विकास शुल्क के विरोध में उतरे विद्यार्थी

गंगापुरसिटी . राजकीय महाविद्यालय में विकास शुल्क वसूलने के विरोध में शुक्रवार सुबह ११ बजे एबीवीपी के नेतृत्व में विद्यार्थी कॉलेज गेट के सामने धरने पर बैठ गए। इस दौरान छात्र-छात्राएं विकास शुल्क वृद्धि को वापस लेने के लिए नारेबाजी करते रहे।

गंगापुरसिटी . राजकीय महाविद्यालय में विकास शुल्क वसूलने के विरोध में शुक्रवार सुबह ११ बजे एबीवीपी के नेतृत्व में विद्यार्थी कॉलेज गेट के सामने धरने पर बैठ गए। इस दौरान छात्र-छात्राएं विकास शुल्क वृद्धि को वापस लेने के लिए नारेबाजी करते रहे।


विद्यार्थियों के प्रदर्शन व हंगामे के बाद उदेई मोड़ पुलिस थानाधिकारी जगदीश भारद्वाज ने धरने पर बैठे छात्रों से समझाइश की, लेकिन छात्र अपनी मांग पर अड़े रहे। इसके बाद प्राचार्य प्रो. रामकेश मीना के आश्वासन के बाद छात्र धरने से हटे। दरअसल कोटा विश्वविद्यालय की ओर से इन दिनों स्नातक एवं स्नातकोत्तर परीक्षा के आवेदन भरवाए जा रहे हैं। इसी बीच कॉलेज प्रशासन आवेदक परीक्षार्थियों से 2०० रुपए विकास शुल्क के नाम पर अलग से वसूल रहा है। विद्यार्थी विकास शुल्क को वापस लेने की मांग करते हुए धरने पर बैठे थे।

बाद में स्थानीय प्रशासन एवं प्राचार्य के द्वारा कॉलेज विकास कमेटी के समक्ष मामले को रखने के आश्वासन के बाद करीब २ बजे छात्र धरने से हटे। इसके बाद छात्रों ने एडीएम को ज्ञापन सौंप कर विकास शुल्क से राहत प्रदान करने की गुहार लगाई। एबीवीपी के नगरमंत्री सीताराम गुर्जर ने बताया कि विकास शुल्क के नाम पर कॉलेज प्रशासन द्वारा आर्थिक भार थोपना न्यायसंगत नहीं है। कोटा यूनिवर्सिटी समेत किसी भी कॉलेज में यह शुल्क नहीं लिया जा रहा है। यदि इस मामले में राहत नहीं मिलती है तो विद्यार्थियों की ओर से विरोध-प्रदर्शन किया जाएगा। प्रदर्शन के दौरान जिला सहसंयोजक नागेश शर्मा, नगर सहमंत्री महेश सैनी, मनोज पंडित, इकाई अध्यक्ष तरुण शर्मा, अवधेश गुर्जर, अशोक सैनी आदि छात्र-छात्राएं मौजूद रह।


इनका कहना है
विकास शुल्क लिए जाने का निर्णय कॉलेज विकास कमेटी में लिया गया था। यदि छात्रों को इस पर आपत्ति है तो विकास कमेटी की बैठक बुलाकर इस पर मंथन किया जाएगा।
- प्रो. रामकेश मीना, प्राचार्य राजकीय महाविद्यालय।

Rajeev Reporting
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned