पहले ढाबे पर तोडफ़ोड़, फिर घर पर पथराव

पांच थानों की पुलिस ने संभाले उत्पाती, 19 हुए नामजद

First vandalized the dhaba, then stone pelting at home, news in hindi, mp news, sheopur news

By: संजय तोमर

Published: 11 Jun 2021, 11:32 PM IST

वीरपुर . ढाबे पर खाना खाने के बाद पैसे न देने की बात पर हुए विवाद ने इतना तूल पकड़ा कि पुलिस को विवाद पर काबू पाने के लिए आंसू गैस के गोले छोडऩे पड़े। दरअसल ढाबे पर खाना खाने के बाद पैसे न देने को लेकर आरोपियों ने ढाबे पर तोडफ़ोड़ की। इसके बाद ढाबा संचालक के पांचों कॉलोनी स्थित घर पर एक सैंकड़ा से अधिक लोगों ने पहुंचकर मारपीट व पथराव किया। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची, लेकिन उत्पात करने वालों की संख्या ज्यादा होने के कारण रघुनाथपुर, विजयपुर, ओछापुरा, वीरपुर थाने का बल मौके पर बुलाना पड़ा। भीड़ को तितर बितर करने के लिए पुलिस को आंसू गैस के दो गोले छोडऩे पड़े। वीरपुर पुलिस ने इस मामले में १९ नामजद समेत ३५ से ४० अन्य लोगों के खिलाफ एफआइआर दर्ज की है। इतना ही नहीं सुबह के समय पुलिस लाइन और गसवानी थाने का बल भी पांचों कॉलोनी पहुंच गया था।

वीरपुर थाना क्षेत्र के गांव पांचों कॉलोनी स्थित गोपाल सिंह पुत्र श्रीकृष्ण जादौन के ढाबे पर कुछ लोगों ने खाना खाया। खाना खाने के बाद ढाबा संचालक ने उनसे पैसे मांगे तो उन्होंने पहले दाल खराब होने का बहाना बनाया। साथ ही पैसे देने से इनकार कर दिया। ढाबा संचालक गोपाल सिंह ने जब पैसे देने का दबाव डाला तो वह लोग विवाद करने लगे। मुंहबाद के बाद मामला शांत हो गया, लेकिन रात करीब १० बजे एक सैंकड़ा से अधिक लोग आए और पहले ढाबे पर उत्पात मचाया फिर ढाबा संचालक के घर पहुंचकर पथराव किया। लाठी डंडे और फरसे लेकर पहुंचे लोगों को देखकर कॉलोनी के लोगों ने पुलिस को फोन कर दिया। पुलिस मौके पर पहुंची, लेकिन उत्पात करने वाले लोगों की संख्या अधिक थी। ऐसे में वीरपुर थाना प्रभारी नरेन्द्र सिंह राजपूत ने उनको समझाने का प्रयास किया, लेकिन जब वह लोग नहीं माने तो आंसू गैस के गोले छोडक़र भीड़ को भगाया।

इन पर दर्ज हुआ मामला
गोपाल सिंह की रिपोर्ट पर उदय, हाकिम, भोलू निवासी गोहर, हाकिम, श्रीफल, धु्रव, उत्तम निवासी पौरियापुरा, पवन, फोतूलाल निवासी चकचान खान, पवन, दुर्गेश, अंकुश, कजल, पवन, उदय, उत्कृष्ण निवासी तेलीपुरा, हरिदास निवासी भैरुपुरा, दशरथ निवासी डिमरसा कल्ला निवासी साथेर के अलावा ३५ से ४० अन्य लोग सभी जाति मीणा पर धाराएं 3३6, 452, 456, 427, 506, 147, 149 के तहत मामला दर्ज किया गया। इसके साथ ही मारपीट का मामला ढाबा संचालक के खिलाफ भी दर्ज हुआ है।

कुछ लोगों ने ढाबे पर हुए विवाद के बाद ढाबा संचालक के घर पहुंचकर भी विवाद किया। भीड़ अधिक होने के कारण आंसू गैस के गोले का उपयोग किया गया। जिससे भीड़ तितर बितर हुई। इस मामले में एफआइआर की गई है।
संपत उपाध्याय,एसपी श्योपुर

संजय तोमर Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned