scriptGiving message of cleanliness by painting, incomplete and unusable pre | रंग रोगन कर स्वच्छता का दे रहे संदेश, अधूरे और अनुपयोगी परिसर | Patrika News

रंग रोगन कर स्वच्छता का दे रहे संदेश, अधूरे और अनुपयोगी परिसर

- सामुदायिक स्वच्छता परिसरों की पुताई कर निर्माण पूरा दिखाने की कोशिश
- लक्ष्य के अनुसार नहीं बन पाए सामुदायिक स्वच्छता परिसर

श्योपुर

Published: May 10, 2022 06:37:45 pm

अनूप भार्गव/श्योपुर
निजी शौचालय के नाम पर गुमराह करने के बाद सामुदायिक स्वच्छता परिसर में भी मनमानी की जा रही है।स्वच्छता अभियान के तहत करीब 3 लाख 43 हजार के स्वच्छता परिसर बनाए जाने थे, लेकिन ज्यादातर पंचायतों में यह अधूरे पड़े हैं। वहीं कई जगह पुताई कर निर्माण पूरा दिखाने की कोशिश की गई है। स्वच्छता परिसर पर बहार से रंग-रोगन कर स्वच्छता के संदेश लिखे गए हैं लेकिन वर्तमान स्थिति में शौचालय अधूरे और अनुपयोगी पड़े हुए है।
शौचालयों का बहारी रंग-रोगन दिखाकर निर्माण पूरा होना बताने की कोशिश की जा रही है। वहीं प्रधानमंत्री और सरकार को स्वच्छता अभियान के नाम पर गुमराह करने का कार्य किया जा रहा है। कई ग्राम पंचायत में सामुदायिक स्वच्छता परिसर के अंदर, प्लास्टर, नल फिटिंग, पानी टंकी, फर्श, शौच एक पेशाब घर की सीट, लाइट फिटिंग, अंदर का रंग-रोगन, ड्रेनेज लाइन जैसे काम अब भी नही हुए है। इसके बाद भी जिम्मेदार अधिकारी चुप्पी साधकर बैठे हैं।
रंग रोगन कर स्वच्छता का दे रहे संदेश, अधूरे और अनुपयोगी परिसर
रंग रोगन कर स्वच्छता का दे रहे संदेश, अधूरे और अनुपयोगी परिसर
गांवों में स्वच्छता बनी रहे है इनका उद्देश्य
हर परिसर की करीब लागत 3 लाख 43 हजार रुपए निर्धारित है। ग्रामीण क्षेत्रों में हाट बाजार, मेला सहित अन्य होने वाले सार्वजनिक कार्यक्रमों में लोगों को सुविधा मिले और गांवों में स्वच्छता बनी रहे इसी उद्देश्य से सामुदायिक स्वच्छता परिसर बनाए जा रहे हैं। स्वच्छता परिसरों की देखरेख पंचायतों को ही करना है। स्वच्छता परिसरों का यदि कोई सार्वजनिक आयोजन के दौरान उपयोग करेगा तो उससे एक निश्चित राशि भी पंचायत ले सकेगी। हालांकि यह सब ग्राम पंचायतों को ही तय करना है।
जिम्मेदार कर रहे अनदेखी
स्वच्छता परिसरों को देखा जाए तो कुछ जगह इनका निर्माण व्यवस्थित तो कुछ जगह निर्माण में लापरवाही की जा रही है। इनकी गुणवत्ता पर भी जवाबदारों का ध्यान नहीं है। कुछ जगह तो निर्माण पूरा हुए बिना ही कलर कर दिया गया है। बाहर से निर्माण पूरा होने का दिखावा किया जा रहा है। जबकि परिसर के अंदर दरवाजे और प्लास्टर का काम सहित अन्य काम अधूरे देखे जा सकते हैं।
फैक्ट फाइल
जनपद पंचायत लक्ष्य कुल स्वीकृत निर्मित प्रगतिरत
श्योपुर 88 58 4 54
विजयपुर 68 28 2 26
कराहल 42 19 4 15
कुल= 198
स्वीकृत: 105
निर्मित: 10
प्रगतिरत: 95
इनका कहना है
अभी में बाहर हूं इसलिए कुछ भी नहीं बता सकता।
जीएस ढोंगरे, जिला समन्वयक, स्वच्छ भारत मिशन, जिला पंचायत

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

धन को आकर्षित करती है कछुआ अंगूठी, लेकिन इस तरह से पहनने की न करें गलतीज्योतिष: बुध का मिथुन राशि में गोचर 3 राशि के लोगों को बनाएगा धनवानपैसा कमाने में माहिर माने जाते हैं इस मूलांक के लोग, तुरंत निकलवा लेते हैं अपना कामजुलाई में चमकेगी इन 7 राशियों की किस्मत, अपार धन मिलने के प्रबल योगडेली ड्राइव के लिए बेस्ट हैं Maruti और Tata की ये सस्ती CNG कारें, कम खर्च में देती हैं 35Km तक का माइलेज़ज्योतिष: रिश्ते संभालने में बड़े कच्चे होते हैं इस राशि के लोगजान लीजिए तुलसी के इस पौधे को घर में लगाने से आती है सुख समृद्धिहाथ में इन निशान का होना मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होने का माना जाता है संकेत

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: फ्लोर टेस्ट के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट पहुंची शिवसेना, संजय राउत बोले-विशेष सत्र बुलाना कानून के मुताबिक नहींMaharashtra Political Crisis: 30 जून को फ्लोर टेस्ट के लिए मुंबई वापस पहुंचेगा शिंदे गुट, आज किए कामाख्या देवी के दर्शनMumbai News Live Updates: फ्लोर टेस्ट के खिलाफ शिवसेना की अर्जी सुप्रीम कोर्ट में मंजूर, आज ही होगी सुनवाईनवीन जिंदल को भी कन्हैया लाल की तरह जान से मारने की मिली धमकी, दिल्ली पुलिस से की शिकायतUdaipur Kanhaiya Lal Murder: बैकफुट पर गहलोत सरकार, अब मंत्री बोले, 'ऐसे लोगों को ठोके पुलिस' और दी जाए 'फांसी'Udaipur Murder Case: राजस्थान में एक माह तक धारा 144, पूरे उदयपुर में कर्फ्यू, जानिए अब तक की 10 बड़ी बातेंअमरनाथ यात्रा 2022 : जम्मू से कड़ी सुरक्षा के बीच श्रद्धालुओं का पहला जत्था रवानानुपुर शर्मा के सपोर्टर की उदयपुर में हत्या के बाद हाई अलर्ट पर UP, अफसरों को सतर्क रहने के निर्देश
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.