निरीक्षण में उजागर हुई खामियां, हेल्प सेंटर में नहीं मिली मेडिकल किट, रेकार्ड भी अधूरे

प्रमुख सचिव ने कहा स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए एडवांस में कराएं प्लानिंग

By: amaresh singh

Published: 09 Apr 2021, 11:26 AM IST

शहडोल. कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच तैयारियों का जायजा लेने के लिए प्रमुख सचिव एवं जिले के प्रभारी सचिव सुखवीर सिंह ने गुरुवार को स्वास्थ्य व्यवस्थाओं की समीक्षा की। उन्होने मेडिकल कॉलेज और जिला चिकित्सालय की व्यवस्थाओं का निरीक्षण भी किया। निरीक्षण के दौरान जिला कोविड कमांड सेंटर में रेकार्ड दुरुस्त न मिलने और मेडिकल किट उपलब्ध न होने पर नाराजगी व्यक्त की। प्रभारी कमिश्नर ने कमियों को देखते हुए कोविड कमांड प्रभारियों को नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। प्रमुख सचिव ने नगर के वैक्सीनेशन सेंटर के साथ ही मेडिकल कॉलेज व जिला चिकित्सालय में संचालित फीवर क्लीनिक में पहुंच जायजा लिया। साथ ही वहां पहुंचे हुए लोगों से बातचीत कर व्यवस्थाओं के संबंध में जानकारी ली। बैठक में डीन मेडिकल कॉलेज डॉ मिलिंद शिरालकर, पुलिस अधीक्षक अवधेश कुमार गोस्वामी, कलेक्टर अर्पित वर्मा, सीईओ जिला पंचायत मेहताब सिंह, एसडीएम सोहागपुर शेर सिंह मीणा, सीएमएचओ डॉ एम.एस. सागर, डॉ. आकाश रंजन मौजूद रहे।

होम आइसोलेट मरीजों से नहीं ले रहे थे फीडबैक, नहीं हो रही थी बात
कोविड-19 प्रभारी सचिव सुखवीर सिंह ने सीएमएचओ कार्यालय में बनाएं गए कोविड-19 हेल्प सेंटर का अवलोकन किया। प्रभारी सचिव ने अवलोकन के दौरान संधारित रिकार्ड पंजी का अवलोकन करते हुए पाया कि होम आइसोलेशन के मरीजो से दूरभाष पर प्रतिदिन चर्चा नहीं की जा रही है और स्वास्थ्य की जानकारी विधिवत नहीं ली जा रही है। इस पर नाराजगी व्यक्त करते हुए फटकार लगाई। निर्देश दिए कि होम आइसोलेशन के मरीजो से प्रतिदिन चर्चा कर उनके स्वास्थ्य की जानकारी ली जाएं एवं उन्हें बेहतर चिकित्सकीय सुविधाएं उपलब्ध कराने के साथ-साथ लगातार दूरभाष के माध्यम से करें और जरूरत पडऩे पर एम्बूलेंस भी दी जाए। प्रभारी सचिव ने मेडिकल किट आदि जिला कोविड सेंटर में उपलब्ध न होने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि जिला कोविड सेंटर में मेडिकल किट बनाकर रखा जाए। जिसमें प्रिसक्रिप्शन के साथ-साथ दवाइयां भी रखें और मरीजो को तत्काल दवा उपलब्ध करें। उन्होने जिला चिकित्साल शहडोल में एडवांस लाइफ सपोर्ट एम्बूलेंस का निरीक्षण किया।

गरीबों का मेडिकल कॉलेज में होगा नि:शुल्क सिटी स्कैन
मेडिकल कॉलेज में स्वास्थ्य सेवाओ की समीक्षा के दौरान प्रभारी सचिव शहडोल सुखवीर सिंह ने स्वास्थ्य अधिकारियों केा निर्देश दिए कि, कोरोना संक्रमित मरीजों को बेहतर से बेहतर उपचार मुहैया कराया जाए तथा नागरिको को सोशल डिस्टेसिंग, मास्क लगाने तथा सेनेटाइजर का उपयोग करने की समझाइश दी जाए। मेडिकल कॉलेज में आने वाले गरीब परिवारों के मरीजो का नि:शुल्क सिटी स्कैन कराया जाए। बैठक में प्रभारी सचिव ने कहा कि मेडिकल कॉलेज शहडेाल में मरीजो के उपचार के लिए दवाईयों का भण्डारण किया जाएगा, आक्सीजन सिलेंडरों की व्यवस्था की जाए तथा बिस्तरोंकी व्यवस्था की जाए। रिपोटिंग व्यवस्था को बेहतर से बेहतर बनाएं। स्वास्थ्य सुविधाओ के लिए एडवान्स में प्लानिंग करे। जिला चिकित्सालय में स्थापित फीवर क्लीनिक सेंटर का प्रमुख सचिव ने निरीक्षण किया। फीवर क्लीनिक में लैब टेक्नीशियन को निर्देशित किया कि जांच कराने आने वाले सभी लोगों की जांच गंभीरता से हो।

कमिश्नर की भी नहीं मानी बात, नहीं कर रहे थे रेकार्ड
प्रभारी कमिश्नर अमर सिंह बघेल ने सीएमएचओ कार्यालय में स्थापित जिला कोविड-19 कमांड सेंटर में प्रभारी सचिव के साथ निरीक्षण में पाई गई कमियों पर नाराजगी व्यक्त करते हुए नोटिस देने के निर्देश दिए। उन्होने कहा कि पूर्व में निरीक्षण के दौरान मेरे द्वारा जिन बिंदुओं को रिकॉर्ड पंजी में दर्ज करने के लिए निर्देश दिए गए थे उनका पालन आज भी नहीं किया गया है। इसी प्रकार होम आइसोलेशन के मरीजों से प्रतिदिन चर्चा भी नहीं की जा रही है और उसका उल्लेख भी रिकॉर्ड पंजी पर संधारित नहीं किया गया है। कमिश्नर ने उक्त संबंधित अधिकारियों को नोटिस जारी करने के निर्देश दिए।

amaresh singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned