Train Accident की रिपोर्टिंग कर रहे पत्रकार को पुलिस ने दौड़ा-दौड़ा कर पीटा, हिरासत के दौरान मुंह में पेशाब करने का भी आरोप- देखें वीडियो

Nitin Sharma | Updated: 12 Jun 2019, 03:25:36 PM (IST) Shamli, Shamli, Uttar Pradesh, India

मुख्य बातें

  • जीआरपी इंस्पेक्टर और कांस्टेबल ने कवरेज कर रहे पत्रकार को पीटा
  • हवालात में डालकर अमानवीय कृत्य करने का आरोप
  • वीडियों सामने आने पर इंस्पेक्टर और कांस्टेबल को किया गया सस्पेंड
  • पटरी से ट्रेन उतरने पर कवरेज करने गया था पत्रकार

शामली। यूपी के शामली में पटरी से उतरी मालगाड़ी की कवरेज के दौरान पत्रकार की पिटाई का वीडियो सामने आने के बाद जीआरपी एसएचओ और एक कांस्टेबल को निलंबित कर दिया गया है। आरोप है कि इन दोनों पुलिसकर्मियों ने रिपोर्टिंग पर पहुंचे पत्रकार के साथ बदसलूकी और मारपीट की। पत्रकार के विरोध करने पर पुलिसकर्मियों ने उसका कैमरा तोडऩे के साथ ही हवालात में बंद कर अमानवीय कृत्य किया। जिसके बाद बुधवार सुबह से ही जिले के पत्रकारों ने अधिकारियों के खिलाफ प्रदर्शन किया।

nn

खबर की कवरेज के लिए गया था पत्रकार

जानकारी के अनुसार मंगलवार रात शामली के धीमानपुरा फाटक के पास ट्रैक बदलने के दौरान चलती मालगाड़ी पटरी से उतर गई थी। इसकी जानकारी लगते ही पत्रकार उसकी कवरेज करने पहुंचे। आरोप है कि जीआरपी एसएचओ और कांस्टेबल ने पत्रकार अमित शर्मा के साथ बदसलूकी की। विरोध करने पर सादी वर्दी में मौजूद जीआरपी प्रभारी और कांस्टेबल ने गाली गलौच और मारपीट शुरू कर दी। साथ ही मीडियाकर्मियों का माइक भी छीन लिया। इसके बाद पुलिसकर्मी पत्रकार को लेकर थाने पहुंचे। जहां उसे हवालात में बंद कर दिया। पत्रकार का आरोप है कि यहां पुलिसकर्मियों ने पिटाई कर मुंह में पेशाब किया। इस दौरान दूसरे पुलिसकर्मियों ने उसे पकड़ लिया था। इतना ही नहीं पत्रकार को यहां रात भर हवालात में रखा गया। पिटाई की घटना का विडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है। जिसके बाद से यह मामला चर्चा में आने के साथ ही उच्च अधिकारियों तक पहुंचा।

 

protest

धरने पर बैठे पत्रकार तो आरोपी पुलिसकर्मियों को किया गया सस्पेंड

वहीं इस मामले को लेकर शामली में बुधवार सुबह पत्रकार आरोपी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर धरने पर बैठ गये। उधर मामले की जानकारी लगते ही डीजीपी के आदेश पर जीआरपी प्रभारी और कांस्टेबल को सस्पेंड कर दिया गया। वहीं पत्रकारों ने आरोपी इंस्पेक्टर और कांस्टेबल के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कड़ी कार्रवाई की मांग कर रहे है।

nn

पिटाई में यह वजह भी आ रही सामने

वहीं चर्चा है कि कुछ दिन पहले ही पत्रकार अमित शर्मा ने एक खबर की थी। इसमें उन्होंने जीआरपी इंस्पेक्टर और कांस्टेबल के उगाही का पर्दाफाश किया था। आरोप है कि तभी से इंस्पेक्टर पत्रकार से रंजिश रख रहे थे। जिसके बाद मंगलवार को ट्रैन के पटरी से उतरने के दौरान कवरेज करने आए पत्रकार के साथ उन्होंने मारपीट ही नहीं बल्कि हवालात में बंद कर दियां। इसका वीडिया सोशल मीडिया पर वायरल हो चला है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned