Vedio- महिला बेहोश हुई तो इस युवक को लोगों ने धुना, होश आया तो सबके उड़ गए होश, देखिए वीडियो

पढि़ए पूरी खबर

By: Akhilesh Shukla

Published: 23 May 2018, 04:56 PM IST

शहडोल- संभाग के अनूपपुर जिले में एक अजब गजब घटना हो गई, जहां एक बेकसूर को गुनहगार मानकर उसके साथ मारपीट की गई, अभद्र व्यवहार किया गया, इतना ही नहीं उसके सर के बाल तक काट दिए गए, उसे जलील किया गया, यहां तक की बिना कुछ पूंछे जाने, केस की बिना पड़ताल किए ही पुलिस भी उसके साथ गंदा बर्ताव करने लगी, उसे जूते से पीटने लगी, वीडियो में आप खुद देख सकते हैं, किस तरह से बेकसूर के साथ बुरा बर्ताव किया जा रहा है।

 

उस पर ऐसे-ऐसे इल्जाम लगाए गए, जो वो किया ही नहीं था, वो तो बस अपना काम कर रहा था, लेकिन उसे क्या पता था कि आज उसके साथ ऐसा हो जाएगा, जो गुनाह वो किया ही नहीं बिना जांच पड़ताल के ही उसे उसकी सजा वहीं पब्लिक और पुलिस देने लगेगी। जब महिला ने बयान दिया, उसके बाद हुआ मामले का असली खुलासा।

 

ये है पूरा मामला

ये मामला है बिजुरी अन्तर्गत कपिलधारा कॉलोनी का जहां पर प्रबंधन द्वारा कॉलोनियों और घरों में मच्छर मारने की दवा का छिड़कााव ठेकेदारी मजदूरों के माध्यम से करवाया जा रहा है। मजदूर वहां कॉलोनी के सभी घरों में एक-एक कर दवा का छिड़काव कर रहे हैं।

 

जब एक मजदूर मच्छर मारने की दवा का छिड़़काव करने के लिए घर संख्या एम क्यू/503 पर पहुंचा और उसने दरवाजा खटखटाया , तो एक महिला ने गेट खोला, दरवाजे पर ही मजदूर ने सारी बात बताई कि वो क्यों घर का दरवाजा खटखटा रहा है, उसने महिला को जानकारी दी कि वो मच्छर मारने की दवा का छिड़काव करने आया है। वो उसे जगह बता दें कि कहां सबसे ज्यादा मच्छर हैं जहां दवा का छिड़काव करना है।

 

महिला ने उस मजदूर को सीधे अंदर के रूम में सबसे पहले दवा का छिड़काव करने को कहा, और फिर वो मजदूर पहले अंदर के कमरे में दवा का छिड़काव किया, और फिर बाहर के कमरों नें दवा का
छिड़काव करने लगा। इस दौरान अंदर के रूम में महिला कब बेहोश हो गई, उस मजदूर को पता ही नहीं चला, युवक अपना काम करता रहा, दवा का छिड़काव दूसरी जगहों पर करता रहा।

 

इस दौरान घर के बाहर और आंगन सब दरवाजे भी खुले हुए थे। इतने में पड़ोस वाले घर की एक महिला जब आवाज लगाते अंदर गई तो देखा कि महिला बेहोश पड़ी है और वो महिला ये देखते ही जोर-जोर से चिल्लाने लगी, उसी दौरान कॉलोनी के सभी लड़के इस तरह की आवाज सुनकर इकट्ठा हो गए।

 

और बिना कुछ पूंछे जाने उस मजदूर को बांधकर पीटने लगे, साथ ही यह भी बोलने लगे कि उसने महिला के साथ दुष्कर्म किया है, कई घंटों तक उस बेकसूर युवक की पिटाई करते रहे, उसे आधा गंजा कर दिया, आधी मूँछ काट दी। फिर आस-पास के लोगों में किसी ने प्रधान आरक्षक रामपाल मिश्रा को बुलाया।

वहां पहुंचते ही प्रधान आरक्षक रामपाल मिश्रा ने भी बिना कुछ जांच पड़ताल के उस युवक की पिटाई करने लगे। उस मजदूर को रामपाल मिश्रा ने भी बेरहमी से पीटा, काफी समय तक पीटा गया।

 

जब महिला ने दिया बयान

इस पूरे मामले के बाद जब महिला को होश आया और महिला ने बयान दिया तो वो हैरान करने वाला था, महिला ने बयान में साफ कहा कि उनके साथ कुछ भी नहीं हुआ है, और शायद वो उस दवा के चलते बेहोश हो गईं थीं।

 

रात करीब 11 बजे हुआ जमानत

रात को करीब 11 बजे बिजुरी निवासी बिकनु बंसल ने उस युवक की जमानत करवाई, और अब वो मजदूर हॉस्पिटल में भर्ती है।

 

निलंबित किए गए प्रधान आरक्षक

इस पूरे मामले के बाद प्रधान आरक्षक रामपाल मिश्रा को वीडियो वायरल होने पर पुलिस अधीक्षक अनूपपुर द्वारा निलंबित करते हुए अनूपपुर कोतवाली लाइन अटैच कर दिया गया है। साथ ही बाल काटने वाले चार लोगों के ऊपर अपराध कायम कर लिया गया है, जिनमें रमजान, पवन कुमार, मुकेश चौहान, रबेद कुजूर के ऊपर धारा 294, 323, 504, 34 के तहत अपराध कायम कर विवेचना जारी है।

Akhilesh Shukla
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned