नपा परिसर में खड़ीं फायरब्रिगेड, कागजों में हो रहा शहर सेनेटाइज

नगर पालिका शहर को प्रत्येक दिन सेनेटाइज कराने का दावा कर रही है, परंतु वास्तविकता यह है कि नपा की गाडिय़ां कहीं भी कोई सेनेटाइज नहीं कर रही हैं। इस बात का खुलासा गुरूवार को उस समय हुआ जब शहर वासियों की शिकायत पर मामले की पड़ताल की गई।

By: Rakesh shukla

Published: 09 Apr 2020, 09:58 PM IST

शिवपुरी। नगर पालिका शहर को प्रत्येक दिन सेनेटाइज कराने का दावा कर रही है, परंतु वास्तविकता यह है कि नपा की गाडिय़ां कहीं भी कोई सेनेटाइज नहीं कर रही हैं। इस बात का खुलासा गुरूवार को उस समय हुआ जब शहर वासियों की शिकायत पर मामले की पड़ताल की गई।


शहर के कुछ लोगों ने बताया कि वह नपा प्रबंधन को उनके क्षेत्र में सेनेटाइजेशन के लिए फोन लगा रहे हैं, परंतु नगर पालिका का वाहन सेनेटाइजेशन के लिए नहीं आ रहा है। जब पत्रिका ने इस संबंध में जानकारी जुटाई तो नपा के विश्वसनीय सूत्रों ने बताया कि नपा के वाहनों से कहीं कोई सेनेटाइजेशन नहीं किया जा रहा है। इस पर पत्रिका ने गुरूवार की दोपहर मामले की पड़ताल शुरू की। दोपहर करीब एक बजे दोनों फायर बिग्रेड नगर पालिका परिसर में ही खड़ी हुई थीं। एम्बुलेंस के स्टाफ से जब इस संबंध में बात की गई तो स्टाफ का कहना था कि उन्होंने तो बस एक दिन सेनेटाइजेशन किया है जब बस स्टैंड और चौराहे वगैरह पर किया गया था। अब सुना है रविवार की रविवार सेनेटाइजेशन किया करेंगे। वहीं दूसरी ओर जब नपा के एचओ से इस संबंध में बात की गई तो उन्होंने बताया कि उनकी गाडिय़ां हर रोज शहर में सेनेटाइजेशन कर रही हैं।

आज भी पुरानी शिवपुरी में गाड़ी सेनेटाइजेशन के लिए गई है और एक शिकायत आई है वहां भी भिजवाएंगे। वहीं नपा में स्टाफ ने बताया कि आज फायरब्रिगेड कहीं नहीं गई। दो तरह के बयानों से यह तो स्पष्ट हो गया कि नपा द्वारा सिर्फ कागजों में ही सेनेटाइजेशन कराया जा रहा है। धरातल पर कोई सेनेटाइजेशन नहीं हो रहा है, विश्वसनीय सूत्र बताते हैं कि सेनेटाइजेशन के नाम पर नपा प्रबंधन बहुत बड़ा खर्च बताने वाला है, जिसकी किसी ने कल्पना भी नहीं की होगी।


ब्लीचिंग का घोल बता रहे सेनेटाइजर
नपा में दूसरा खेल आमजन को सेनेटाइजेशन के नाम पर बरगलाने का काम किया जा रहा है। स्टाफ से जब पूछा गया कि आप यह सेनेटाजर कैसे बना रहे हो तो पहले तो वहां मौजूद कर्मचारी बोला बाहर से एक दवा आई है, ब्लीचिंग के साथ उसे मिलाते हैं। जब नपा के एचओ से पूछा कि सेनेटाइजर किस तरह बनाते हैं तो उन्होंने बताया कि उन्हें सिविल सर्जन के यहां से बताया गया था कि पानी में ब्लीचिंग मिलाकर सेनेटाइज कर दो तो हम उससे सेनेटाइज कर रहे हैं, जबकि सिविल सर्जन ने इस पूरे मामले से अनभिज्ञता जताई। सीएस के अनुसार उनकी नपा के किसी भी अधिकारी से इस संबंध में कोई बात नहीं हुई।


मच्छर मर नहीं रहे, कैसे मरेगा कोरोना वायरस ?
नपा ने जिन क्षेत्रों में उक्त तथाकथित सेनेटाइजर से शहर के जिन जिन क्षेत्रों में सेनेटाइजेशन किया है, उन सभी क्षेत्रों के लोगों ने बताया कि नपा ने न जाने कैसे सेनेटाइजर से सेनेटाइजेशन किया है। इससे मच्छर तक नहीं मरे हैं, ऐसे में कोरोना वायरस आखिर कैसे मरेगा ?
बॉक्स

इनका कहना है
-हमें सिविल सर्जन के यहां से बताया गया है कि आप पानी में ब्लीचिंग मिलाकर सेनेटाइजर बना लो। उक्त सेनेटाइजर से शहर को सेनेटाइज किया जा सकता है। हमारी फायर बिग्रेड रोजाना शहर में सेनेटाइजेशन कर रही हैं। आज पुरानी शिवपुरी में सुरेंद्र रजक के वार्ड में भेजी है। अभी भी वार्ड नंबर 14 में भेजूंगा, वहां से शिकायत आई है। सेनेटाइजर बनाने के संबंध में हॉस्पिटल से सीएस ने गाइड लाइन बताई उसी हिसाब से हम सेनेटाइजर बना रहे हैं।
गोविंद भार्गव, एचओ नपा

हमने किसी को कोई गाइड लाइन सेनेटाइजर बनाने के संबंध में जारी नहीं की है और न ही इस संबंध में हमारी किसी से कोई बात हुई है।
डॉ पीके खरे, सिविल सर्जन

Corona virus
Rakesh shukla Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned