आखिर दो माह बाद गिरफ्त में आया सप्लायर

आखिर दो माह बाद गिरफ्त में आया सप्लायर

Gopal Swaroop Bajpai | Publish: Sep, 06 2018 09:55:18 PM (IST) Shajapur, Madhya Pradesh, India

मामला : कालीसिंध में एसपी के स्वयं दबिश देकर गांजा पकडऩे का

शाजापुर.

जिले के ग्राम कालीसिंध में 1 जुलाई एसपी शैलेंद्रसिंह चौहान ने एक घर पर दबिश देकर गांजा बेचने वाले एक महिला और पुरुष को गिरफ्तार किया था। वहीं मामले में बेरछा थाने के तत्कालीन प्रभारी टीआइ सहित कुल 5 पुलिसकर्मियों को सस्पेंड किया था। इस मामले में पुलिस को गांजा सप्लाय करने वाले सप्लायर की तलाश थी। गुरुवार को बेरछा पुलिस ने सप्लायर को गांव में स्थित उसके घर से दबोच लिया। यहां से उसे कोर्ट में पेश करके रिमांड मांगा गया। कोर्ट ने उसे दो दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया है।

एसपी शैलेंद्रसिंह चौहान ने लंबे समय से मिल रही शिकायत के बाद 1 जुलाई 2018 की रात को कालीसिंध स्थित एक घर पर दबिश देकर 2 किलो 150 ग्राम गांजा, 25 क्वार्टर देशी शराब और एक बीयर की बोतल जब्त करते हुए ग्राम देवला निवासी लालसिंह डोडिया (60), इस घर में लालसिंह के साथ रहकर अवैध रूप से गांजा और शराब का कारोबार करने वाली कलावति सोनी (57) को गिरफ्तार किया था। इस मामले में पुलिस को गांजा सप्लाय करने वाले की तलाश थी। मामले में गुरुवार को बेरछा पुलिस ने गांजा सप्लाय करने वाले अलाउद्दीन निवासी बेरछा को उसके घर से गिरफ्तार कर लिया। हालांकि पुलिस को उसके पास से अभी कुछ नहीं मिला। ऐसे में पुलिस ने उसे कोर्ट में पेश किया। जहां से दो दिन का पुलिस रिमांड मिला है।

छत पर पार्टी कर रहे थे प्रभारी टीआइ सहित चार पुलिसकर्मी
जिस दो मंजिला घर पर दबिश देने के लिए एसपी स्वयं बल लेकर पहुंचे उस घर के बाहर बेरछा पुलिस का वाहन खड़ा हुआ था। इसके बाद जब घर में दबिश देकर पड़ताल की तो घर की छत पर बेरछा थाने के चार पुलिसवाले शराब और मांस की पार्टी कर रहे थे। अचानक पुलिस और एसपी को देखकर चारों हक्के बक्के रह गए। यहां पर पार्टी करने वालों में बेरछा थाने के तत्कालीन प्रभारी टीआइ एसआइ एचएस सोलंकी, एएसआइ दिलीप भिलाला, प्रधान आरक्षक अजय भिड़े, वाहन चालक आरक्षक सोहन पटेल शामिल थे।

दो मंजिल से कूद गया प्रधान आरक्षक, इंदौर रैफर
अचानक एसपी चौहान और दबिश टीम को देखकर पार्टी कर रहे तत्कालीन प्रभारी टीआइ सोलंकी सहित सभी के होश उड़ गए। कोई कुछ समझ पाता इसके पहले ही यहां पार्टी कर रहे प्रधान आरक्षक अजय भिड़े ने भागने के चक्कर में दो मंजिला मकान की छत से लटककर कूदने का प्रयास किया। एसे में वो छत से नीचे पत्थरों पर गिर गया। जिससे उसे पीछ और पैर में गंभीर चोट आई। दबिश टीम उसे लेकर जिला अस्पताल पहुंची यहां से उसे गंभीर हालत में इंदौर रैफर कर दिया गया था।

प्रभारी टीआइ सहित 5 को किया था निलंबित
मामले में एसपी चौहान ने छत पर पार्टी करने वाले तत्कालीन प्रभारी टीआइ एसआइ एचएस सोलंकी, एएसआइ दिलीप भिलाला, प्रधान आरक्षक अजय भिड़े, वाहन चालक आरक्षक सोहन पटेल को तो निलंबित कर दिया था। वहीं बेरछा थाने में पदस्थ सूचना आरक्षक विनोद शर्मा को जिम्मेदारी दी गई थी यहां से सभी सूचनाएं वरिष्ठ स्तर तक पहुंचाएं, लेकिन अपने कार्य में आरक्षक शर्मा ने लापरवाही बरती थी। कालीसिंध मामले में सूचनाएं वरिष्ठ स्तर पर नहीं देने के कारण एसपी चौहान ने आरक्षक शर्मा को भी निलंबित कर दिया था।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned