scriptThe quality of canal construction is poor, the MLA accuses the superin | केनाल निर्माण की गुणवत्ता खराब, विधायक ने अधीक्षण यंत्री पर लगाए भ्रष्टाचार के आरोप | Patrika News

केनाल निर्माण की गुणवत्ता खराब, विधायक ने अधीक्षण यंत्री पर लगाए भ्रष्टाचार के आरोप

मौके पर जाकर किया निरीक्षण, गुणवत्ताहीन एवं घटिया निर्माण देखकर भड़के

सिवनी

Published: January 20, 2022 10:37:01 am

सिवनी. सिवनी विधानसभा क्षेत्र के भाजपा विधायक दिनेश राय मुनमुन ने बुधवार को पेंच नहर की निर्माणाधीन केनालों के किए जा रहे कार्यों का निरीक्षण किया। इस दौरान कई खामिया नजर आई।
विधायक पेंच नहर के निर्माणाधीन केनालों का निरीक्षण करने दोपहर करीब एक बजे ग्राम नरेला पहुंचे, जहां मेन केनाल का गेट खोलकर डी-3 नहर के लिए पानी छोड़ा गया। सब माइनर नंबर 7 घोंटी एवं 6 एल डी-2 तिघरा माइनर से पानी आसपास के ग्रामों में छोड़ा गया, लेकिन मुख्य नहर से इन सब नहरों के इंस्ट्राक्चर को ऊंचा बना दिया गया हैं, जिससे आगे नहरों मे पानी जाना संभव नहीं है। इसके लिए विधायक ने उपस्थित कार्यपालन यंत्री, एसडीओ, ठेकेदार को उक्त दोनों निर्माण कार्यों को तोड़कर पुन: लेवल में तकनीकी रूप से कराए जाने के निर्देश दिए। कहा कि इससे पानी आगे नहरों मे सुलभता से पहुंचेगा। इस पर अधिकारियों ने तकनीकी त्रुटि पर सहमती जतााकर इस्ट्रक्चर को तोड़कर लेबल से पुन: निर्माण कराए जाने की बात कही। इसके बाद विधायक ग्राम भोंगाखेडा एवं नगझर पहुंचे, जहां उन्होंने नगझर मे सायफन का निरीक्षण कर लीकेज व अन्य त्रुटियों को सुधारने के निर्देश दिए। कहा कि कुछ स्थानों पर निर्माण कार्य में ब्लास्टिंग कराकर कार्य में तेजी लाने और नहरों मे कम्पेक्सन कार्य गुणवत्तापूर्ण कराए जाने के बाद ही कांक्रीट का कार्य कराया जाने की बात कही। इसके बाद राय खामखरेली डेम पहुंचे, जहां किसानों की मांग अनुरूप डेम में पानी नहीं छोड़े जाने को लेकर डेम के बगल से नहर निर्माण के लिए लाइनिंग करने और नहर कार्य के लिए कार्य स्थल पर मशीन भी पहुंच चुकी है। इसके साथ ही राहीवाड़ा से थांवरी के बीच जहां रोड क्रासिंग कर नहर जानी है, जहां शीघ्र कार्य प्रारंभ कराए जाने के लिए सख्त निर्देश दिए।
विधायक राय ने कहा कि महत्वाकांक्षी पेंच परियोजना अंतर्गत सिवनी विधानसभा क्षेत्र में बनाई गई नहरों के गुणवत्ताहीन घटिया निर्माण कार्य के लिए पूर्णत: अधीक्षण यंत्री अनिल सिंह जिम्मेदार है। घटिया निर्माण कार्य को देखकर लगता है कि उनकी सिवनी विधानसभा क्षेत्र में नहर निर्माण करवाने की मंशा नहीं थी। इसके चलते उन्होंने भ्रष्टाचार की सारी हदें पार करते हुए ठेकेदार के साथ सांठगांठ कर गुणवत्ताहीन घटिया निर्माण कार्य को बढ़ावा दिया है। इसका परिणाम सभी के सामने हैं, यही नहीं अनिल सिंह ने नहर निर्माण कार्य को प्रभावित करने के लिए सिवनी क्षेत्र में तकनीकी कर्मचारियों को हटवाते गए। आज स्थिति ये है कि अब मात्र दो इंजीनियरों के भरोसे कार्य कराया जा रहा है। विधायक राय ने कहा कि सिवनी विधानसभा क्षेत्र में गुणवत्ताहीन निर्मित नहर कार्य के लिए अधीक्षण यंत्री सिंह के विरुद्ध कठोर कार्रवाई होनी चाहिए।
patrika_samachar_1.jpg

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

17 जनवरी 2023 तक 4 राशियों पर रहेगी 'शनि' की कृपा दृष्टि, जानें क्या मिलेगा लाभज्योतिष अनुसार घर में इस यंत्र को लगाने से व्यापार-नौकरी में जबरदस्त तरक्की मिलने की है मान्यतासूर्य-मंगल बैक-टू-बैक बदलेंगे राशि, जानें किन राशि वालों की होगी चांदी ही चांदीससुराल को स्वर्ग बनाकर रखती हैं इन 3 नाम वाली लड़कियां, मां लक्ष्मी का मानी जाती हैं रूपबंद हो गए 1, 2, 5 और 10 रुपए के सिक्के, लोग परेशान, अब क्या करें'दिलजले' के लिए अजय देवगन नहीं ये थे पहली पसंद, एक्टर ने दाढ़ी कटवाने की शर्त पर छोड़ी थी फिल्ममेष से मीन तक ये 4 राशियां होती हैं सबसे भाग्यशाली, जानें इनके बारे में खास बातेंरत्न ज्योतिष: इस लग्न या राशि के लोगों के लिए वरदान साबित होता है मोती रत्न, चमक उठती है किस्मत

बड़ी खबरें

ज्ञानवापी मामले में काशी से दिल्ली तक सुनवाई: शिवलिंग की जगह सुरक्षित की जाए, नमाज में कोई बाधा न होCWG trials में मचा घमासान, पहलवान ने गुस्से में आकर रेफरी को मारा मुक्का, आजीवन प्रतिबंध लगाAmarnath Yatra: सभी यात्रियों का 5 लाख का होगा बीमा, पहली बार मिलेगा RIFD कार्ड, गृहमंत्री ने दिए कई अहम निर्देशभीषण गर्मी के बीच फल-सब्जी हुए महंगे, अप्रैल में इतनी ज्यादा बढ़ी महंगाईIPL 2022 MI vs SRH Live Updates : पावर प्ले में हैदराबाद की शानदार शुरुआतकोरोना के कारण गर्भपात के केस 20% बढ़े, शिशुओं में आ रही विकृतिवाराणसी कोर्ट में का फैसला: अजय मिश्रा कोर्ट कमिश्नर पद से हटे, सर्वे रिपोर्ट पर सुनवाई 19 मई को, SC ने ज्ञानवापी पर हस्तक्षेप से किया इंकारGyanvapi: श्रीलंका जैसे हालात दे रहे दस्तक, इसलिए उठा रहे ज्ञानवापी जैसे मुद्दे-अजय माकन
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.