तहसीलदार को मिली सीआर वारिंग, 31 तक पूरा करना होगा काम

तहसीलदार को मिली सीआर वारिंग, 31 तक पूरा करना होगा काम

shivmangal singh | Publish: Mar, 14 2018 08:59:15 PM (IST) Shahdol, Madhya Pradesh, India

मीटिंग में कलेक्टर की नाराजगी

तहसीलदार को मिली सीआर वारिंग, 31 तक पूरा करना होगा काम
शहडोल. कलेक्टर नरेश पाल ने राजस्व वसूली में सोहागपुर तहसील जिले की सभी तहसीलों की अपेक्षा पीछे रहने पर तहसीलदार सोहागपुर को सीआर वार्निंग दी है। कलेक्टर ने तहसीलदार को निर्देश दिये हैं कि वे राजस्व वसूली की सही मांग कायम कर 31 मार्च तक राजस्व वसूली करें अन्यथा उनके विरुद्ध सख्त कार्यवाही की जायेगी। कमिश्नर द्वारा जिले के सभी तहसीलदारों को निर्देशित किया गया है कि राज शासन द्वारा निर्धारित राजस्व वसूली का लक्ष्य निर्धारित समयावधि में पूर्ण करना सुनिश्चित करें अन्यथा उनके विरुद्ध सख्त कार्यवाही की जायेगी। कलेक्टर ने निर्देश दिये हैं कि वित्तीय वर्ष के अंतिम माह में राजस्व वसूली की स्थिति ठीक नहीं है। उन्होने तहसीलदारों को ताकिद किया है कि वे राजस्व वसूली के लिये निरंतर प्रयास करें तथा 31 मार्च तक राजस्व वसूली का लक्ष्य पूर्ण करें। कलेक्टर ने उक्त निर्देश बुधवार को राजस्व अधिकारियों की बैठक में दिये। बैठक में कलेक्टर ने सभी अनुविभागीय राजस्व अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि वे तहसील स्तर पर राजस्व अधिकारियों की बैठक लेकर भू राजस्व वसूली की समीक्षा करें। बैठक में राजस्व न्यायालयों में राजस्व प्रकरणों के निराकरण की स्थिति की समीक्षा करते हुये कलेक्टर ने निर्देश दिये कि राजस्व न्यायालयों के माध्यम से राजस्व प्रकरणों का निरंतर निरकरण होना चाहिए। कलेक्टर द्वारा जिले के कुछ राजस्व न्यायालयों द्वारा राजस्व प्रकरणों के निराकरण में उदासीनता बरतने पर नाराजगी व्यक्त की गई तथा निर्देशित किया गया कि सभी अनुविभागीय राजस्व अधिकारी आरसीएमएस में राजस्व प्रकरणों की प्रतिदिन मॉनीटरिंग करें तथा अधीनस्थ राजस्व अधिकारियों को राजस्व प्रकरणों के निराकरण के लिये निर्देशित करेंगें। बैठक में दखल रहित भूमि के प्रकरणों की समीक्षा करते हुये कलेक्टर द्वारा तहसीलदार सोहागपुर तहसील एवं गोहपारू तहसील में दखल रहित भूमि के प्रकरणों के निराकरण में अपेक्षित प्रगति नहीं होने पर नाराजगी व्यक्त की गई तथा तहसीलदार सोहागपुर एवं तहसीलदार गोहपारू को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिये गये। राजस्व प्रकरणों की समीक्षा के दौरान कलेक्टर ने निर्देश दिये कि अधीनस्थ न्यायालयों से रिकार्ड नहीं उपलब्ध होने से राजस्व प्रकरणों के निराकरण में गतिरोध उत्पन्न नहंी होना चाहिए उन्होने कहा कि सभी अधीनस्थ न्यायालय तहसीलदारों को समुचित रिकार्ड उपलब्ध करायें। कलेक्टर ने निर्देश दिये कि रिकार्ड रूम से जो रिकार्ड उपलब्ध नहीं हुआ है उसे प्राप्त करने के लिये आगामी रविवार को रिकार्ड रूम खुला रखा जायेगा तथा रिकार्ड रूम से राजस्व न्यायालयों को समुचित रिकार्ड मुहैया कराया जायेगा। कलेक्टर ने सभी अनुविभागीय राजस्व अधिकारियों एवं तहसीलदारों को निर्देश दिये हैं कि वे रीडरों को कलेक्टर कार्यालय के रिकार्ड कक्ष में भेजकर चाही गई जानकारी अथवा रिकार्ड प्राप्त करवाना सुनिश्चित करें। कलेक्टर द्वारा आवासीय पट्टों के वितरण की भी तहसीलवार समीक्षा की गई। बैठक में अपर कलेक्टर श्री सरोधन सिंह, संयुक्त कलेक्टर श्री रमेश सिंह, एसडीएम सोहागुपर श्री लोकेश जांगीड़, एसडीएम जैतपुर श्री सतीश राय, एसडीएम जयंिसहनगर श्री जवाहर लाल तिवारी, तहसीलदार सोहागपुर श्री मनोज चौरसिया, तहसीलदार गोहपारू श्रीमती मीनाक्षी बंजारे एवं अन्य राजस्व अधिकारी उपस्थित थे।

Ad Block is Banned