन में अंदर चढक़र सामान बेचने की इजाजत नहीं होगी। रेलवे का मानना है कि वेंडरों की संख्या बढऩे से हर डिब्बे तक वेंडरों की पहुंच हो सकेगी।


इनका कहना है
स्टॉल संचालकों को वेंडर बढ़ाने संबंधी निर्देश मिले हैं। इस संबंध में स्टॉल संचालकों से बातचीत की जा रही है। तय मापदंड के अनुसार स्टेशन पर व्यवस्था की जाएगी।
- सी.एल. मीना, स्टेशन अधीक्षक गंगापुरसिटी

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned