इस गांव में नहीं बन रहे शौचालय, लोग पहुंचे अफसरों के पास

इस गांव में नहीं बन रहे शौचालय, लोग पहुंचे अफसरों के पास

Sunil Vandewar | Updated: 08 Jan 2019, 12:11:06 PM (IST) Seoni, Seoni, Madhya Pradesh, India

बाहर शौच करने जाते हैं ददरी गांव के लोग

सिवनी. स्वच्छ भारत अभियान के तहत सरकार किसी भी तरह ग्रामीणों को स्वच्छता की ओर प्रेरित करने के उद्देश्य से गांव-गांव शौचालय का निर्माण करा रही है, साथ ही ऐसे लोगों को शौचालय का सतत उपयोग करने के लिए भी प्रेरित किया जा रहा है। जबकि जनपद पंचायत घंसौर में इसके उलट देखने को मिल रहा है। ग्रामीणों को शौचालय का लाभ दिए जाने की बजाय शौचालय के बिना ही योजना से अपात्र कर दिए जाने का आरोप पंचायत के प्रतिनिधियों पर है।
कई वर्षों से गांव और घरों में शौचालय बनने की राह देख रहे ग्रामीणों को जब इसकी जानकारी मिली तो उन्होंने शासकीय कार्यालयों के चक्कर काटने शुरू कर दिए, जहां अधिकारियों द्वारा योजना का लाभ दिए जाने की बजाय उन्हें भटकाया जा रहा है। मामला ग्राम पंचायत साल्हेपानी के आश्रित ग्राम ददरी का है तथा यह मामला लगातार सुर्खियों में भी बना हुआ है।
इस मामले में ग्रामीण एक बार फिर बीते शनिवार को क्रांति एकता परिषद प्रमुख शक्ति सिंह के नेतृत्व में जनपद कार्यालय पहुंचे जहां अधिकारियों से मांगे गए जवाब में बताया गया कि साल्हेपानी पंचायत के आश्रित ग्राम ददरी में निवासरत सभी परिवार स्वच्छ भारत अभियान के तहत शौचालय के लिए अपात्र हैं, ग्रामीणों को शौचालय का लाभ अब तक इसलिए नहीं दिया जा सका क्योंकि उनका नाम पात्रता सूची में शामिल ही नहीं था। वहीं सूची में उनका नाम इसलिए शामिल नहीं किया गया क्योंकि दस्तावेजों के अनुसार गांव के सभी परिवारों के घरों में शौचालय उपलब्ध है तथा ग्रामीण शौचालय का उपयोग कर रहे हैं। वहीं ग्रामीणों का कहना है कि वास्तविकता कुछ और ही है। सारा गांव शौंच के लिए बाहर जाता है जिसकी वजह यह है कि ग्रामीणों को आज तक शौचालय का लाभ ही नहीं दिया गया, बल्कि आंकड़े बाजी और दस्तावेज खानापूर्ति के चलते पात्र हितग्राहियों को योजना से वंचित कर दिए जाने का भी आरोप है।
आरोप तो यह भी जा रहा है कि जिस ग्राम पंचायत के पूरे गांव में शौचालय नहीं है बावजूद इसके ग्राम पंचायत को ओडीएफ घोषित कर दिया गया, ऐसे में ओडीएफ घोषित करने की सूची में ग्राम पंचायत को शामिल करने वाली वह समिति और अधिकारी भी जिम्मेदार है। जिन्होंने वास्तविकता का जायजा लिए बिना अपनी आंखें मूंदकर ऐसी रिपोर्ट तैयार कर दी। शौचालय निर्माण में अनियमितता की आशंका जाहिर करते हुए कुंवर शक्ति सिंह विधानसभा चुनाव के दौरान लगातार सुर्खियों में रह चुके हैं तथा जांच की मांग उठा रहे हैं। ऐसे में एक बार फिर ग्राम ददरी में शौचालय निर्माण के लिए परिषद व पदाधिकारी सक्रिय देखे जा रहे हैं तथा इस मामले को लेकर कड़ा रुख भी अख्तियार कर रहे हैं। अब अधिकारी इस मामले में कितनी गंभीरता दिखाते हैं, यह आने वाले दिनों में पता चलेगा।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned