रेलवे ने खोला खजाने का मुंह, दो महत्वपूर्ण शहरों को जोडऩे के लिए दिए अरबों रुपए

व्यापारिक दृष्टि से भी आसान होगी राह, सब्जी-किराना व्यापार में होगा फायदा

By: Murari Soni

Updated: 11 Feb 2018, 12:40 PM IST

शहडोल। रेल मंत्रालय द्वारा वितीय वर्ष 2018-19 के रेल बजट में रीवा से जयसिंह नगर नई रेल लाइन प्रस्ताव के सर्वे के लिए राशि आवंटित की गई है। मंत्रालय द्वारा यातायात एवं इंजीनियरिंग सर्वे के लिए विधिवत रूप से चार लाख 65 हजार करोड़ का बजट आवंटित कर दिया गया है। सर्वे रिपोर्ट के पश्चात नई रेल डालने की प्रक्रिया शुरु होगी। नई लाइन रीवा से गोविंदगढ़, ब्यौहारी होते हुए जयसिंह नगर तक जाएगी। जिससे ब्यौहारी होते हुए रीवा जयसिंह नगर से सीधा जुड़ जाएगा। यह खबर ब्यौहारी नगर परिषद के 35 हजार और सिंहपुर नगर पंचायत के 5 हजार 500 लोगों के लिए खुशखबरी है। सर्वे कार्य एक वर्ष में पूरा होने की उम्मीद जताई जा रही है।
रेल यात्री संघ और विभिन्न संगठन वर्षों से इस लाइन के सर्वे का इंतजार कर रहे थे। करीब 5 वर्ष पुराने प्रस्ताव का सर्वे अटका हुआ था। 130 किमी लाइन का सर्वे कार्य शुरु होने पर क्षेत्र के हजारों लोगों, व्यापारियों और अधिकारियों-कर्मचारियों के लिए राहत महसूस होगी। इस नई लाइन के बनने के बाद शहडोल के दो बड़े क्षेत्र ब्यौहारी और सिंहपुर के कपड़ा, किराना और सब्जी व्यापारी आसानी से रीवा आ-जा सकते हैं और अपना व्यापार बढ़ा सकते हैं।
सड़क के माध्यम से प्रतिदिन ब्यौहारी व जयसिंहनगर से दर्जनों व्यापारी, सब्जी, किराना और अन्य सामग्री की खरीदी करने जाते हैं। सड़क के माध्यम से जससिंहनगर से रीवा की दूरी 115 किमी और ब्यौहारी से 80 किमी है। लोग यात्री बसों व माल वाहक बुक करके व्यापारिक कार्यों के लिए रीवा जाते हैं। सर्वे कार्य शुरु होने पर क्षेत्रीय आवाम को उम्मीद है कि आने वाले कुछ वर्षों में नई रेल लाइन बन जाएगी

---रेल मंत्रालय द्वारा यातायात एवं इंजीनियरिंग सर्वे के लिए चार लाख 65 हजार करोड़ की राशि दी गई है। एक वर्ष में सर्वे कार्य पूरा हो जाएगा। यह लाइन रीवा और ब्यौहारी, जयसिंहनगर के लोगों की राह आसान करेगी।
प्रकाश चंद्र शिवनांनी
सयोंजक रेल यात्री जन कल्याण संघ रीवा।

Murari Soni
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned