शहर में आज से शुरू होगा इन जुलूसों का सिलसिला, पुलिस मुस्तैद

शहर में आज से शुरू होगा इन जुलूसों का सिलसिला, पुलिस मुस्तैद

Lalit Saxena | Publish: Sep, 16 2018 07:45:00 AM (IST) Shajapur, Madhya Pradesh, India

मोहर्रम: 6 दिन तक जारी रहेगा जुलूसों का दौर, १९ और २१ को निकलेंगे बड़े साहब के जुलूस


शाजापुर. मोहर्रम का चांद दिखने के बाद से ही पर्व की शुरुआत हो गई। मुस्लिम समाज द्वारा मोहर्रम अंतर्गत निकलने वाले जुलूसों का सिलसिला रविवार से शुरू होगा। १६ से २१ सितंबर जुलूसों का दौर जारी रहेगा।
मोहर्रम कमेटी सरपरस्त बाबूखान खरखरे और शेख शमीम के मुताबिक मोहर्रम पर्व के मौके पर १६ सितंबर रविवार को दोपहर ढाई बजे पायगा की बुर्राक का जुलूस निकाला जाएगा, जो किला रोड, चौक बाजार, मीरकला बाजार होते हुए बादशाही रोड़ पहुंचेगा। इसके बाद रात ९ बजे से मोहल्ला जुगनवाड़ी से दो दुलदुल, मुगलपुरा और मोमनवाड़ी से एक-एक दुलदुल, दायरा से जर की बुर्राक के जुलुस निकाले जाएंगे। जुलूस में सभी मोहल्लों के अखाड़े और बाजे शामिल होंगे। इस दौरान कईस्थानों पर शबिल भी भरी जाएगी।
अलम के बाद निकलेंगे बड़े साहब
मोहर्रम की आठ तारीख २९ सितंबर को मनिहारवाड़ी से अलम का जुलुस दोपहर ढाई बजे शुरू होगा। जो बस स्टैंड, मगरिया चौराहा, सोमवारिया बाजार, चौक बाजार, किला रोड होते हुए पुन: मनिहारवाडी पहुंचेगा। जिसमें शहर के सभी अखाड़े शामिल होंगे। इसी दिन रात ८ से पिंजारवाड़ी के दुलदुल का जुलुस निकाला जाएगा। वहीं रात १० बजे बाद एशिया के सबसे बड़े दुलदुल बड़े साहब का जुलुस हुसैनी चौक से प्रारंभ होगा, जो आजाद चौक, सिंधी मार्केट, मीरकला, पिंजारवाड़ी, किला रोड होता हुआ वापस छोटे चौक में अपने स्थान पर पहुंचेगा। इस जुलुस में शहर के अलावा आसपास जिलों के अखाड़े भी शामिल होगें।
मशाल जुलूस के बाद निकालेंगे ताजिये
मोहर्रम की ९ तारीख २० सितंबर गुरुवार को रात १० बजे बाद नाल साहब की सवारी मशाल जुलूस के रूप में निकाली जाएगी। जिसमें शहर के तमाम अखाड़ों के साथ मशाले जुलूस में शामिल होंगी। दो घंटे निकलने वाली इस सवारी को देखने के लिए हजारों लोग पहुंचते हैं। इसके बाद ताजियों और दुलदुल के जुलूस निकाले जाएंगे।
कर्बला का जुलूस २१ सितंबर को
मोहर्रम की दस तारीख २१ सितंबर को दोपहर ढाई बजे से कर्बला का जुलुस दायरा से शुरू होगा। जो बादशाही पुल स्थित करबला पहुंचेगा, जहां ताजियों को ठंडा किया जाएगा। रात ९ बजे से दुलदुल व बुर्राकों का जुलुस निकाले जाएंगे। वहीं रात ११ बजे से बड़े साहब का जुलूस निकाला जाएगा।

Ad Block is Banned