NASA ने किया दूसरा ब्रहमांड मिलने का दावा, उल्टी बारिश से मिले संकेत

  • Scientists Found Parallel Universe : समय से उल्टे चलने वाले ब्रहमांड को लेकर वैज्ञानिकों ने किए चौंकाने वाले खुलासे
  • अंटार्कटिका पर एक प्रयोग के दौरान रेडियो डिटेक्टर ने पकड़े अजीबो-गरीब सिग्नल

By: Soma Roy

Published: 21 May 2020, 02:53 PM IST

नई दिल्ली। आकाशगंगा (Galaxy) के रहस्य की गुत्थी वैसे ही बेहद उलझी हुई है। ऐसे में NASA के वैज्ञानिकों ने एक चौंकाने वाला दावा करके सबको सोचने पर मजबूर कर दिया है। दरअसल वैज्ञानिकों को दूसरे ब्रहमांड (Universe) का पता चला है। इसका संकेत उन्हें कॉस्मिक किरणों (Cosmic Rays) कह अनोखी बारिश देखकर मिला। ये बारिश उल्टी दिशा में हो रही थी।

नासा के वैज्ञानिक अंटार्कटिका (Antarctica) में एक प्रयोग कर रहे थे। इसके लिए अंटार्कटिका से ऊपर जाने के लिए रेडियो डिटेक्टर लगे एक बड़े गुब्बारे का इस्तेमाल किया गया था। इस रेडियो डिटेक्टर का नाम अंटार्कटिका इम्पल्सिव ट्रांजिएंट एंटीना (ANITA) है। वैसे धरती पर हाई-एनर्जी के कण लगातार हवा के जरिए अंतरिक्ष से आते हैं। मगर शोध में पहली बार पता चला कि कुछ भारी कण पृथ्वी के 'ऊपर' से आ रहे हैं। इसका मतलब धरती के समान एक दूसरा ब्रह्मांड भी मौजूद है। जहां पर समय उल्टा चलता है।

बिग बैंग से हुआ निर्माण
वैज्ञानिकों के अनुसार 13.8 बिलियन साल पहले एक बिग बैंग यानी अंतरिक्ष में एक महाटक्कर हुई थी। उस वक्त दो ब्रह्मांड बने थे। इनमें से एक में इंसान रहते हैं। जबकि दूसरा रहस्य की गर्त में खो गया था। ये समय के साथ पीछे चल रहा है।

रेडियो डिटेक्टर पर दिखी अनोखी चीज
प्रयोग के दौरान रेडियो डिटेक्टर उन कॉस्मिक किरणों को पकड़ रहा था जो अंतरिक्ष से आकर अंटार्कटिका की बर्फ पर टकराकर ठंडी शुष्क हवा में बदल रही थी। आमतौर पर कॉस्मिक किरणों की बारिश अंतरिक्ष में होती है, लेकिन शोध के दौरान पाया गया कि किरणों की बारिश धरती से हो रही थी।

पहले के अध्ययन से हुई पुष्टि
ANITA ने इससे पहले साल 2006 और 2014 की उड़ान के दौरान भ्री उच्च ऊर्जा कणों को निकलते देखा था। अध्ययन में पाया गया कि कॉस्मिक किरणें (Reflection) से नहीं बल्कि उत्सर्जन से नीचे से ऊपर की ओर जा रहे थे। 2016 में हुए अध्ययन में भी इस बात की पुष्टि हुई कि यह कॉस्मिक किरणों की बारिश है।

शोध पत्र किया गया जारी
उल्टी बारिश का होना विज्ञान के सिद्धांतों को चुनौती देने जैसा है, लेकिन इस तरह की अनोखी घटना ने हवाई यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों को सोच में डाल दिया। इस बारे में यूनिवर्सिटी भौतिक विज्ञान के प्रोफेसर पीटर ग्रोहैम ने कहा, “ऐसा लगता है कि कॉस्मिक किरणें बर्फ से निकल रही थीं। यह काफी अजीब बात है। यह भौतिकी मान नियमों के विरुद्ध दिखाई देता है।

Show More
Soma Roy Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned