दो वर्ष बाद भी नहीं मिला सातवें वेतनमान का लाभ

आजाद अध्यापक शिक्षक संघ ने मुख्यमंत्री के नाम जिला प्रशासन को सौंपा ज्ञापन

शहडोल. आजाद अध्यापक शिक्षक संघ के तत्वावधान में रविवार को जिला मुख्यालय में सैकड़ों अध्यापक एकत्र हुए और जिला प्रशासन के प्रतिनिधि अनुविभागीय अधिकारी सोहागपुर धर्मेन्द्र मिश्रा एवं तहसीलदार सोहागपुर बीके मिश्रा को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा। साथ ही स्थानीय मांगों को लेकर भी जिला प्रशासन को एक ज्ञापन सौपा गया। ज्ञापन में बताया गया कि राज्य शिक्षा सेवा भर्ती नियम 2018 अनुसार संवर्ग को सातवां वेतन दिये जाने के आदेश प्रसारित हुआ था, परन्तु दो वर्ष गुजरने को है, पर आज तक लाखों संवर्ग के साथियों को सातवें वेतनमान का लाभ नहीं दिया गया। दूसरे ज्ञापन में स्थानीय समस्याओं को लेकर भी जिला प्रशासन का ध्यान आकृष्ट कराया गया है। आजाद अध्यापक शिक्षक संघ के प्रान्तीय सह सचिव रमेश सोनकर, संभागीय अध्यक्ष संतोष शर्मा, संभागीय सचिव पुष्पेन्द्र पाण्डेय, जिला अध्यक्ष अनिल पटेल, सचिव रामेश माना, उपाध्यक्ष रामनारायण विश्वकर्मा, संगठन मंत्री अरविन्द कुमार पटेल, ब्लाक अध्यक्ष ब्यौहारी भानू पटेल, सहित संघ के अनेको पदाधिकारियों ने बैठक को सम्बोधित किया। बैठक में मुख्य रूप से सतीश पटेल, राम किशोर पटेल, विमलेश पटेल, राजेन्द्र सिंह परस्ते, प्रवीण कुमार, भास्कर द्विवेदी, मनोज अठनेरिया, इन्द्रजीत मौर्य, रामबली साहू, रामप्रकाश द्विवेदी, आनंद बहादुर सिंह, अशोक कुमार पटेल, परमानंद यादव, संतोष पटेल, विवेक शर्मा, सहित सैकड़ो संवर्ग के साथीगण उपस्थित थे। यह भी कहा गया है कि यदि अक्टूबर माह के अंत तक संवर्ग की मांगों का निराकरण नहीं होता तो राजधानी में 30 अक्टूबर को वृहद आन्दोलन किया जावेगा।

brijesh sirmour
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned