बाजे-गाजे के साथ निकली शोभायात्रा

बाजे-गाजे के साथ निकली शोभायात्रा

santosh dubey | Publish: Sep, 05 2018 01:00:00 PM (IST) Seoni, Madhya Pradesh, India

यादवों ने झूमर पहन कर प्रस्तुत किया क्षेत्रीय लोक नृत्य

सिवनी. भगवान कृष्ण जन्मोत्सव पर आदेगांव नगर सहित आसपास ग्रामीण क्षेत्रों में बड़े धूमधाम से बनाया गया। साथ ही जगह-जगह विविध आयोजन भी किए गए स्थानीय कृष्ण मंदिर में रात्रि 12 बजे ढोलबाजों व आतिस्वाजी के साथ जन्मोत्सव मनाया गया फिर वैदिक मंत्रोच्चारण के साथ विधि पूर्वक विशेष पूजन किया।
इसी तरह खरपति मंदिर में प्रतिवर्षानुसार इस वर्ष भी देवकी नंन्दन का जन्मोत्सव स्थानीय यादव बंधुओं सहित खेरापति समिति द्वारा सामूहिक रूप से मनाया गया। यहां विमान स्थापना भी की गई। साथ ही सोमवार को ढोलबाजों के साथ भव्य शोभायात्रा नगर भ्रमण के लिए निकाली गई। जिसमें भगवान श्रीकृष्ण व माता राधारानी की सुंदर झांकी व अश्व पर सवार बलदाऊ एवं भगवान के परम मित्र सुदामा की जीवन्त मनमोहक झांकी बनाई गई जिसकी जगह-जगह श्रद्धालुओं ने पूजन किया।
शोभायात्रा मंदिर प्रांगण से बुधवारी होते बसस्टैंड से पुन: खेरापति रामलीला मैदान पहुंची। डीजे की धुन में युवाओं ने जमकर नाच किया। यात्रा के समापन के उपरांत रात्रि में जन्मोत्सव व पूजन किया साथ ही स्थानीय संगीत कलाकारों सहित आसपास क्षेत्र से भजन मंडलियों द्वारा सम्पूर्ण रात्रि भगवान की बाल लीलाओं का बखान संगीत के माध्यम से किया जिसमें महिला भजन मंडल भी शामिल रहे। खीर, पंजरी व गुड़ के लड्डूओं का महाभोग भगवान को अर्पित कर श्रद्धालुओं में बांटा गया।
साथ ही स्थानीय यादव बंधुओं द्वारा झूमर पहन कर क्षेत्रीय लोक नृत्य भी प्रस्तुत कर दिवारी गाई। नगर में जगह-जगह दही हांडी बांधी गई। जिन्हें बालरूप में सजे कन्हैया ने फोड़ा जिसमें बुधवारी चौक, माता दिवाला, गंजवार्ड, प्रेमनगर, बजरंग चौक, साहू वार्ड सहित सभी चौक चौराहों पर नवयुवकों के साथ नन्हें बालसखाओं का आयोजनों को सम्पन्न कराया।
इस तरह रविवार, सोमवार की सम्पूर्ण रात्रि धार्मिक गीतों से गुंजायमान रही। शांति व्यवस्था के लिहाज से स्थानीय चौकी प्रभारी शेक रफीक खान, रजनीकांत दुबे, गौरीशंकर धुर्वे ने सम्पूर्ण नगर की चौकसी की व शांति पूर्वक कार्यक्रम को सम्पन्न हुआ।
खेलकूद स्पर्धाओं में बच्चों ने लिया हिस्सा
कृष्ण जन्माष्टमी के उपलक्ष्य में खैरापलारी के दुर्गा चौक में नन्हें बच्चों द्वारा विविध कार्यक्रम का आयोजन स्थानीय समिति द्वारा कराया गया। इस कार्यक्रम में स्लो साइकिल दौड़, कुर्सी दौड़, मटकी फोड़ जैसे विविध स्पर्धाएं कराए गए। बच्चों को उत्साहवर्धन के लिए उन्हें पुरस्कार दिया गया। इस कार्यक्रम में बड़ी संख्या में ग्राम वासी उपस्थित रहे।
बच्चों ने दी सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुतियां
श्रीराधा-कृष्ण मंदिर भोमा में रात्रि नौ बजे नन्हें-मुन्ने बच्चों ने श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के अवसर पर सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुतियां दी। इसके बाद रात्रि 12 बजे आतिशबाजी व बाजे-गाजे के साथ हर्षोल्लास से जन्म उत्सव मनाया गया वहीं जगन्नाथ मंदिर में भंडारा कार्यक्रम आयोजित हुआ।
कृष्ण मंदिरों में हुआ हवन पूजन, अभिषेक
पूरे भारतवर्ष में बड़ी श्रद्धा और भक्ति से मनाया जाने वाला कृष्ण जन्माष्टमी नगर खैरापलारी में भी मनाया गया जगह जगह धार्मिक अनुष्ठान के साथ पूजा पाठ देर रात तक चलता रहा कृष्ण मंदिरों में हवन पूजन अभिषेक के बाद प्रसाद वितरण किया गया सभी ने अपने घर में नन्हें बच्चों को भगवान श्री कृष्ण एवं राधा की अद्भुत झांकी बनाई गई दुर्गा चौक में भी कृष्ण जन्माष्टमी के उपलक्ष में सांस्कृतिक कार्यक्रम देर रात तक चलते रहे इस मौके पर बड़ी संख्या में ग्रामीण उपस्थित रहे
हर्षोल्लास से मनाई गई कृष्ण जन्माष्टमी महोत्सव
चमारीखुर्द. विकासखंड छपारा स्थित ग्राम पंचायत चमारीखुर्द के आदर्श सरस्वती शिशु मंदिर में विगत दिवस जन्माष्टमी कार्यक्रम मनाया गया। स्कूल परिसर में मटकी फोड प्रतियोगिता एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। भगवान श्रीकृष्ण और राधाजी की सजीव झांकी भी बनाई गई। बच्चों ने सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुतियां दी। व मटकी फोड प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया। कार्यक्रम में मुख्य रूप से अभिलाष अग्रवाल विधायक प्रतिनिधि, जसवंतसिंह ठाकुर विधालय अध्यक्ष, मोनिका शुक्ला, सतेन्द्र राजवीर, रज्जू सोनी, सुनील साहू, निखिल साहू, जसवंतसिंह ठाकुर, आचार्य दुर्गेश सोनी, सतेन्द्र ठाकुर, धर्मेन्द्र ठाकुर, शिवकुमार तिवारी, आरती श्रीवास्तव, प्राची सोनी, लक्ष्मी साहू, सरोज सोनी, रानू सोनी आदि मौजूद थे।
हर्षोल्लास से मनाया गया जन्माष्टमी पर्व
उपनगरीय क्षेत्र भैरोगंज स्थित श्रीअनंत विभूषित माता महाकाली मंदिर में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर्व हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। इस अवसर पर श्रीराधा-कृष्ण मंदिर में आकर्षक साज-सज्जा की गई। शाम को बच्चों की मटकी फोड़ प्रतियोगिता का आयोजन किया गया, जिसमें बड़ी संख्या में बच्चों ने भाग लिया। वहीं मटकी फोडऩे वाले गोविंदा को महेश हेडाऊ द्वारा 501 रुपए की राशि दी गई। मटकी फोड़ प्रतियोगिता के बाद खीर फलाहारी महाप्रसाद का वितरण किया गया। हवन-पूजन पश्चात रात्रि में केक काटकर भगवान श्रीकृष्ण का जन्मोत्सव हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए समिति के ब्रजलाल आत्मपूज्य व जित्तू सोनकेशरिया ने सभी का आभार व्यक्त किया।

गोली समाज के द्वारा धूमधाम से मनाई कृष्ण जन्माष्टमी
छपारा अंतर्गत गणेशगंज स्थित बाला भवानी मंदिर में क्षेत्र के गोली समाज के द्वारा कृष्ण जन्माष्टमी बड़े ही धूमधाम से मनाई गई। जिसमें समाज के लोगों द्वारा विभिन्न आयोजन रखे गए थे। जिसमें बड़ी संख्या में गोली समाज के लोग शामिल हुए। आनंद चांग ने बताया कि कृष्ण जन्माष्टमी के उपलक्ष्य में भजन कीर्तन मटकी फोड़ प्रतियोगिता के साथ-साथ सैला नृत्य भी रखा गया था। जिसमें समाज के लोगों ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। कार्यक्रम में शिक्षा के क्षेत्र में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले समाज के छात्र-छात्राओं को प्रशस्ति-पत्र देकर भी सम्मानित किया गया और उनके उज्जवल भविष्य की कामना की गई। सांस्कृतिक कार्यक्रम में हिस्सा लेने वाले समाज के बंधुओं को गोविंद पुरस्कार दिया गया।
आंगनबाड़ी में मनाई गई कृष्ण जन्माष्टमी
विकासखंड घंसौर के अंतर्गत महिला बाल विकास परियोजना के अंतर्गत आंगनबाड़ी किंदरई क्रमांक एक-दो में सोमवार को कृष्ण जन्माष्टमी उत्सव मनाया गया। जिसमें बच्चों को राधा-कृष्ण वेषभूषा में सजाया गया। इस मौक पर आंगनबाड़ी कार्यकर्ता रानी नवले, कृष्णा बाई ग्रीयाम सहायिका, शंकरियाबाई, कौशले, मुन्नीबाई कतिया, किन्दरई ग्राम के सरपंच सतेन्द्र कुलस्ते आदि मौजूद थे।
आधी रात को जन्मे कन्हैया, मनाया जन्मोत्सव
ग्राम पंचायत चमारीखुर्द के ग्राम चमारीकला के राधाकृष्ण मंदिर में रविवार को जन्माष्टमी का पर्व धूमधाम से मनाया गया। जिसमें सभी ग्रामवासियों सहित आसपास के ग्रामों से कृष्ण भक्तों की भीड़ इकट्ठी हुई। शाम छह बजे से रात्रि 12 बजे तक ग्रामीणों द्वारा भक्तिमय कीर्तन का आयोजन किया गया। रात्र में धूमधाम से बैंडबाजे के साथ भगवान का जन्मोत्सव मनाया गया। जिसमें भगवान को दूध, दही, घी, पंचामृत से स्नान कराकर नूतन वस्त्र पहनाए गए। उसके बाद भगवान को फल-फूल और मिठाइयों का भोग लगाया गया। जन्म के समय नंद के घर आनंद भयो जय कन्हैया लाल की गूंज समूचे परिसर में सुनाई पड़ रही थी। महाआरती के बाद भंडारा प्रसाद का वितरण किया गया। समिति के युवाओ द्वारा मटकीफोड़ प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया जिसमें कई प्रतिभागी टीमों ने भाग लिया।
चमारीखुर्द में भी मनाई गई जन्माष्टमी
गांव के श्यामसिंह ठाकुर के आवास में भी 12 घंटे के अखण्ड कीर्तन कार्यक्रम के साथ जन्माष्टमी का त्यौहार मनाया गया। जिसमें भगवान की झांकी सजाकर लगातार 12 घंटे तक हरे कृष्णा हरे रामा, कृष्णा कृष्णा हरे हरे की धुन के साथ अखण्ड कीर्तन का आयोजन किया गया। कीर्तन के बाद मंडली का आयोजन किया गया। जिसमें सभी ग्रामवासियों की उपस्थिति रही।

Ad Block is Banned