नासा का खुलासा : ब्रह्मांड की शक्तिशाली चुंबक से आ रहे रहस्यमय रेडियो संकेत

नासा ने बताया पांच दूरस्थ आकाशगंगा से आ रहे से फास्ट रेडियो ब्रस्ट।
हबल स्पेस टेलिस्कोप के जरिए गैलेक्सी से आ रही एफआरबी का पता लगाया है।

वॉशिंगटन। ब्रह्मांड की कई ऐसी पहेलियां हैं, जिन्हें सुलझाना बाकी है। ब्रह्मांड की सबसे शक्तिशाली चुंबक से पृथ्वी की ओर आ रहे रहस्यमय रेडियो संकेत ढूंढने में अमरीकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा को सफलता मिली है।

नासा ने बताया कि ये संकेत पांच दूरस्थ आकाशगंगा से आ रहे हैं। इन्हें फास्ट रेडियो ब्रस्ट (एफआरबी) कहा जाता है। वैज्ञानिकों का कहना है कि सूरज एक साल में जितनी ऊर्जा देता है, उतनी ऊर्जा इन एफआरबी से एक सेकंड के 1/1000वें हिस्से में पैदा हो जाती है। विशेषज्ञों के अनुसार यह चुंबक साधारण चुंबक की तुलना में 10 ट्रिलियन गुना ज्यादा शक्तिशाली है। एस्ट्रोनॉमर्स ने 5 एफआरबी जिन गैलेक्सी से आ रही हैं, उनका पता लगा लिया है। हबल टेलिस्कोप ने यह खोज की है। हबल ने दिखाया है कि ये एक गैलेक्सी की स्पाइरल आर्म पर या उसके पास में हैं।

1000 से ज्यादा एफआरबी ढूंढी -
पाक्र्स रेडियो ऑब्जर्वेटरी के रेकॉर्ड के मुताबिक 24 जुलाई, 2001 को पहली बार एफआरबी का पता चला था। अब तक अंतरिक्ष विज्ञानी 1000 से ज्यादा एफआरबी ढूंढ चुके हैं पर 15 का ही किसी गैलेक्सी के साथ संबंध पता चल सका है। स्टडी की प्रमुख लेखिका कैलिफोर्निया यूनिवर्सिटी की एलेक्सेंद्रा मैनिंग्स ने बताया, पहला मौका है जब एफआरबी की हाई रेजोल्यूशन तस्वीरें मिली हैं।

ऐसे होता है न्यूट्रॉन स्टार का जन्म -
ये ५ एफबीआर गैलेक्सी आर्म के सबसे चमकीले हिस्से से नहीं आई हैं। माना जा रहा है कि ये मैग्नेटर से आ रही हो सकती हैं। मैग्नेटर ऐसे घने सितारे हैं जिनका चुंबकीय क्षेत्र बहुत शक्तिशाली होता है। विशाल सितारे जब न्यूट्रॉन स्टार बन जाते हैं, तो मैग्नेटाइज भी हो सकते हैं।

मैग्नेटर होते हैं ब्रह्मांड के शक्तिशाली चुंबक -
मैग्नेटर न्यूट्रान स्टार की तरह से होते हैं जो ब्रह्मांड में सबसे मजबूत चुंबक माने जाते हैं। न्यूट्रॉन स्टार का जन्म उस समय हुआ था जब हमारे सूरज से भी बड़े तारों की ऊर्जा खत्म हो गई और उन्होंने खुद को सुपरनोवा में तब्दील कर लिया। मैग्नेटर काफी खास होते हैं, जहां न्यूट्रॉन स्टार का एक बेहद शक्तिशाली मैग्नेटिक फील्ड होता है। खगोलविदों का कहना है कि उन्होंने पिछले साल हमारी आकाशगंगा में एक न्यूट्रॉन स्टार का पता लगाया था।

विकास गुप्ता
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned