सावधान - बिजली के खम्भों-लाइन से रखें दूरी, हो सकता है हादसा

सावधान - बिजली के खम्भों-लाइन से रखें दूरी, हो सकता है हादसा

Sunil Vandewar | Publish: May, 02 2019 12:24:56 PM (IST) | Updated: May, 02 2019 12:24:57 PM (IST) Seoni, Seoni, Madhya Pradesh, India

विद्युत सुरक्षा के लिए सावधानी बरतने दी जा रही जानकारी

सिवनी. मप्र पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण कम्पनी लिमिटेड जबलपुर अंतर्ग सिवनी वृत के कार्यपालन यंत्री विनोद कुमार लोखण्डे द्वारा आम जनता को विद्युत सुरक्षा के प्रति सावधानी बरतने की जानकारी देते कहा गया है कि गर्मी व बरसात के मौसम में विद्युत लाईनों, खम्भों एवं अन्य उपकरणों से पर्याप्त दूरी बनाए रखें क्योंकि थोड़ी सी भी असावधानी से दुर्घटना घटित हो सकती है।
सावधानी बरतने की जानकारी देते कहा कि नए घर बनाते समय विद्युत लाइनों से समुचित दूरी रखें। लाइन के नीचे घर इत्यादि का निर्माण न करें। किसी भी विद्युत लाइन के नीचे व ट्रांसफार्मर के नजदीक खलिहान न बनाएं तथा खड़ी फसलों वाले खेतों के पास विद्युत लाइनों से छेड़छाड़ न करें ताकि आगजनी जैसी कोई घटना न घटे। बरसात होने या जमीन गीली होने पर विद्युत पोलों एवं स्टे वायर को न छुएं। विद्युत पोल एवं स्टे वायर में करेंट आने पर उसके चारों ओर कटीली झाडियां रखे एवं पालतू जानवर तथा बच्चों को उनसे दूर रखें एवं इसकी सूचना निकटतम बिजली कार्यालय को किसी भी माध्यम से दें। आंधी-तूफान या अन्य कारण से आकस्मात विद्युत लाइन के तार टूट जाने पर समीप जाकर उन्हें छूने का प्रयास न करें एवं तुरंत इसकी सूचना निकटतम बिजली कार्यालय के अधिकारियों, कर्मचारियों को दें। संभव हो तो किसी आदमी को उसी समय अन्य उपभोक्ताओं को चेतावनी देने के लिए उस स्थान पर रखें। बिजली के खम्भों या स्टे वायर से जानवर इत्यादि न बांधें और न हीं इससे जानवरों को रगडऩे दें।
कहा कि बिजली के खम्भों या स्टे वायर से कपड़े सुखाने के लिए जीआई तार या रस्सी न बांधे। गीले हाथ होने पर बिजली के स्विच आदि न छुएं। घरों में आईएसआई वाले विद्युत उपकरणों का ही उपयोग करें। अवैध कनेक्शन के लिए कटिया न फसाएं,ं इससे विद्युत दुर्घटना हो सकती है। यदि किसी पेड़ को विद्युत तार छू रहा है तो उस पेड़ पर न चढ़े एवं उसे छूने का भी प्रयास न करें। कटे-फटे एवं नंगे तारों का उपयोग घरेलू एवं अन्य कार्यो के लिए न करें। विद्युत प्रदाय अवरूद्ध होने की दशा में स्वत: लाइन सुधार, ट्रांसफार्मर सुधार, कट आउट सुधार, केबिल सुधार आदि न करें वरन निकटतम बिजली कार्यालय व क्षेत्रीय लाइन कर्मचारी के साथ-साथ 1912 कॉल सेंटर में किसी भी माध्यम से जानकारी दें। कहा कि इन सावधानियों का पालन स्वयं करने एवं अन्य उपभोक्ता तथा नागरिकों को उनका पालन करने के लिए समझाइश देने को कहा है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned