चर्चित निखिल बैरवा हत्याकांड का एक और आरोपी गिरफ्तार

चर्चित निखिल बैरवा हत्याकांड का एक और आरोपी गिरफ्तार

By: Subhash

Published: 09 May 2021, 08:53 PM IST

सवाईमाधोपुर. गंगापुरसिटी में शादी में डांस के दौरान झगड़ा होने पर निखिल बैरवा हत्याकांड मामले में पुलिस के हाथ एक ओर सफलता हाथ लगी है। मामले में पुलिस ने रविवार को एक जने को और गिरफ्तार किया है।
पुलिस अधीक्षक सुधीर चौधरी ने बताया कि गत 16 फरवरी की रात को थाना सदर गंगापुरसिटी के अन्तर्गत जयपुर बाइपास पर हुए निखिल बैरवा हत्या काण्ड के मामले मे आरोपी योगेश गुप्ता उर्फ योगी महाजन निवासी 9बी निर्मल कुटर गायत्री बिहार रतनाडा जोधपुर हाल शंकर पुरा लक्ष्मी नगर नई दिल्ली को गिरफ्तार किया है।
ये था मामला
गत 17 फरवरी को फरियादी बृजमोहन बैरवा निवासी गौतम कॉलोनी ने रिपोर्ट दर्ज कराई थी। इसमें बताया कि उसके पुत्र निखिल बैरवा गंगापुरसिटी में शादी में गया था। शादी में डांस के दौरान झगड़ा होने पर गौरव गुप्ता उर्फ टीटू, दीपक सौनी, गिरीश सिन्धी उर्फ सेठी, मनीष इसरानी उर्फ मुन्ना, गौरव खत्री उर्फ गोरू, योगेश गुप्ता उर्फ योगी, कलाम एव अन्य तीन-चार व्यक्तियों ने लाठी, डण्डे,सरिये व लात घूसों से मारपीट कर हत्या कर दी थी। घटना पर थाना सदर गंगापुरसिटी पर अभियोग संख्या 32/2021 धारा 147,148,149,323,341, 302, 427, 504, 201 व 3 एससी-एसटी एक्ट में दर्ज किया गया था।
टीम गठित कर की कार्रवाई
पुलिस ने बताया कि प्रकरण में अब तक आठ आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है। प्रकरण मे दो आरोपी योगश गुप्ता उर्फ योगी गुप्ता एवं रवि उर्फ पुष्पेन्द्र उर्फ धर्मेन्द्र निवासी मानसरोवर जयपुर घटना के बाद से फरार चल रहे थे। गंगापुरसिटी अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हिमांशु के निर्देशन में दोनों आरोपियों की गिरफ्तारी करने के लिए वृताधिकारी गंगापुर सिटी कालुराम मीणा के सुपर विजन एवं राजकुमार मीणा थानाधिकारी गंगापुर सदर के नेतृत्व में विशेष टीम का गठन किया था।
टीम गठित कर भेजा दिल्ली
वृताधिकारी गंगापुर सिटी कालुराम मीणा ने बताया कि गत 8 मई को अजीत मोगा सहायक उप निरीक्षक सायबर सेल की सूचना पर बच्चू सिंह सहायक उप निरीक्षक, पुष्पेन्द्र सिंह चौधरी हैड कानि व ऋषिकेश कांस्टेबलकी एक पुलिस टीम को दिल्ली भेजा गया। उक्त टीम के सार्थक प्रयास कर योगेश गुप्ता उर्फ योगी को पकडऩे में सफलता मिली।
पूछताछ में हुआ खुलासा
आरोपी योगेश उर्फ योगी ने पूछताछ में बताया कि वह दिल्ज्ञ्ली में शंकरपुरा में जॉब कर रहा था। इससे पहले उसने पंजाब व दिल्ली के अन्य इलाकों में फरारी काटी थी। आरोपी योगश उर्फ योगी ने घटना के बाद अपने परिवार जन एवं मित्रों से सम्पर्क नहीं रखा। पुलिस की टीम ने योगेश उर्फ योगी की महिला मित्र को ट्रेस कर आरोपी को पकडऩे में सफलता प्राप्त की है। पुलिस की टीम लगभग एक माह से फरार आरोपी का पीछा कर रही थी।

Subhash Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned