script12 and 7 mm of rain fell in these cities of MP in 24 hours | Weather Report- मानसून आने से पहले ही MP के इन शहरों में 24 घंटे में हुई 12 व 7 एमएम बारिश | Patrika News

Weather Report- मानसून आने से पहले ही MP के इन शहरों में 24 घंटे में हुई 12 व 7 एमएम बारिश

- मौसम विभाग का अनुमान क्या कहता है मानसून की दस्तक को लेकर, जानें यहां

सीहोर

Updated: June 13, 2022 02:06:08 pm

सीहोर। एक ओर जहां मध्यप्रदेश का अधिकांश हिस्सा अभी भी प्री—मानसून के आने और बरसने की राह देख रहा है। वही प्रदेश में मानसून की एंट्री से पहले ही प्रदेश में एक ही जिले के दो शहरों में क्रमश: 12 व 7 एमएम बारिश केवल 24 घंटों में ही हो गई। वहीं इसी दौरान इस जिले में औसत बारिश 4.3 एमएम रेकार्ड हुई है।

heavy_rain_in_mp_2022.png

जिले में प्री मानसून एक्टिविटी के साथ 24 घंटे में रविवार सुबह 8 बजे तक आष्टा में सर्वाधिक 12 तो सीहोर में सात एमएम (मिलीमीटर) बारिश रेकॉर्ड हुई है। वहीं अन्य तहसील में बारिश का आंकड़ा कम रहा है। हालांकि दिन में कही से भी बारिश होने के खबर नहीं मिली। ऐसे में बारिश के चलते कई जगहों पर सड़कों में तक पानी भर गया। वहीं बारिश से दिन और रात के तापमान में कमी आई है।

वहीं मौसम विभाग की मानें तो अब हर दिन पांच से सात एमएम बारिश होने का अनुमान है। हालांकि तेज बारिश की दस्तक 15 जून के बाद ही होगी। ऐसे में लोगों को तेज बारिश होने का कुछ दिन और इंतजार करना पड़ेगा। वहीं मौसम के जानकारों के अनुसार प्रदेश में मानसून का आगमन 20 जून से होगा।

दरअसल मौसम के अचानक यूटर्न लेने से दोपहर बाद शनिवार को सीहोर में तेज बारिश का दौर शुरू हो गया था। सीहोर, आष्टा सहित अन्य जगह यह बारिश रुक-रुककर रात तक बरसती रही थी। भू अभिलेख के अनुसार 24 घंटे में रविवार सुबह आठ बजे तक जिले की औसत बारिश 4.3 एमएम रेकार्ड हुई है।

ऐसे में रविवार, 12 जून को न्यूनतम तापमान 23.5 और अधिकतम 40.2 डिग्री सेल्सियस रेकार्ड हुआ है। वही पश्चिम तरफ से सात किमी प्रति घंटा की रफ्तार से हवा दर्ज हुई है। तापमान में कमी आने के बावजूद लोगों को गर्मी, उमस से कोई राहत नहीं मिली है। रविवार को गर्मी, उमस के कारण दिनभर लोग परेशान होते नजर आए।
किस तहसील में कितनी एमएम हुई बारिश-

तहसील : बारिश
सीहोर : 7.0
श्यामपुर : 5.0
आष्टा : 12.0
जावर : 2.0
इछावर : 8.0
नसरुल्लागंज : 00
बुदनी : 00
रेहटी : 00

नोट: भू अभिलेख के अनुसार 24 घंटे में रविवार सुबह 8 बजे तक दर्ज बारिश है।
अभी प्री मानसून की एक्टिविटी चल रही है। इस कारण हर दिन पांच से सात एमएम तक बारिश होने का अनुमान है। मानसून की दस्तक 15 जून के बाद कभी भी हो सकती है।
डॉ. एसएस तोमर, मौसम वैज्ञानिक आरएके कॉलेज सीहोर
यहां अब भी हो रहा इंतजार
वहीं प्रदेश के कई जिलों में बारिश ने इस बार किसानों को असमंजस में डाल दिया है। खेत बोवनी के लिए तैयार है। विदिशा में खाद-बीज की व्यवस्था भी किसान कर रहे हैं, लेकिन बारिश नहीं हो रही। किसानों का कहना है कि जिले में 10 जून से मानसून आ जाता है लेकिन पिछले कुछ दिनों से बादल घिर तो रहे हैं पर बरस नहीं रहे, जबकि गत वर्ष इस समय तक जिले में 98.6 मिमी बारिश हो चुकी थी। खेत पानी से लबालब थे और बोवनी के लिए बारिश के रुकने का इंतजार किया जा रहा था।
किसानों का कहना है कि बारिश के कारण बोवनी का गणित गड़बड़ाया हुआ है। देरी से बोवनी हुई तो उन्हें बीज बदलने की स्थिति बनेगी। धान की बोवनी के लिए किसानों को अच्छी बारिश का इंतजार है। कम बारिश की स्थिति में किसानों का रुख सोयाबीन की बोवनी की तरफ रहेगा।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

महाराष्ट्र की राजनीति में बड़ा उलटफेर: एकनाथ शिंदे ने ली मुख्यमंत्री पद की शपथ, देवेंद्र फडणवीस बने डिप्टी सीएमMaharashtra Politics: बीजेपी ने मौका मिलने के बावजूद एकनाथ शिंदे को क्यों बनाया सीएम? फडणवीस को सत्ता से दूर रखने की वजह कहीं ये तो नहीं!भारत के खिलाफ टेस्ट मैच से पहले इंग्लैंड को मिला नया कप्तान, दिग्गज को मिली बड़ी जिम्मेदारीAgnipath Scheme: अग्निपथ स्कीम के खिलाफ प्रस्ताव पारित करने वाला पहला राज्य बना पंजाब, कांग्रेस व अकाली दल ने भी किया समर्थनPresidential Election 2022: लालू प्रसाद यादव भी लड़ेंगे राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव! जानिए क्या है पूरा मामलाMumbai News Live Updates: शरद पवार ने किया बड़ा दावा- फडणवीस डिप्टी सीएम बनकर नहीं थे खुश, लेकिन RSS से होने के नाते आदेश मानाUdaipur Murder: आरोपियों को लेकर एनआईए ने किया बड़ा खुलासा, बढ़ी राजस्थान पुलिस की मुश्किल'इज ऑफ डूइंग बिजनेस' के मामले में 7 राज्यों ने किया बढ़िया प्रदर्शन, जानें किस राज्य ने हासिल किया पहला रैंक
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.