पानी समस्या से जूझ रहे आधा सैंकड़ा आदिवासी परिवारों ने घेरी जनपद

- जनपद सीईओ से बोलीं महिलाएं..साहब आप के पड़ोसी हैं, फिर भी एक किमी दूर से पानी लाकर पी रहे

By: Anoop Bhargava

Updated: 30 Jun 2020, 10:38 AM IST

कराहल
कराहल जनपद से सटी आदिवासी इंद्रा कलोनी के आधा सैंकड़ा परिवारों ने सोमवार को जनपद सीईओ कार्यालय का घेराव किया। बच्चों सहित जनपद सीईओ कार्यालय पहुंचे आदिवासी परिवार की महिलाएं जनपद सीईओ से बोलीं..साहब हम सभी आपकी जनपद के पड़ोसी हंै। फिर भी एक किलोमीटर दूर जाकर पानी लाना पड़ रहा है। महीनों से नल नहीं आ रहे हैं। जब कभी आते भी हैं तो लाल गेरुआ पानी निकलता है। बस्ती में लगे एक मात्र हैंडपंप का पानी बदबूदार है। हैंडपंप का पानी नहाने और कपड़ा धोने के काम का भी नहीं है। ऐसे में पीने के पानी के लिए एक से ढेड़ किमी दूर बाजार तक जाना पड़ रहा है। पानी के लिए हर दिन भटकना पड़ता है। सीईओ एसएस भटनागर ने समस्या को गंभीरता से सुन समस्या निराकरण का आश्वासन दिया।

इंद्रा कॉलोनी के आधा संैकड़ा आदिवासी परिवार पानी की समस्या को लेकर ग्राम पंचायत के सचिव और सरपंच को कई दफा शिकायत कर चुके हैं इसके बाद भी समस्या का समाधान नहीं हो सका। यही वजह है कि सोमवार को आदिवासी परिवार जनपद पंचायत कराहल के जनपद कार्यालय पर प्रदर्शन करने पहुंच गए। कार्यालय का घेराव कर जनपद सीईओ एसएस भटनागर को अपनी व्यथा सुनाते हुए आदिवासी महिलाओं ने कहा कि महीनों से बंद नलों के नहीं आने की काफी बार शिकायत की, लेकिन हमारी सुध किसी ने नहीं ली। जनपद सीईओ एसएस भटनागर ने लोगों की समस्या सुनकर सचिव को फोन लगाकर शाम तक समस्या का हल कराने का आश्वाशन दिया।
महिलाओं ने कहा..बुलाओ सरपंच को कितनी बार की शिकायत
कराहल जनपद का घेराव करने के दौरान आदिवासी महिलाएं सरपंच को बुलाने पर अड़ गई। उन्होंने कहा कि हम जनपद सीईओ को बाद में शिकायत करेंगे, पहले सरपंच को बुलाओ। उनका कहना था कि पेयजल संकट को लेकर कई बार ग्राम पंचायत सरपंच को अपनी समस्या से अवगत करा चुके हैं। लेकिन महीनों से समस्या जस की तस नहीं हुई है। इसलिए आज हमें यहां आना पड़ा। सरपंच से नाराज महिलाओं ने जनपद सीईओ से जमकर विवाद किया उन्होंने कहा कि अगर आप भी हमारी समस्या का समाधान नहीं कर सकते तो बताओ। हम कलेक्टर के पास जाएं।

Anoop Bhargava Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned