video : बाबा साहेब प्रतिमा खंडित मामला : कलेक्टर-एसपी के दफ्तर पहुंचे वरिष्ठजन, जताया विरोध

मंगलवार को दलित समाज के वरष्ठिजन ने कलेक्टर-एसपी के दफ्तर पहुंचकर ज्ञापन सौंपा और मांग की कि दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए।

By: Lalit Saxena

Published: 24 Jul 2018, 12:24 PM IST

शाजापुर. जिला मुख्यालय से करीब 25 किलोमीटर दूर ग्राम कालीसिंध में संविधान निर्माता बाबा साहेब अंबेडकर की प्रतिमा को शरारती लोगों द्वारा क्षतिग्रस्त कर दिया गया था। मंगलवार को दलित समाज के वरष्ठिजन ने कलेक्टर-एसपी के दफ्तर पहुंचकर ज्ञापन सौंपा और मांग की कि दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। जल्द से जल्द प्रतिमा को स्थापित किया जाए। बाबा साहेब की प्रतिमा क्षतिग्रस्त होने पर विरोध में ग्रामीणों और अनुयायियों ने नारेबाजी कर प्रदर्शन किया था।

बल किया था तैनात
एहतियात के तौर पर गांव में बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया था। मामले की सूचना मिलने के बाद बेरछा टीआई राकेश नैन पुलिस बल के साथ पहुंचे। इसके बाद मामला बढ़ता देख बेरछा एसडीओपी सिताराम अवास्या, शाजापुर तहसीलदार सत्येंद्र बैरवे सहित अन्य अधिकारी भी गांव पहुंच गए। यहां पर नारेबाजी कर रहे ग्रामीणों और समाजजनों को समझाइश दी।

क्या है मामला
ग्राम कालीसिंध में डॉ. भीमराव आंबेडकर की प्रतिमा को रविवार-सोमवार की मध्यरात्रि अज्ञात बदमाशों ने क्षतिग्रस्त कर दिया था। सुबह जब ग्रामीणों को इसकी जानकारी मिली तो मौके पर बड़ी संख्या में लोग एकत्रित हो गए और नारेबाजी कर प्रदर्शन करने लगे। सूचना मिलते ही बेरछा पुलिस मौके पर पहुंची और स्थिति को संभालने में जुट गई। इधर धीरे-धीरे करके बड़ी संख्या में बाबा साहेब के अनुयायी गांव पहुंचने लगे। बेरछा पुलिस ने मौके पर ही अज्ञात बदमाशों के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर आधा दर्जन संदिग्धों को उठाया है। वहीं बड़ी संख्या में पुलिस बल भी गांव में तैनात कर दिया गया। ग्रामीणों और अनुयायियों ने उक्त कृत्य करने वालों की शीघ्र गिरफ्तारी कर सख्त से सख्त सजा दिए जाने की मांग की है।

1994 में की थी स्थापित
ग्राम कालीसिंध में वर्ष 1994 में करीब साढ़े 4-5 फीट की डॉ. आंबेडकर की प्रतिमा की स्थापना गांव निवासी मोहन चौरडिय़ा ने की थी। इसको बाबा साहेब के अनुयायी नमन करते थे। मोहन चौरडिय़ा के पौत्र अविनाशसिंह चौरडिय़ा ने बेरछा पुलिस को बताया कि इस प्रतिमा को अज्ञात बदमाशों ने क्षतिग्रस्त कर दिया है। इससे संपूर्ण दलित समाज और बाबा साहेब के अनुयायियों में आक्रोश है। दोषियों की जल्द से जल्द गिरफ्तारी कर सख्त कार्रवाई की जाए। बेरछा पुलिस ने मौके पर ही अविनाश की रिपोर्ट पर अज्ञात बदमाशों के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर मामले को जांच में लिया है।

तत्काल नहीं हो पाई प्रतिमा की व्यवस्था
प्रतिमा के क्षतिग्रस्त होने के बाद मौके पर प्रदर्शन कर रहे लोगों ने प्रशासन ने शाम 4 बजे तक बाबा साहेब की प्रतिमा लगाने की मांग की। इसके बाद प्रशासनिक अधिकारियों ने बाबा साहेब की प्रतिमा को लेकर आसपास के शहरों में भी जानकारी जुटाई, लेकिन कहीं पर बाबा साहेब की प्रतिमा तैयार नहीं थी। इसके चलते प्रशासन ने जल्द से जल्द प्रतिमा की व्यवस्था कर स्थापित कराने की बात कही। इसके साथ ही प्रशासनिक अधिकारियों ने इस स्थल पर सीसीटीवी कैमरे लगाने के लिए भी ग्रामीणों को आश्वस्त किया।

Show More
Lalit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned