सहायक समिति प्रबंधक की मौत से गुस्साए परिजन ने मचाया हंगामा

पूर्व प्रशासक व एक प्रबंधक की प्रताड़ता के फेर में गई जान, मामले की जांच कर कार्रवाई की मांग

By: हुसैन अली

Published: 23 Feb 2021, 11:44 PM IST

पिछोर. जिले के पिछोर स्थित जिला सहकारी एवं केन्द्रीय मर्यादित बैंक में एक मृत कर्मचारी के परिजनो ने हंगामा खड़े करते हुए पिछोर के पूर्व प्रशासक व एक अन्य सहायक समिति प्रबंधक के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। परिजनो का कहना है कि इन दोनो की प्रताडऩा के चलते उनके परिवार के मुखिया की जान गई है।

जानकारी के अनुसार 26 जनवरी को पिछोर में स्थित जिला सहकारी केंद्रीय मर्यादित बैंक में सहायक समिति प्रबंधक के पद पर कार्यरत संजय उर्फ संजू (४०)पुत्र प्रेम नारायण भार्गव की ह्रदय घात से मौत हो गई। कुछ दिन बाद परिजनों को कुछ कागज प्राप्त हुए जिससे पता चला कि पिछोर के पूर्व प्रशासक राकेश चौहान व सहायक समिति प्रबंधक वेद प्रकाश गुप्ता ने फर्जी दस्तावेज तैयार कर संजय को प्रबंधक के पद से हटाते हुए कमालपुर पदस्थ कर दिया था जिससे वह परेशान था और डिप्रेशन में होने के कारण उसकी हृदयघात से मौत हो गई।

चूंकि मर्यादित बैंक में मंगलवार को जिले से डीआर आने वाले थे, इसको लेकर संजय के परिजन बैंक पहुंचे थे और वह डीआर से मिलकर मामले में शिकायत दर्ज कराकर दोनो कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग करने आए थे। इधर डीआर पिछोर में बस स्टैण्ड तक आ गए लेकिन जब उनको इस मामले की सूचना मिली कि मर्यादित बैक में कर्मचारी संजय का परिवार उनके मिलने के लिए बैठा है तो वह पिछोर से वापस शिवपुरी चले गए।

कर्मचारी की पत्नी व अन्य ने लगाए आरोप

मृतक संजय की पत्नी मंजेश ने आरोप लगाते हुए कहा कि समिति प्रबंधक वेद प्रकाश गुप्ता व तत्कालिक सहकारिता प्रशासक राकेश चौहान की प्रताडऩा के चलते संजय की मौत हुई है। यह दोनो मिलकर उसे कई दिनो से परेशान कर रहे थे ओर इसी कारण से संजय काफी मानसिक तनाव में था और हार्ट अटैक से उसकी मौत हो गई। बताया जा रहा है कि मर्यादित बैंक में संजय के परिजन वेद प्रकाश गुप्ता से भी उलझ गए। इस पूरे मामले में संजय के परिजनो ने मांग की है कि अगर इन दोनो पर कार्रवाई नही की गई तो वह आमरण अनशन पर बैठेंगे।

हुसैन अली
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned