इस साल साइकिल वितरण में नहीं होगी देरी

इस साल साइकिल वितरण में नहीं होगी देरी

Sunil Vandewar | Publish: Jun, 11 2019 11:54:14 AM (IST) Seoni, Seoni, Madhya Pradesh, India

2018-19 में देरी से बटी थी साइकिल, इस बार दिख रही गति

सिवनी. बीते शिक्षण सत्र में देरी से साइकिल वितरण हुआ था, जिसके कई कारण गिनाए जा रहे हैं, हालांकि इस बार देरी न करते हुए विभाग जल्दी काम पूरा करने के प्रयास में जुट गया है। जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय के साइकिल वितरण शाखा प्रभारी कहते हैं कि जैसे ही प्रवेश प्रक्रिया पूर्ण होगी, शीघ्र पात्रों की जानकारी डीपीआई को भेजी जाएगी।
इस तैयारी को देखते हुए उम्मीद की जा रही है कि जिले के सरकारी स्कूलों में कक्षा ६वीं एवं ९वीं के विद्यार्थियों को जुलाई-अगस्त महीने में साइकिल मिल सकती हैं। विभागीय अमले से मिली जानकारी के मुताबिक आचार संहिता के कारण यह काम अटक रहा था, अब लोक शिक्षण संचालनालय ने साइकिल खरीदने के आर्डर दे दिए हैं। इस बार मिलने वाली साइकिल अच्छी क्वालिटी की होगी और उसकी सर्विसिंग भी की जाएगी।
जिले में अभी प्रवेश प्रक्रिया जारी है, ऐसे में पात्र विद्यार्थियों की संख्या बढ़ेगी, इसके उपरांत ही साइकिल योजना के पात्र विद्यार्थियों की जानकारी डीपीआई को भेजी जाएगी। सरकारी स्कूलों में पढऩे वाले उन विद्यार्थियों को साइकिल प्रदान की जाएगी, जिनके घर से स्कूल की दूरी दो किमी से अधिक है। डीपीआई ने ऐसे विद्यार्थियों का चयन कर साइकिल खरीदने के आदेश दे दिए हैं। सत्र २०१९-२० में उन सभी विद्यार्थियों को साइकिल दी जाएंगी जो ६वीं व ९वीं में पढ़ रहे हैं।
उल्लेखनीय है कि जिले में सत्र २०१८-१९ में देरी से साइकिल प्राप्त होने, आचार संहिता लागू होने, प्राप्त साइकिलों में उचित सुधार न होने से वितरण में देरी हुई थी। इसलिए इस वर्ष स्कूल खुलने के साथ ही साइकिल बांटने की योजना पर तेजी से काम किया जाएगा, ताकि विद्यार्थियों को इसका लाभ मिल सके।
इस बार छात्रावासों में रहने वाले विद्यार्थियों को भी सइाकिल दिए जाने की योजना पर विचार हो रहा है। हालांकि छात्रावास छोडऩे पर साइकिल वहीं जमा करनी होगी। कक्षा ६वीं के विद्यार्थियों को १८ इंच एवं ९वीं के विद्यार्थियों को २० इंच की साइकिल दी जाएगी।

इनका कहना है -
शासन की विद्यार्थियों से जुड़ी सभी योजनाओं पर विभाग से प्राप्त निर्देश अनुसार समय पर क्रियान्वयन कराए जाने के प्रयास हो रहे हैं। जो भी कार्य दिए जाते हैं, समय-सीमा में पूरा करने के लिए कहा गया है।
जीएस बघेल, प्रभारी जिला शिक्षा अधिकारी

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned