कमिश्नर ने ज्ञानोदय विद्यालय का किया निरीक्षण, दस प्रतिश गरीब छात्र-छात्राओं को मिल रहा प्रवेश

shivmangal singh

Publish: Jun, 14 2018 07:58:17 PM (IST)

Shahdol, Madhya Pradesh, India
कमिश्नर ने ज्ञानोदय विद्यालय का किया निरीक्षण, दस प्रतिश गरीब छात्र-छात्राओं को मिल रहा प्रवेश

शैक्षणिक सुविधाओं पर दिया गया जोर


कमिश्नर ने ज्ञानोदय विद्यालय का किया निरीक्षण, दस प्रतिश गरीब छात्र-छात्राओं को मिल रहा प्रवेश
शहडोल .कमिश्नर जेके जैन ने गुरुवार को ज्ञानोदय विद्यालय विचारपुर का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान कमिश्नर ने ज्ञानोदय विद्यालय में लैब का निरीक्षण किया किया तथा निर्देश दिया कि लैब को व्यवस्थित किया जाये। छात्र-छात्राओं के लिये भोज्य सामग्री सहित अन्य सामग्री गुणवत्तायुक्त क्रय किया जाये। कमिश्नर ने ज्ञानोदय विद्यालय के शौचालयों का भी निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान कमिश्नर ने निर्देश दिये कि शौचालयों में समुचित साफ-सफाई रखी जाये तथा छात्र-छात्राओं को शुद्ध एवं स्वच्छ पेयजल की व्यवस्था सुनिश्चित की जाये। निरीक्षण के दौरान उपायुक्त आदिम जाति कल्याण विभाग जगदीश सरवटे ने बताया कि शासकीय ज्ञानोदय विद्यालय विचारपुर में 140 बालिकाओं एवं 180 बालकों की आवासीय व्यवस्था है। विद्यालय में 75 प्रतिशत अनुसूचित जाति, 15 प्रतिशत जनजाति एवं 10 प्रतिशत गरीबी रेखा के नीचे के स्तर पर जीवन यापन करने वाले छात्र-छात्राओं को प्रवेश दिया जाता है। उन्होने बताया कि ज्ञानोदय विद्यालय विचारपुर में छात्र-छात्राओं के लिये लैब को व्यवस्थित किया जा रहा है, वहीं सभी कक्षों में फर्नीचर की व्यवस्थाएं की जा रही है।
आज से शुरू होगा स्कूल चलें हम अभियान का दूसरा चरण
शहडोल .जिले में स्कूल चलें हम अभियान का दूसरा चरण 15 जून शुक्रवार से प्रारंभ हो रहा है। पूर्व संध्या पर शिक्षकों से चर्चा करते हुये कलेक्टर अनुभा श्रीवास्तव ने कहा है कि शिक्षक समुदाय समाज की आशा के अनुसार राष्ट्रीय भावनाओं से ओतप्रोत एवं देश की आवश्यकतानुसार नई पीढ़ी को संस्कारवान बनाने में अग्रणी भूमिका निभाए। इस चर्चा में जिला शिक्षा अधिकारी उमेश कुमार धुव्रे, प्राचार्य डाईट, डीपीसी मदन त्रिपाठी, एपीसी प्रधान, जिले भर से आये संकुल प्राचार्य, बीईओ, बीआरसी, बीएसी तथा सीएसी एवं माध्यमिक शालाओं के प्रधानाध्यापक उपस्थित रहेे।
कलेक्टर अनुभा श्रीवास्तव ने स्कूल शिक्षा विभाग, सहायक आयुक्त आदिवासी विकास तथा डीपीसी सर्वशिक्षा अभियान को निर्देशित किया है कि 15 जून को अनिवार्य रूप से प्रत्येक सरकारी विद्यालय में शाला प्रबंधन और विकास समिति की बैठक के साथ विशेष बालसभा की जाये। इन सभाओं में बच्चों की नियमित उपस्थिति, दक्षता उन्नयन और पाठ्य-पुस्तकों के वितरण पर अनिवार्य रूप से चर्चा की जाये।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned