पहले पंजा काटा, फिर उसे साथ में लेकर भागे

Shahdol online

Publish: Dec, 07 2017 11:24:09 (IST)

Shahdol, Madhya Pradesh, India
पहले पंजा काटा, फिर उसे साथ में लेकर भागे

पढि़ए खूनी संघर्ष की पूरी कहानी

बुढार. थाना क्षेत्र के वार्ड क्रमांक दो में पुराने जमीनी विवाद को लेकर दो पक्षों में खूनी संघर्ष हो गया। वारदात बुधवार लगभग 12 बजे के आसपास की बताई गई है। वारदात में एक पक्ष ने तलवार से हमला कर युवक के बाए हाथ की कलाई को काट डाला। इतना ही नहीं हाथ के पंजे को लेकर घटना स्थल से फरार भी हो गया। देखते ही देखते घटना स्थल पर भीड़ एकत्रित हो गई।

टीआई प्रफुल्ल राय ने बताया कि 6 दिसम्बर की सुबह सिनेमा रोड निवासी कैलाश गुप्ता बनियान टोला स्थित पुराने मकान का निर्माण कार्य करा रहा था तभी पड़ेास में रहने वाले गुप्ता परिवार के लोगों ने आपत्ति करना शुरू कर दिया । जिसकी शिकायत एसडीएम कोर्ट के आदेश सहित जमीन मालिक ने थाने में दर्ज कराई। कुछ घण्टे बीतने के बाद दोपहर 2 बजे दोबारा जब मकान में निर्माण कार्य शुरू कराया जा रहा था। इसी दौरान पुरुषोत्तम उर्फ लाला गुप्ता अपने भाई अर्जुन , कैलाश के साथ पहुंचे तभी आरोपियों ने वारदात को अंजाम दिया।

धीरज गुप्ता, लखन, श्याम गुप्ता, राम गुप्ता, चन्द्रकली, रोशनी ने गाली गलौज करते हुए 5 लाख की मांग करने लगे । जब एसडीएम कोर्ट से जीता प्रकरण बताया तभी आरोपी भड़क गए। देखते ही देखते आरोपी तलवार कटटा लेकर पहुंचे और पुरूषोत्तम उर्फ लाला के हाथ में तलवार से वार कर दिया। जिससे लाला के हाथ की कलाई कट गई। आरोपियों ने अर्जुन गुप्ता के ऊपर भी हथियार से प्रहार किया । इसके अलावा कैलाश को भी छाती एवं सिर पर गहरी चोटे आई है। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार किया है।
-----------------------------------

बाघिन व शावकों की दिनभर हुई तलाश
शहडोल - एक सप्ताह से शहर के आस-पास शावकों के साथ बाघिन के मूवमेंट की मिल रही सूचना के बाद बुधवार को बांधवगढ़ से पांच सदस्यीय टीम शहडोल पहुंची। यहां पहुंचने के बाद टीम ने कल्याणपुर, पाण्डवनगर व चंदनिया में सर्चिंग अभियान चलाया। देर शाम तक लगातार सर्चिंग के बाद भी टीम के हाथ कुछ खास सुराग नही लग पाये जिससे कि बाघिन व उसके शावकों की मौजूदगी की पुष्टि हो पाये। पूरा दिन सर्चिंग के बाद देर शाम टीम बांधवगढ़ लौट गई। उल्लेखनीय है कि पाण्डवनगर के बीटीआई व इसके आस-पास से जुड़े क्षेत्रों में शावकों के साथ बाघिन को देखे जाने की लगातार सूचना मिल रही थी। जिस पर वन विभाग द्वारा सर्चिंग की गई थी।

 

 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned