अधिकारी छुट्टी पर, कर्मचारियों की मौज

अधिकारी छुट्टी पर, कर्मचारियों की मौज

Sunil Vandewar | Publish: Apr, 25 2018 11:54:13 AM (IST) Seoni, Madhya Pradesh, India

उद्यानिकी विभाग का मामला, प्रभारी भी नहीं मौजूद

सिवनी. उद्यानिकी विभाग कार्यालय सिवनी की सहायक संचालक नीलम पाटिल १२ अपै्रल से मई महीने तक अवकाश पर हैं। ऐसे में जो भी काम होंगे प्रभारी अधिकारी के चार्ज लेने के बाद ही होंगे। प्रभारी कब तक चार्ज लेंगे यह भी कह नहीं सकते। ये कहना है उद्यानिकी विभाग कार्यालय में मौजूद अमले का।
कलेक्ट्रेट परिसर स्थित सहायक संचालक उद्यानिकी कार्यालय में पहुंचने वाले किसानों, आमजनों को इन दिनों आवश्यक जानकारी पाने, कागजी प्रक्रिया पूर्ण करने, आरटीआइ की जानकारी जैसे कार्यों के लिए बार-बार चक्कर लगाना पड़ रहा है। वहीं कार्यालय के अधिकांश कर्मचारियों की कुर्सी ज्यादातर समय खाली नजर आ रही हैं, क्योंकि इनको रोकने-टोकने वाले अफसर अवकाश पर चल रहे हैं।
इस कार्यालय में पदस्थ कर्मियों ने बताया कि सहायक संचालक सिवनी नीलम पाटिल द्वारा लंबे अवकाश पर चले जाने के बाद छिंदवाड़ा जिले के सहायक संचालक उद्यानिकी डॉ. नरेश तोमर को प्रभारी बनाए जाने के आदेश जारी हुए हैं। तोमर जब सिवनी कार्यालय का चार्ज लेंगे तब ही उनके हस्ताक्षर से कार्यालयीन जानकारी व आवश्यक कार्रवाई हो सकेगी या कोई कार्यालयीन जानकारी से अवगत कराया जाएगा।
तोमर ने कहा मुझे नहीं है जानकारी -
इस मामले में जब छिंदवाड़ा जिले के सहायक संचालक उद्यानिकी डॉ. नरेश तोमर से चर्चा की गई, तो उन्होंने कहा कि सिवनी का चार्ज मिलने की जानकारी नहीं है। क्योंकि वे अपने इलाज के लिए अवकाश पर चल रहे हैं। तोमर ने कहा कि हो सकता है आदेश जारी हुए हों, २६ अपै्रल को वे अवकाश समाप्त कर छिंदवाड़ा कार्यालय लौटेंगे, आदेश की जानकारी लेंगे, यदि सिवनी का चार्ज लेने आदेश पत्र प्राप्त होगा, तो सिवनी पहुंचकर कार्य करेंगे।
सडक़ का का धीमा, ग्रामीणों ने कहा बढ़े रफ्तार
पलारी से कहानी तक के ३७ किमी की सीसी रोड एवं सागर नदी पर पुल का कार्य जारी है। परंतु कार्य की रफ्तार को लेकर क्षेत्रीय नागरिकों ने नाराजगी जाहिर कर रहे हैं।
खैरापलारी के रामपाल, अरविंद, ब्रजेश, संतोष, बिरधीचंद व अन्य ग्रामीणों ने बताया कि इसी सडक़ के बीच पलारी से मैरा पंचायत को जोडऩे वाला सागर नदी पर पुल निर्माणाधीन है, लेकिन यह कार्य भी धीमी गति पर है जिससे नागरिकों को परेशानी हो रही है। ग्रामीणों ने कहा कि वर्षों पुराना यह क्षतिग्रस्त पुल गांव से महज ६०० मीटर की दूरी पर है। लोक निर्माण विभाग के माध्यम से शासन यहां नया पुल बनवा रही है। लेकिन काम की धीमी रफ्तार बताती है कि यह कार्य काफी लंबे समय तक चलेगा।
ग्रामीणों ने कहा कि फिलहाल में आने-जाने के लिए ग्रामीण पुराने पुल का ही इस्तेमाल कर रहे हैं,लेकिन यह भी जर्जर स्थिति में है। जिसको मरम्मत कर आवाजाही लायक बनाने की मांग की गई है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned